web analytics
Sun. Sep 25th, 2022

uric acid ki ramban dawa patanjali : अगर आप यूरिक एसिड की परेशानी से पीड़ित है और आप यूरिक एसिड की रामबाण दवा पतंजलि सर्च कर रहे है तो यह लेख आपके लिए लाभकारी साबित हो सकता है| यूरिक एसिड बढ़ने पर इंसान को काफी सारी परेशानियो का सामना करना पड़ सकता है, लेकिन यूरिक एसिड की रामबाण दवा पतंजलि (uric acid ki ramban dawa patanjali) के बारे में बताने से पहले हम आपको यूरिक एसिड की जानकारी उपलब्ध करा रहे है –

यूरिक एसिड क्या है

यह बात हम सभी भली भांति जानते ही है की इंसान के शरीर का निर्माण बहुत सारी कोशिकाओं और तंतुओं के द्वारा हुआ है| कोशिकाएं हमारे शरीर को चलाने में मदद करती है, शरीर में मौजूद महत्वपूर्ण अंग जैसे दिल, फेफड़े, दिमाग और किडनी इत्यादि सभी अंग अलग अलग रूप में काम करके शरीर को चलाते है| किडनी हमारे शरीर का महत्वपूर्ण अंग होता है क्योंकि शरीर में बनने वाले कैमिकल्स, खनिज और बेकार पदार्थों को छानकर यूरिन के द्वारा शरीर से बाहर निकालने में मददगार होती है, किडनी जो केमिकल्स बाहर निकालती है उनमे से एक यूरिक एसिड (uric acid) भी होता है| यूरिक एसिड शरीर में कम मात्रा में मौजूद होता है तो किडनी आसानी से उसे बाहर निकाल देती है लेकिन जब यूरिक एसिड अधिक मात्रा में बनने लगता है तो किडनी उसे बाहर निकालने में असमर्थ होती है|

क्या होता है यूरिक एसिड (uric acid)

यह तो सभी जानते है की यूरिक एसिड होता है लेकिन कया आप जानते है की आखिर यूरिक एसिड होता कया है, चलिए हम आपको बताते है की आखिर यूरिक एसिड होता कया है? दरसल यूरिक एसिड का निर्माण हाईड्रोजन, ऑक्सीजन और नाईट्रोजन इत्यादि तत्वों का मिश्रण होता है। यूरिक एसिड का रासयनिक सूत्र या आणविक सूत्र C5H4N4O3 होता है| जब हम भोजन करते है तो उस भोजन से अनेको पोषक तत्व हमारे शरीर में पहुँचते है, यूरिक एसिड भी भोजन से ही बनता है| जब तक शरीर में यूरिक एसिड सिमित मात्रा में बनता है तब तक किडनी उसे शरीर से बाहर निकालती रहती है, लेकिन जब यूरिक एसिड बहुत अधिक मात्रा में बनने लगता है तो इंसान को परेशानी होने लगती है|

शरीर में यूरिक एसिड का निर्माण कैसे होता है?

चलिए अब हम आपको बताते है की शरीर में यूरिक एसिड कैसे बनता है| शरीर में मौजूद प्यूरीन तत्व यूरिक एसिड का निर्माण करता है और प्यूरीन का निर्माण भोजन और मृत कोशिकाओं के द्वारा होता है|

पुरुष या महिला में यूरिक एसिड की सामान्य मात्रा कया होती है?

अधिकतर इंसानो के मन में यह सवाल होता है की आखिर यूरिक एसिड की कितनी मात्रा को नार्मल माना जाता है या शरीर में यूरिक एसिड कितना होना चाहिए| हालाँकि यूरिक एसिड की मात्रा का पता जाँच के बाद ही पता चलता है, यूरिक एसिड की जांच आप किसी भी लेब पर करवा सकते है| यूरिक एसिड की जाँच की रिपोर्ट भी जल्दी मिल जाती है यूरिक एसिड की मात्रा पुरुष और महिलाओ में अलग अलग होती है| अगर हम महिलाओ के शरीर की बात करें तो महिलाओ के शरीर में अगर यूरिक एसिड की मात्रा 6 mg / dL के आसपास है तो उसे यूरिक एसिड को सही माना जा सकता है और पुरुषो के शरीर में 7 mg / dL की मात्रा को उचित माना जाता है| यूरिक एसिड की सामान्य मात्रा की सही जानकारी आपको चिकित्सक के द्वारा बेहतर पता चल सकती है इसीलिए यूरिक एसिड की परेशानी होने पर चिकित्सक से सलाह जरूर लें|

यूरिक एसिड की रामबाण दवा पतंजलि, uric acid ki ramban dawa patanjali

अगर आप यूरिक एसिड की समस्या से परेशान है और आप अपनी इस परेशानी का इलाज पतंजलि में ढूंढ रहे है तो हम आपको यूरिक एसिड की रामबाण दवा पतंजलि के बारे में बता रहे है| यूरिक एसिड की रामबाण दवा को आप बाबा रामदेव की यूरिक एसिड की दवा या यूरिक एसिड के लिए बाबा रामदेव के नुस्खे के रूप में भी जान सकते है| पतंजलि के द्वारा निर्मित दवा पर काफी ज्यादा विश्वास किया जाता है हालाँकि विश्वास करना सही भी है क्योंकि पतंजलि के द्वारा निर्मित दवा काफी ज्यादा असरकारी होती है| यूरिक एसिड की रामबाण दवा पतंजलि का नाम है पतंजलि वातारि चूर्ण, पतंजलि की यूरिक एसिड की दवा का निर्माण सौंठ, विधारा, कुटकी, अश्वगंधा, सुरंजान और मेथी जैसी कई सारी जड़ी बूटियो के द्वारा किया जाता है| पतंजलि की यूरिक एसिड दवा का सेवन नियमित रूप से करने से जल्द आपको लाभ प्राप्त होता है, हालाँकि यूरिक एसिड की रामबाण दवा का पूर्ण लाभ लेने के लिए चिकित्सक से सलाह से ही दवा का सेवन करना चाहिए| यूरिक एसिड की रामबाण दवा को आप पतंजलि के स्टोर या ऑनलाइन भी खरीद सकते है|

हम आशा करते है की आपको हमारे लेख uric acid ki ramban dawa patanjali में दी गई जानकारी पसंद आई होगी लेकिन अगर आप यूरिक एसिड की रामबाण दवा पतंजलि (uric acid ki ramban dawa patanjali) के बारे में और अधिक जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो गूगल या बिंग पर लिखकर ( uric acid ki ramban dawa patanjali) सर्च करके और अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते है|

error: Content is protected by DCMA !!
टाइफाइड के लक्षण (typhoid symptoms in hindi) jaldi mote hone ki 5 best homeopathic dawa