web analytics
Sun. Sep 25th, 2022

बीपी लो के लक्षण दवा & घरेलू उपाय ( low bp treatment in hindi)  : लो ब्लड प्रेशर की समस्या बहुत ही आम हो गई है, लो ब्लड प्रेशर से पीड़ित इंसानो की संख्या भी काफी ज्यादा हो गई है| लो ब्लड प्रेशर को निम्न रक्तचाप या हाइपोटेंशन के नाम से भी जाना जाता है, लो ब्लड प्रेशर की समस्या से ग्रसित इंसान लो बीपी के लक्षण (bp low symptoms in hindi ), लो ब्लड प्रेशर के लक्षण (low blood pressure symptoms in hindi ), बीपी लो के घरेलू उपाय, ब्लड प्रेशर लो के घरेलू उपचार, बीपी लो की दवा, पतंजलि लो ब्लड प्रेशर मेडिसिन, लो ब्लड प्रेशर की गोली, लो ब्लड प्रेशर का रामबाण इलाज, लो ब्लड प्रेशर को जड़ से खत्म करने के उपाय इत्यादि सर्च करता है|

इस पेज में हम आपको लो ब्लड प्रेशर या लो बीपी के लक्षण, लो ब्लड प्रेशर कितना होता है, बीपी लो होने के नुकसान, बीपी लो के घरेलू उपाय, ब्लड प्रेशर लो के घरेलू उपचार, बीपी लो की दवा, पतंजलि लो ब्लड प्रेशर मेडिसिन, लो ब्लड प्रेशर की गोली इत्यादि की जानकारी उपलब्ध करा रहे है, चलिए लो ब्लड प्रेशर के रामबाण इलाज के बारे में जानने से पहले हम आपको लो ब्लड प्रेशर के बारे में जानकारी उपलब्ध करा रहे है –

Table of Contents

लो बीपी या लो ब्लड प्रेशर क्या होता है? (What is Low Blood Pressure in hindi ?)

आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में लो ब्लड प्रेशर की परेशानी का सामना काफी ज्यादा इंसान कर रहे है, आमतौर पर अगर किसी इंसान को चक्कर आने की परेशानी, आंखों के आगे अंधेरा छा जाना, हाथ पैर ठंडे पड़ना इत्यादि होने की वजह लो ब्लड प्रेशर भी हो सकती है लेकिन काफी इंसान ऐसे लक्षण को गंभीरता से नहीं लेते है। हालाँकि लो ब्लड प्रेशर की समस्या को भी हल्के में नहीं लेना चाहिए अगर लो बीपी का इलाज ना किया जाए तो कई बार इंसान को घातक परिणाम भुगतने पड़ सकते है|

लो ब्लड प्रेशर का नाम तो लगभग सभी जानते ही है लेकिन काफी इंसान ऐसे भी होते है जिन्हे यह नहीं पता होता है की लो ब्लड प्रेशर किसे कहते है? और लो ब्लड प्रेशर कया होता है? यह तो हम सभी जानते ही है की हमारे शरीर में मौजूद हृदय धमनियों के माध्यम से ब्लड को शरीर में अलग अलग हिस्सों में भेजता है, धमनियों में बहने वाले ब्लड को एक निश्चित दबाव की जरुरत होती है। जब दबाव कम हो जाता है तो इस स्थिति को लो ब्लड प्रेशर कहा जाता हैं। लो ब्लड प्रेशर से पीड़ित इंसान को यह पता होना भी बहुत जरुरी होता है की लो ब्लड प्रेशर होने पर क्या खाना चाहिए और लो बीपी में क्या नहीं खाना चाहिए।

लो बीपी का इलाज आप घरेलू नुस्खे (home remedies for high low) से भी कर सकते है, हम आपको लो ब्लड प्रेशर को जड़ से खत्म करने का उपाय या लो ब्लड प्रेशर के घरेलू उपाय (blood pressure normal karne ka tarika) की जानकारी उपलब्ध कराने से पहले लो बीपी होने के कारण और लो बीपी के लक्षण के बारे बताने जा रहे है। आयुर्वेद की माने तो निम्न रक्तचाप या लो ब्लड प्रेशर की परेशानी होने की वजह वात, पित्त और कफ दोष होते है, कुछ इंसानो में लो ब्लड प्रेशर होने पर कोई परेशानी नहीं होती है लेकिन कुछ इंसानो में लो ब्लड प्रेशर की समस्या होने पर काफी घातक परिणाम भी भुगतने पड़ जाते है इसीलिए लो ब्लड प्रेशर को कभी भी हल्के में नहीं लेना चाहिए|

निम्न रक्तचाप क्यों होता है? (Causes of Low Blood Pressure in hindi)

लो ब्लड प्रेशर का घरेलू उपाय जानने से पहले आपको लो ब्लड प्रेशर होने के कारणों के बारे में भी जानकारी होना बहुत जरुरी है क्योंकि अगर आपको लो ब्लड प्रेशर या लो बीपी होने के कारण की जानकारी होती है तो आप कुछ सावधानी रखकर अपनी इस परेशानी से बचाव कर सकते है और अगर आपको लो ब्लड प्रेशर होने के कारण के बारे पता होता है तो इलाज करने में आसानी हो जाती है, चलिए अब हम आपको लो बीपी होने के कारणों के बारे में जानकारी उपलब्ध कराते है –

  • किसी भी इंसान के शरीर में अगर खून की कमी हो जाती है तो इंसान को काफी सारी परेशानियो का सामना करना पड़ता है, खून की कमी होने की वजह से लो ब्लड प्रेशर की समस्या भी हो सकती है| जरूरत से ज्यादा रक्तदान करने वाले इंसानो में भी लो ब्लड प्रेशर की समस्या देखने को मिलती है|
  • लो ब्लड प्रेशर होने का कारण शारीरिक कमजोरी और पोषण की कमी भी होता है| किसी भी इंसान के शरीर में जब जरुरी पोषक तत्वों की कमी हो जाती है तो शरीर में कमजोरी और लाल रक्त कोशिकाओं का निर्माण पर्याप्त मात्रा में नहीं होता है, जिसकी वजह से लो ब्लड प्रेशर या लो बप की परेशानी हो सकती है|
  • अगर आप हृदय से सम्बंधित परेशानी से ग्रसित है तो आपको विशेष रूप से अपना ख्याल रखने की जरुरत है, ह्रदय से सम्बंधित रोग भी लो ब्लड प्रेशर होने का कारण होता है|
  • अगर किसी भी इंसान के शरीर में पानी की कमी हो जाती है तो पानी की कमी से कई सारी परेशानियो का सामना करना पड़ जाता है, पानी की कमी से स्वास्थ्य से जुड़ी समस्या जैसे बुखार, उल्टी, डायरिया और लो ब्लड प्रेशर इत्यादि हो सकती है|
  • जब कोई भी महिला गर्भवती होती है तो उसके शरीर में काफी बदलाव होते है, गर्भावस्था में महिला का लोड प्रेशर लो हो सकता है|
  • लो ब्लड प्रेशर होने का कारण दवा का सेवन भी हो सकता है| अगर आप हार्ट से सम्बंधित परेशानियो की दवा, हाई ब्लड प्रेशर की दवा, डिप्रेशन की दवा और पेनकिलर दवा का ज्यादा सेवन इत्यादि की वजह से ब्लड प्रेशर कम हो सकता है, अगर आप यौन शक्ति  बढ़ाने वाली दवा का सेवन करते है तो भी आपको लो बीपी की समस्या हो सकती है|
  • डिहाइड्रेशन की समस्या का सामना काफी इंसान करते है, अगर आप भी डिहाइड्रेशन की समस्या का सामना कर रहे है तो आपको भी लो ब्लड प्रेशर की समस्या हो सकती है| डिहाइड्रेशन में इंसान के शरीर में मौजूद आँतें सही से काम नहीं कर पाती है जिसका असर लिवर पर पड़ता है| डिहाइड्रेशन की वजह से शरीर के अंदर की नसे कमजोर होने लगती है जिसकी वजह से आपको लो ब्लड प्रेशर की समस्या हो सकती है|
  • आज के समय एसिडिटी की परेशानी काफी आम हो गई है, समय पर एसिडिटी की परेशानी का इलाज ना किया जाए तो इंसान को कई सारी परेशानियो का सामना करना पड़ सकता है|एसिडिटी की वजह से भी लो ब्लड प्रेशर की समस्या हो सकती है|

लो ब्लड प्रेशर के लक्षण – bp low symptoms in hindi

अगर आपको लो ब्लड प्रेशर के लक्षणों (bp low symptoms in hindi) के बारे में पता होता है तो आप निम्न रक्तचाप की समस्या का पता लगा सकते है| चलिए अब हम आपको लो ब्लड प्रेशर या लो बीपी के लक्षण के बारे में जानकारी उपलब्ध करा रहे है –

  • अगर आपको अचानक से चक्कर आने की समस्या हो रही है तो आप लो ब्लड प्रेशर की समस्या से पीड़ित हो सकते है, चक्कर आना लो बीपी का प्रमुख लक्षण (bp low symptoms in hindi) माना जाता है।
  • अगर आँखों के सामने धुंधलापन या चीजे साफ़ नहीं दिखाई दे रही है तो यह भी लो ब्लड प्रेशर या लो बीपी के लक्षण में शामिल है।
  • बिना किसी शारीरिक या मेहनत का किए बिना बिना आपको थकान महसूस हो रही है तो आप लो ब्लड प्रेशर की समस्या (bp low symptoms in hindi) से पीड़ित हो सकते है|
  • अगर आपको कमजोरी महसूस हो रही है तो आप लो बीपी की समस्या (bp low symptoms in hindi) से ग्रसित हो सकते है|
  • लो बीपी के लक्षण (low blood pressure symptoms in hindi) में शामिल है उलटी आना या जी मिचलाना।
  • लो ब्लड प्रेशर के लक्षण (low blood pressure symptoms in hindi) में शामिल है त्वचा का ठंडा होना।
  • लो बीपी के लक्षण अधिक पसीना भी होता है अर्थात अगर किसी इंसान को सामान्य से ज्यादा पसीना आ रहा है तो ज्यादा पसीना आने का कारण लो ब्लड प्रेशर (bp low symptoms in hindi) भी हो सकता है|
  • लो ब्लड प्रेशर होने का लक्षण सांस लेने में दिक्कत होना भी होता है, अगर आपको साँस लेने में दिक्कत हो रही है तो आप लो ब्लड प्रेशर की समस्या (bp low symptoms in hindi) से पीड़ित हो सकते है|

लो ब्लड प्रेशर के लिए घरेलू उपचार (Home remedies for Low Blood Pressure in hindi), low bp treatment in hindi

लो बीपी से पीड़ित इंसान बीपी लो की दवा या लो ब्लड प्रेशर की गोली का सेवन करने से बचना चाहता है, अधिकतर इंसान ब्लड प्रेशर लो के घरेलू उपचार या बीपी लो के घरेलू उपाय सर्च करता है, चलिए अब हम आपको ब्लड प्रेशर लो के घरेलू उपचार के बारे में जानकारी उपलब्ध करा रहे है –

ब्लड प्रेशर लो के घरेलू उपचार है कॉफी (low bp treatment in hindi)

अगर आप लो ब्लड प्रेशर की समस्या से पीड़ित है और आप लो ब्लड प्रेशर का तुरंत इलाज चाहते है तो कॉफ़ी आपके लिए बेहतर विकल्प साबित हो सकता है| कॉफी पीने से आपको बहुत जल्द आराम मिलता है, अगर आपका ब्लड प्रेशर अचानक से कम हो रहा है तो ऐसे में एक कप कॉफी पीने से लाभ प्राप्त होता है|

लो ब्लड प्रेशर का घरेलू इलाज है तुलसी (Tulsi : bp low treatment at home in hindi)

अगर आप लो ब्लड प्रेशर की समस्या से पीड़ित है और आप ब्लड प्रेशर लो के घरेलू उपचार या बीपी लो के घरेलू उपाय सर्च कर रहे है तो तुलसी आपके लिए बेहतरीन विकल्प साबित हो सकता है| तुलसी में मौजूद औषधीय गुण और पोटेशियम, मैग्नीशियम और विटामिन सी इत्यादि पोषक तत्व निम्न रक्तचाप या लो ब्लड प्रेशर की समस्या से राहत दिलाने में मददगार साबित होते है| सबसे पहले एक बर्तन में लगभग एक कप पानी गर्म होने के लिए रख दें, फिर उस पानी में 8 से 10 तुलसी की पत्तियां डाल दें, जब पानी अच्छी तरह उबल जाएं तब गैस बंद कर दें, पानी को कप में छान लें| छाने हुए पानी में थोड़ा सा निम्बू का रस डालकर अच्छी तरह से मिलाकर पी लें, नियमित रूप से इस उपाय को जल्द लाभ (low bp treatment in hindi) मिलता है|

लो ब्लड प्रेशर का घरेलू इलाज है किशमिश (low bp treatment in hindi)

किशमिश के बारे हम सभी भली भाँती जानते ही है, किशमिश हमारे शरीर के लिए लाभदायक होने के साथ साथ कई परेशानियो को दूर करने में सहायक होती है| लेकिन काफी कम लोग जानते है की किशमिश से लो ब्लड प्रेशर का इलाज भी किया जा सकता है, सबसे पहले एक कांच का बर्तन लेकर उसमे लगभग 100 ग्राम पानी डाल दें, फिर उस पानी में 50 ग्राम देशी चने और 10 ग्राम किशमिश को डालकर रात भर के लिए भीगा रहने दें| फिर अगली सुबह चनो और किशमिश को पानी में से निकालकर अच्छी तरह से चबा चबाकर खा लें फिर बचे हुए पानी को ऊपर से पी लें। नियमित रूप से किशमिश और चने का सेवन करने से जल्द लाभ मिलता है, इस नुस्खे को आप ब्लड प्रेशर लो के घरेलू उपचार या बीपी लो के घरेलू उपाय भी कह सकते है|

लो ब्लड प्रेशर की घरेलू दवा है छाछ (Buttermilk Beneficial for Low Blood Pressure in Hindi)

प्राचीन समय से छाछ का सेवन बहुत लाभकारी माना जाता है, छाछ पेट के लिए लाभकारी होने के साथ साथ कई सारी अन्य परेशानियो को भी दूर करने में सहायक होता है| लेकिन कई आप जानते है की छाछ लो ब्लड प्रेशर का इलाज करने में भी मददगार साबित होता है, सबसे पहले थोड़े से जीरे को तवे पर अच्छी तरह से भून लें, फिर महीन पीस कर चूर्ण बना लें| एक गिलास छाछ में स्वादनुसार नमक, थोड़ा सा भुना हुआ जीरा चूर्ण और थोड़ी सी हींग डालकर अच्छी तरह से मिलाकर पीने से लो ब्लड प्रेशर की समस्या से जल्द आराम प्राप्त होता है| छाछ को आप ब्लड प्रेशर लो के घरेलू उपचार या बीपी लो के घरेलू उपाय (low bp treatment in hindi) भी कह सकते है|

निम्न रक्तचाप की घरेलू दवा है दालचीनी (Cinnamon : low bp treatment in hindi
)

दालचीनी आपको आसानी से लगभग सभी घरो में मिल जाती है, दालचीनी का इस्तेमाल मसाले के रूप में किया जाता है, दालचीनी खाने का स्वाद बढ़ाने के साथ साथ शरीर के लिए भी लाभकारी मानी जाती है| दालचीनी में मौजूद औषधीय गुण और पोषक तत्व लो ब्लड प्रेशर की समस्या को समाप्त करने में मददगार साबित हो सकते है| सबसे पहले थोड़ी सी दालचीनी के टुकड़ें लेकर उनको महीन पीस कर चूर्ण बना लें, फिर नियमित रूप से सुबह और शाम थोड़ा सा दालचीनी चूर्ण का सेवन गर्म पानी के साथ करने से जल्द लाभ मिलता है| दालचीनी को ब्लड प्रेशर लो के घरेलू उपचार या बीपी लो के घरेलू उपाय (bp low treatment at home in hindi) के रूप में भी जाना जाता है|

लो ब्लड प्रेशर की रामबाण दवा है आंवला (bp low treatment at home in hindi)

आंवले में मौजूद औषधीय गुण और पोषक तत्व लो ब्लड प्रेशर की समस्या को समाप्त करने में मददगार साबित हो सकते है, अगर आप लो बीपी की समस्या से ग्रसित है और आपको चक्कर आने की शिकायत हो रही है तो आंवला आपका लिए लाभकारी है| अगर आप ब्लड प्रेशर लो के घरेलू उपचार या बीपी लो के घरेलू उपाय (low bp treatment in hindi) सर्च कर रहे है तो आंवला आपके लिए बेहतर विकल्प साबित हो सकता है| सबसे पहले एक या दो आंवले लेकर उनके टुकड़े करके बीज निकाल दें, फिर कटे हुए टुकड़ो को ग्राइंडर की मदद से पीसकर छान लें, छने हुए आंवले के रस में थोड़ा सा शहद मिलाकर सेवन करने से जल्द लाभ मिलता है, आप चाहे तो आंवले के मुरब्बे का सेवन भी कर सकते है|

लो बीपी का घरेलू इलाज है खजूर (Date Beneficial for Low Blood Pressure in Hindi)

यह बात तो हम सभी भली भांति जानते ही है की खजूर शारीरिक कमजोरी दूर करने के साथ साथ कई सारी परेशानियो को दूर करने में लाभकारी होता है लेकिन काफी कम इंसान जानते है की खजूर को ब्लड प्रेशर लो के घरेलू उपचार या बीपी लो के घरेलू उपाय के रूप में भी जाना जाता है| सबसे पहले एक गिलास दूध लेकर उसे गर्म होने रख दें उसके बाद चार से पांच खजूर लेकर उसका बीज निकाल कर दूध में दाल दें, दूध में उबाल आने दें थोड़ी देर उबलने दें उसके बाद गैस को बंद कर दें, हल्का गुनगुना रहने पर खजूर खा लें और ऊपर से बचा हुआ दूध पी लें| नियमित रूप से लो बीपी के घरेलू उपाए को करने से जल्द निम्न रक्तचाप की समस्या (low bp treatment in hindi) में राहत मिलती है|

निम्न रक्तचाप का घरेलू इलाज है अदरक (Ginger Beneficial in Low Blood Pressure in Hindi)

अदरक का उपयोग सभी घरो में चाय से लेकर सब्जी में किया जाता है, अदरक बहुत ज्यादा लाभकारी होता है, अदरक में मौजूद औषधीय गुण और पोषक तत्व लो बीपी का इलाज करने में सहायक होते है| सबसे पहले एक अदरक का टुकड़ा लेकर उसके छोटे-छोटे टूकड़े कर लें, फिर उन सभी टुकड़ो में थोड़ा सा नींबू का रस और सेंधा नमक मिलाकर किसी डब्बे या बर्तन में रख लें, फिर खाना खाने से 10 मिनट पहले एक या दो टुकड़ें खा लें, सुबह दोपहर शाम इस नुस्खे को करने से कुछ ही दिनों में लो ब्लड प्रेशर की समस्या से निजात मिल जाती है| अदरक को आप ब्लड प्रेशर लो के घरेलू उपचार या बीपी लो के घरेलू उपाय (low bp treatment in hindi) भी कह सकते है|

लो ब्लड प्रेशर की घरेलू दवा है टमाटर (Tomato Beneficial in Low Blood Pressure in Hindi)

शायद ही कोई घर हो जिसमे टमाटर का इस्तेमाल ना होता हो, सब्जी, चटनी, दाल से लेकर सलाद के रूप में टमाटर का उपयोग होता है| टमाटर खाने का स्वाद बढ़ाने के साथ साथ शरीर के लिए भी फायदेमंद होता है| अगर आप ब्लड प्रेशर लो के घरेलू उपचार या बीपी लो के घरेलू उपाय ढूंढ रहे है तो टमाटर आपके लिए बेहतरीन विक्ल्प साबित हो सकता है| एक या दो टमाटर का रस निकाल कर उसमे थोड़ा सा काली मिर्च पॉउडर और स्वादनुसार नमक डालकर अच्छी तरह से मिलाकर पिएँ, इस उपाए का रोजाना करने से कुछ ही समय में लो ब्लड प्रेशर की समस्या (low bp treatment in hindi) में लाभ मिलता है|

ब्लड प्रेशर लो की रामबाण दवा या इलाज है नमक (low bp treatment in hindi)

नमक का इस्तेमाल तो सभी घरो में होता ही है, नमक को आप लो ब्लड प्रेशर की रामबाण दवा भी कह सकते है| एक गिलास पानी में लगभग आधा चम्मच नमक डालकर अच्छी तरह से मिलाकर पीने से लो बीपी में तुरंत आराम मिलता है| दिन में दो से तीन बार पीने से बहुत जल्द लाभ मिलता है, जब लो ब्लड प्रेशर की समस्या में आराम (bp low treatment at home in hindi) मिल जाएं तब नमक के पानी का सेवन ना करें|

लो बीपी की घरेलू दवा है मुलेठी (bp low treatment at home in hindi)

मुलेठी का इस्तेमाल अधिकतर इंसान कफ या गले की परेशानियो को दूर करने के लिए करते है, लेकिन कया आप जानते है की मुलेठी लो ब्लड प्रेशर की समस्या से आराम दिलाने में सहायक होती है| मुलेठी में मौजूद औषधीय गुण और पोषक तत्व लो ब्लड प्रेशर की समस्या को समाप्त करने में मददगार साबित होते है| लगभग एक कप पानी को गर्म होने के लिए रख दें, फिर पानी में लगभग एक चम्मच मुलेठी पॉउडर डालकर उबलने दें जब पानी अच्छी तरह से उबाल जाएं तो गैस बंद कर दें, हल्का गुनगुना रहने पर पानी को कप में छान लें, फिर स्वादनुसार शहद डालकर अच्छी तरह से मिलाकर सेवन करने से जल्द लाभ मिलता है| मुलेठी को आप ब्लड प्रेशर लो के घरेलू उपचार या बीपी लो के घरेलू उपाय भी कह सकते है|

लो ब्लड प्रेशर का घरेलू इलाज है नींबू पानी (low bp treatment in hindi)

गर्मियों के मौसम में नींबू का पानी का सेवन सबसे ज्यादा किया जाता है, नींबू पानी हमारे शरीर के लिए काफी ज्यादा लाभकारी होता है| नींबू में मौजूद गुण लो ब्लड प्रेशर की समस्या से आराम दिलाने में सहायक होते है, सबसे पहले एक गिलास पानी लेकर उसमे आधा नींबू निचोड़ लें फिर स्वादनुसार नमक डालकर अच्छी तरह मिलाकर पी लें| लो ब्लड प्रेशर होने पर नींबू पानी पीने से जल्द आराम मिलता है| नींबू पानी को आप ब्लड प्रेशर लो के घरेलू उपचार या बीपी लो के घरेलू उपाय (bp low treatment at home in hindi) भी कह सकते है|

निम्न रक्तचाप की दवा है चुकंदर का रस (Beneficial in Low Blood Pressure in Hindi)

अगर आप लो ब्लड प्रेशर की समस्या से पीड़ित है और आप लो ब्लड प्रेशर को सामान्य बनाये रखने के लिए ब्लड प्रेशर लो के घरेलू उपचार या बीपी लो के घरेलू उपाय सर्च कर रहे है तो चुकंदर का रस आपके लिए फायदेमंद साबित होता है। नियमित रूप से सुबह और शाम चुकंदर का रस पीने से कुछ दिनों में लो ब्लड प्रेशर की समस्या (bp low treatment at home in hindi) से आराम प्राप्त होता है|

लो ब्लड प्रेशर कितना होता है ?

लो ब्लड प्रेशर का नाम तो सभी ने सुना होता है लेकिन काफी सारे इंसान यह नहीं जानते है की लो ब्लड प्रेशर कितना होता है, ऐसे इंसान लो बीपी कितना होता है? निम्न रक्तचाप कितना होता है? अगर आप भी यह नहीं जानते है की लो बीपी कितना होता है तो परेशान ना हो हम आपकी इस समस्या का समाधान करते है| यह तो आप जानते ही होंगे की ब्लड प्रेशर अपर और लोअर में मापा जाता है अगर किसी भी इंसान का अपर ब्लड प्रेशर 120 और लोअर ब्लड प्रेशर 80 है तो इसे सामान्य या नार्मल ब्लड प्रेशर माना जाता है|

लेकिन अगर किसी भी इंसान का अपर ब्लड प्रेशर 90 और लोअर ब्लड प्रेशर 60 होता है तो लो ब्लड प्रेशर कहा जाता है| इस स्थिति में पीड़ित को लो ब्लड प्रेशर की दवा या लो बीपी की गोली खाने की जरुरत होती है| लो ब्लड प्रेशर की दवा का सेवन डॉक्टर से सलाह लेने के बाद ही करना चाहिए कभी भी अपनी मर्जी से लो ब्लड प्रेशर की गोली का सेवन बिलकुल भी ना करें|

बीपी लो होने के नुकसान

ब्लड प्रेशर लो होने के नुक्सान भी काफी होते है, अगर कोई इंसान लो ब्लड प्रेशर की समस्या से पीड़ित है और वो समय पर लो बीपी का इलाज नहीं करवाता है तो उस इंसान को कई बार लो ब्लड प्रेशर की वजह से घातक परिणाम भी भुगतने पड़ सकते है| चलिए अब हम आपको लो ब्लड प्रेशर के नुक्सान के बारे में जानकारी उपलब्ध करा रहे है –

  • लो ब्लड प्रेशर का इलाज समय पर ना किया जाए तो लो बीपी शरीर के नर्वस सिस्टम और ब्रेन को डैमेज या नुक्सान पहुंचा है।
  • अगर कोई महिला गर्भवती है और उसका ब्लड प्रेशर लो हो रहा है और आप लो बीपी का उपचार नहीं करती है है तो लो ब्लड प्रेशर की वजह से स्टिल बर्थ की परेशानी भी हो सकती है|
  • लो ब्लड प्रेशर की वजह से स्ट्रोक, ब्रेन डिसऑर्डर और किडनी से सम्बंधित परेशानियो का भी सामना करना पड़ सकता हैं।
  • लो ब्लड प्रेशर में चक्कर आना आम बात है, अचानक से या चलते समय चक्कर आने की वजह से इंसान गिर जाता है, गिरने की वजह से कई बार काफी गंभीर चोट भी आ सकती है।
  • अगर इंसान लो ब्लड प्रेशर की समस्या से पीड़ित है तो कई बार पीड़ित को शॉक या सदमा भी पहुँच सकता है, सदमे की वजह से शरीर और शरीर के अंगो पर भी हानिकारक प्रभाव पड़ सकता है|

पतंजलि लो ब्लड प्रेशर मेडिसिन

अगर आप लो ब्लड प्रेशर की समस्या से पीड़ित है और आप लो बीपी की दवा पतंजलि,  पतंजलि लो ब्लड प्रेशर मेडिसिन, ब्लड प्रेशर लो की दवा पतंजलि, लो ब्लड प्रेशर की दवा पतंजलि में कौन सी है? पतंजलि लो ब्लड प्रेशर की मेडिसिन का नाम कया है? लो ब्लड प्रेशर के बाबा रामदेव के घरेलू उपाय, बाबा रामदेव के नुस्खे लो ब्लड प्रेशर के लिए इत्यादि सर्च कर रहे है तो हम आपको बता दें की पतंजलि लो ब्लड प्रेशर मेडिसिन कोई नहीं है| पतंजलि कम्पनी ने लो ब्लड प्रेशर के लिए कोई दवा नहीं बनाई है|

लेकिन आप पतंजलि द्वारा निर्मित अन्य दवाओं का सेवन करने से आप लो बीपी की समस्या से आराम प्राप्त कर सकते है| लो ब्लड प्रेशर की समस्या से छुटकारा प्राप्त करने के लिए पतंजलि के विशेषज्ञों से सलाह लेने के बाद ही पतंजलि दवा का सेवन करें इससे जल्द और पूर्ण लाभ प्राप्त होता है, चलिए अब हम आपको पतंजलि लो ब्लड प्रेशर मेडिसिन के बारे में जानकारी उपलब्ध कराते है –

  • पतंजलि अश्वगंधा चूर्ण, शतावर चूर्ण,  सफेद मूसली चूर्ण, कोंच के बीज और बला के बीज का सेवन करने से लो ब्लड प्रेशर की समस्या में आराम प्राप्त होता है, वैध से परामर्श लेने के बाद ही सेवन करें|
  • अष्टवर्ग पॉउडर का सेवन करने से भी लाभ प्राप्त हो सकता है|
  • पतंजलि अश्वशीला कैप्सूल का सेवन करने से लो ब्लड प्रेशर की समस्या में आराम प्राप्त होता है|

हम आशा करते है की आपको हमारा लेख ब्लड प्रेशर लो के घरेलू उपचार या बीपी लो के घरेलू उपाय (low bp treatment in hindi) में दी गई जानकारी पसंद आई होगी| अगर आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी कम लग रही है तो आप गूगल या बिंग पर ब्लड प्रेशर लो के घरेलू उपचार या बीपी लो के घरेलू उपाय (low bp treatment in hindi) लिखकर सर्च कर सकते है|

error: Content is protected by DCMA !!
टाइफाइड के लक्षण (typhoid symptoms in hindi) jaldi mote hone ki 5 best homeopathic dawa