web analytics
Sun. Sep 25th, 2022

kalonji ke fayde (nigella seeds in hindi) : nigella seeds को हिंदी में कलौंजी के नाम से जाना जाता है, कलौंजी दिखने में बहुत छोटी होती है, लेकिन यह औषधीय गुणों और पोषक तत्वों से भरपूर होती है| कलौंजी हमारे शरीर के लिए लाभदायक होने के साथ साथ कई सारी बीमारियो को दूर करने में भी सहायक होती है| चलिए अब हम आपको कलौंजी के फायदे और नुकसान के बारे में जानकारी उपलब्ध कराते है

Table of Contents

कलौंजी क्या है ? (what is nigella seeds in Hindi )

कलौंजी एक काले रंग का बीज होता है, कलौंजी के पौधे की लम्बाई लगभग 12 से 15 इंच की होती है| कलौंजी की खेती दक्षिण-पश्चिम एशिया में ज्यादा होती है कुछ जगहों पर कलौंजी को काला बीज के नाम से भी पुकारा जाता है| प्राचीन समय से कलौंजी का उपयोग जड़ी बूटी के रूप में होता आया है, कलौंजी का इस्तेमाल सब्ज़ी मे, सलाद, पुलाव और अन्य कई खाद्य पदार्थो में किया जाता है| कलौंजी में औषधीय गुण के साथ प्रोटीन, आयरन, सोडियम, पोटेशियम, फाइबर और कई सारे मिनरल्स प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं।

कलौंजी के फायदे, kalonji ke fayde, Benefits of nigella seeds in hindi

कलौंजी गुणों और पोषक तत्वों से भरपूर होने की वजह से इसके फायदे बहुत सारे होते है| चलिए अब हम आपको कलौंजी के फायदों के बारे में जानकारी उपलब्ध करा रहे है|

1 – त्वचा से सम्बंधित परेशानियो का इलाज करने में कलौंजी के फायदे

अगर आप त्वचा से सम्बंधित परेशानी जैसे रूखी त्वचा, मुहांसो, पिंपल्स और कील इत्यादि का सामना कर रहे है तो कलौंजी आपके लिए बेहतर विकल्प साबित हो सकता है| कलौंजी में मौजूद औषधीय गुण और पोषक तत्व त्वचा को स्वस्थ रखने के साथ साथ त्वचा से सम्बंधित परेशानियो को दूर करने में सहायक होते है| थोड़ी सी कलौंजी लेकर उन्हें पीसकर पेस्ट बना लें फिर उस पेस्ट में थोड़ा सा शहद लेकर अच्छी तरह से मिला लें, फिर इस मिश्रण को चेहरे पर अच्छी तरह से लगा लें| पेस्ट को लगभग 30 से 40 मिनट लगा रहने दें फिर ताजे पानी से धो लें नियमित रूप से ऐसा करने से जल्द आपको त्वचा से सम्बंधित परेशानी से छुटकारा मिलने के साथ साथ त्वचा साफ़ सुथरी और चमकदार भी बन जाती है|

2 – बाल झड़ने की समस्या को दूर करने में kalonji ke fayde

आज के समय में बाल झड़ने की परेशानी से पीड़ित लोगो की संख्या बहुत ज्यादा हो गई है, बाल झड़ने की परेशानी पुरुषो और महिलाओ दोनों में ही होती है| अगर आप भी बाल झड़ने की परेशानी से पीड़ित है तो कलौंजी आपके लिए लाभकारी साबित हो सकती है| कलौंजी (kalonji ke fayde) में मौजूद औषधीय गुण और पोषक तत्व बालो की जड़ो को मजबूती प्रदान करके बालो को झड़ने से रोकने में सहायक होते है| सबसे पहले थोड़े से कलौंजी के बीजो को थोड़े से पानी के साथ महीन पीस कर पेस्ट बना लें, फिर इस पेस्ट को बालो और बालो की जड़ो में अच्छी तरह से लगा लें, फिर इस पेस्ट को लगभग 40 से 50 मिनट तक लगा रहने दें फिर ताजे पानी से बालो को धो लें| सप्ताह में दो से तीन बार इस उपाए को करने से जल्द बाल झड़ने की परेशानी समाप्त हो जाती है|

3 – याददाश्त बढ़ाने में कलौंजी खाने के फायदे (kalonji ke fayde, Benefits of nigella seeds in hindi )

जैसे जैसे इंसान की उम्र बढ़ती चली जाती है वैसे वैसे इंसान की याददाश्त कमजोर होने लगती है, लेकिन अगर आपकी याददाश्त कम उम्र में कमजोर हो जाती है तो आपकी याद्दाशत बढ़ाने में कलौंजी खाने के फायदे देखे जा सकते है| कलौंजी में मौजूद औषधीय गुण और तत्व स्मरण शक्ति को बढ़ाने में मददगार साबित हो सकते है, थोड़ी सी कलौंजी को महीन पीसकर चूर्ण बना लें, फिर इस चूर्ण में से दो चुटकी चूर्ण को थोड़े से शहद में अच्छी तरह से मिलाकर सेवन कर लें| नियमित रूप से सुबह और शाम इस उपाय का सेवन सुबह और शाम करने से जल्द लाभ प्राप्य होता है| कलौंजी के फायदे (kalonji ke fayde) का जल्दी और पूर्ण लाभ लेने के लिए कलौंजी का सेवन वैध या चिकित्सक की सलाह से करें|

4 – अस्थमा की परेशानी में कलौंजी के फायदे

अस्थमा या खांसी की परेशानी को दूर करने एम् भी कलौंजी खाने के फायदे देखे जा सकते है| खांसी की परेशानी कभी भी किसी भी इंसान के साथ हो सकती है और आज के समय अस्थमा के रोग से पीड़ित इंसानो की संख्या भी काफी ज्यादा हो गई है तो अगर आप खांसी या स्थमा की परेशानी से पीड़ित है तो कलौंजी आपके लिए लाभकारी साबित हो सकती है| कलौंजी में मौजूद औषधीय गुण और पोषक तत्व खांसी और अस्थमा की परेशानी को समाप्त करने में मददगार साबित हो सकते है| नियमित रूप से कलौंजी (kalonji ke fayde) का सेवन करने से जल्द आपको लाभ प्राप्त होता है|

5 – ह्रदय से सम्बंधित परेशानियो को दूर करने में कलौंजी के फायदे

आज के समय अधिकतर इंसान ह्रदय से संबंधित परेशानी का सामना कर रहे है, अगर आप भी ह्रदय से सम्बंधित परेशानी का सामना कर रहे है या ह्रदय को स्वस्थ रखना चाहते है तो कलौंजी आपके लिए फायदेमंद साबित हो सकती है| कलौंजी में मौजूद पोषक तत्व और औषधीय गुण ह्रदय से सम्बंधित परेशानियो से छुटकारा दिलाने में सहायक साबित होते है| नियमित रूप से थोड़ी सी कलौंजी का सेवन गाय के दूध के साथ करने से जल्द लाभ (kalonji ke fayde) मिलता है|

6 – कोलेस्टॉल को नियंत्रित करने में कलौंजी के फायदे

कलौंजी के फायदे बढ़े हुए कोलेस्ट्रॉल की परेशानी को कम करने में सहायक साबित होते है, शरीर में ख़राब कोलेस्ट्रॉल की मात्रा बढ़ जाने से इंसान को हार्ट अटैक जैसी घातक परेशानियो का सामना करना पड़ सकता है| कलौंजी में औषधीय गुण और कई सारे ऐसे पोषक तत्व मौजूद होते है जो शरीर में अच्छे कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को बढ़ाने में और खराब कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को घटाने में सहायक साबित होते है| नियमित रूप से लगभग 2 ग्राम कलौंजी का सेवन करने से शरीर में जल्द अच्छे कोलेस्ट्रॉल की मात्रा बढ़ने लगती है|

7 – वजन घटाने में कलौंजी के फायदे

आज के समय में जंक फूड या असंतुलित भोजन या अन्य कारणों की वजह से इंसान का वजन बढ़ जाता है, ऐसे में इंसान अपने बढ़े हुए वजन को कम करने के लिए अलग अलग उपाय या तरीके को अपनाता है| अगर आप भी वजन को कम करना चाहते है तो कलौंजी आपके लिए एक बेहतर विकल्प साबित हो सकती है| कलौंजी में एंटी ओबेसिटी गुण और फाइबर जैसे पोषक तत्व प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं, नियमित रूप से कलौंजी का सेवन गर्म पानी के साथ करने से जल्द आपको आराम प्राप्त होता है| अगर आप वजन तेजी से काम करना चाहते है तो वैध या चिकित्सक की सलाह से कलौंजी (kalonji ke fayde) का सेवन करें|

8 – कैंसर से बचाव करने में कलौंजी के फायदे

किसी भी इंसान को जब कैंसर की परेशानी या कैंसर के लक्षण दिखाई देने लगते है तो इंसान बहुत ज्यादा परेशान हो जाता है| अधिकतर इंसानो को यह लगता है की कैंसर का इलाज नहीं हो सकता है हालाँकि आज के समय में कैंसर का इलाज संभव है| अगर आप भी अपने आपको कैंसर से बचाना चाहते है तो कलौंजी आपके लिए लाभकारी साबित हो सकती है, कलौंजी में एंटी ऑक्सीडेंट या औषधीय गुण और कुछ ऐसे पोषक तत्व मौजूद होते है जो कैंसर की कोशिकाओं को बढ़ने से या कैंसर की रोकथाम करने में मददगार साबित होते है| अगर आप आपने आपको कैंसर से बचाना चाहते है तो नियमित रूप से कलौंजी (kalonji ke fayde) का सेवन करें, लेकिन एक बात का ख्याल हमेशा रखें की कलौंजी का कैंसर का इलाज नहीं करती है| अगर आपको कैंसर के लक्षण दिखाई दें तो लापरवाही बिलकुल भी ना करें तुरंत डॉक्टर से परामर्श और इलाज कराएं|

9 – शुगर में कलौंजी के फायदे

आज के समय में अधिकतर महिला या पुरुष शुगर की समस्या से ग्रसित है, अगर किसी भी इंसान के शरीर में मौजूद ब्लड में शुगर की मात्रा कम हो जाती है तो ऐसे इंसान को लो शुगर की परेशानी से ग्रसित माना जाता है और अगर इंसान के शरीर में मौजूद ब्लड में शुगर की मात्रा अधिक हो जाती है तो इंसान को हाई शुगर की परेशानी से पीड़ित माना जाता है| कलौंजी में मौजूद औषधीय गुण और पोषक तत्व ब्लड में शुगर की मात्रा को नियंत्रित करने में मददगार साबित होते है| कलौंजी का सेवन नियमित रूप से करने से शुगर की मात्रा कम होने लगती है लेकिन हम आपको सलाह देंगे की शुगर की परेशानी में किसी वैध या डॉक्टर की सलाह से कलौंजी (kalonji ke fayde) का सेवन करने से जल्द और पूर्ण लाभ मिलता है|

10 – सफ़ेद पानी की समस्या में कलौंजी के फायदे

सफ़ेद पानी की समस्या से पीड़ित महिलाओ की संख्या बहुत ज्यादा हो गई है, महिलाओ में सफ़ेद पानी की परेशानी बहुत ही आम होती है| अगर आप भी सफ़ेद पानी की समस्या से पीड़ित है और आप इस समस्या का इलाज किसी घरेलु उपाय से करना चाहते है तो कलौंजी आपके लिए लाभकारी साबित हो सकती है| कलौंजी में मौजूद औषधीय गुण और पोषक तत्व सफ़ेद पानी की समस्या में आराम दिलाने में सहायक साबित हो सकते है| कलौंजी (kalonji ke fayde) का सेवन हल्के गर्म पानी के साथ करने से जल्द आराम मिलता है|

11 – पीरियड्स में होने वाली परेशानियो में कलौंजी के फायदे

अधिकतर महिलाओ में पीरियड्स के दौरान होने वाली परेशानी जैसे – पीरियड्स में दर्द होना, ब्लीडिंग ज्यादा होना इत्यादि का सामना करना पड़ सकता है| अगर आप भी पीरियड्स में होने वाली परेशानियो का सामना कर रही है तो कलौंजी आपके लिए लाभकारी साबित हो सकती है, कलौंजी में मौजूद औषधीय गुण और पोषक तत्व पीरियड्स में होने वाली परेशानियो को दूर करने में मददगार होते है| अगर आप भी पीरियड्स में होने वाली परेशानियो से मुक्ति पाना चाहते है तो कलौंजी (kalonji ke fayde) का सेवन पानी के साथ करने से आराम प्राप्त होता है|

12 – प्रसव के बाद कलौंजी खाने के फायदे

प्रसव की स्थिति के बाद किसी भी महिला का जीवन काफी बदल जाता है, ऐसे समय में महिला के खाने पीने का खास ख्याल रखा जाता है| प्रसव की वजह से महिला के शरीर में काफी कमजोरी आ जाती है, ऐसी स्थिति में कलौंजी आपके लिए लाभकारी साबित हो सकती है| कलौंजी में मौजूद औषधीय गुण और पोषक तत्व प्रसव की वजह से महिला के शरीर में आई हुई कमजोरी को दूर करने में सहायक साबित होते है| वैध या डॉक्टर की सलाह के बाद कलौंजी (kalonji ke fayde) का सेवन करने से जल्द और पूर्ण लाभ प्राप्त होता है|

13 – आँखों से सम्बंधित परेशानियो को दूर करने में कलौंजी के फायदे

कलौंजी खाने के फायदे आँखों से सम्बंधित परेशानियो में भी देखने को मिलते है, अगर आप भी आँखों से सम्बंधित परेशानी जैसे – आँख से पानी आना, आँखे लाल होना और आँखों की रौशनी कम होना इत्यादि का सामना कर रहे है तो कलौंजी आपकी इन परेशानियो को दूर करने में सहायक साबित हो सकती है| कलौंजी में मौजूद औषधीय गुण और पोषक तत्व आँखों से सम्बंधित परेशानियो को दूर करने में मददगार साबित हो सकते है, नियमित रूप से कलौंजी का सेवन करने से आपको जल्द आराम प्राप्त होता है| लकिन हम आपको सलाह देंगे की आँखों से सम्बंधित किसी भी प्रकार की परेशानी होने पर आँखों के डॉक्टर या वैध के परामर्श के बाद ही कलौंजी (nigella seeds in hindi) का सेवन करें, डॉक्टर या वैध की सलाह से कलौंजी का सेवन करने से आपको जल्द और पूर्ण लाभ मिलता है|

14 – चेहरे की टैनिंग हटाने में कलौंजी के फायदे

चेहरे की टैनिंग हटाने में में भी कलौंजी के फायदे देखे जा सकते है| कलौंजी में मौजूद पोषक तत्व और गुण चेहरे की टैनिंग हटाने में मददगार साबित होते है, सबसे पहले लगभग थोड़ी सी कलौंजी को महीन पीसकर चूर्ण बना लें| फिर इस पीसे हुए चूर्ण में से लगभग 2 चम्मच कलौंजी चूर्ण, थोड़ा सा संतरे का रस, चार से छह बूंद नींबू का रस तीनो चीजों को अच्छी तरह से मिला कर पेस्ट बना लें, फिर इस पेस्ट को चेहरे पर अच्छी तरह से लगा कर छोड़ दें| फिर दस से बीस मिनट तक पेस्ट को लगा रहने दें फिर ताजे पानी से चेहरे को धो लें, नियमित रूप से इस पेस्ट को लगाने से जल्द चेहरे की टैनिंग हट जाती है और चेहरे पर निखार आ जाता है|

15 – लिवर को स्वस्थ रखने में कलौंजी के फायदे

कलौंजी खाने के फायदे लिवर को स्वस्थ रखने में भी देखे जा सकते है, आज के समय काफी सारे इंसान लिवर से सम्बंधित परेशानी का सामना कर रहे है| कलौंजी में एंटीऑक्सीडेंट, एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण और थाइमोक्विनोन मौजूद होते है जो लिवर को स्वस्थ रखने में या लिवर से सम्बंधित परेशानियो को दूर करने में सहायक साबित होते है| हालाँकि लिवर से सम्बन्धित परेशानी होने पर चिकित्सक या वैध की सलाह से कलौंजी (nigella seeds in hindi) का सेवन करने से जल्द और पूर्ण लाभ प्राप्त होता है|

16 – बांझपन का इलाज करने में कलौंजी के फायदे

महिलाओ में इनफर्टिलिटी की परेशानी की वजह से महिलाओ को बाँझपन का सामना भी करना पड़ सकता है, ऐसे में आपकी इस परेशानी को दूर करने में कलौंजी लाभकारी साबित हो सकती है| ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस को बांझपन की समस्या होने का प्रमुख कारण माना जाता है, कलौंजी में एंटीऑक्सीडेंट गुण प्रचुर मात्रा में होने की वजह से कलौंजी ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस की परेशानी को कम करने में सहायक होती है| नियमित रूप से कलौंजी (nigella seeds in hindi) का सेवन करने से आपको बाँझपन की समस्या में आराम प्राप्त हो सकता है|

17 – गठिया के रोग में कलौंजी के फायदे

गठिया की परेशानी से पीड़ित इंसान के लिए भी कलौंजी का सेवन लाभकारी साबित हो सकता है| गठिया की परेशानी से पीड़ित इंसानो की संख्या काफी ज्यादा हो गई है गठिया के रोग में होने वाला दर्द भी बहुत तेज और पीड़ादायक हो सकता है| कलौंजी में मौजूद गुण गठिया की परेशानी से राहत दिलाने में सहायक साबित हो सकते है, थोड़ी सी कलौंजी और थोड़े से रीठा के पत्तो को हल्का सा कूटकर पानी में डाल कर पका कर काढ़ा बना लें, इस काढ़े को पीने से गठिया की परेशानी में लाभ प्राप्त होता है| गठिया की परेशानी में जल्द आराम प्राप्त करने के लिए कलौंजी (kalonji ke fayde) का सेवन वैध या चिकित्सक की सलाह से करें|

18 – सूजन को दूर करने में कलौंजी के फायदे

सूजन की समस्या किसी भी इंसान के साथ हो सकती है, शरीर के किसी भी भाग में सूजन आने पर सबसे पहले सूजन आने की वजह जाननी चाहिए| सुजान आने का कारण आम है तो कलौंजी आपके लिए लाभकारी साबित हो सकती है, कलौंजी में मौजूद गुण और पोषक तत्व सूजन की समस्या को समाप्त करने में सहायक साबित होते है| थोड़ी सी कलौंजी (kalonji ke fayde) को थोड़े से पानी के साथ पीस कर पेस्ट बना लें, इस पेस्ट को सूजन वाली जगह पर लगाने से जल्द आपको सूजन की समस्या में आराम प्राप्त होता है|

19 – माँ के दूध को बढ़ाने में कलौंजी के फायदे

काफी सारी महिलाए ऐसी होती है जिनके शरीर में दूध का निर्माण कम मात्रा में होता है, जिसकी वजह से उनका शिशु भूखा रह जाता है| ऐसे में महिला दूध को बढ़ाने के लिए घरेलु उपाय या दवा ढूंढती है अगर आप भी कम दूध की समस्या से पीड़ित है तो कलौंजी आपके लिए लाभकारी साबित हो सकती है| कलौंजी में मौजूद गुण और पोषक तत्व महिलाओ के शरीर में दूध का उत्पादन बढ़ाने में सहायक साबित होते है, नियमित रूप से सुबह और शाम लगभग एक ग्राम कलौंजी (kalonji ke fayde) का सेवन करने से जल्द आपके शरीर में दूध का उत्पादन बढ़ने लगता है|

20 – बाल लम्बे और घने करने में कलौंजी के फायदे

अगर आप अपने बालो को मजबूत, लंबा और घना बनाना चाहते है तो कलौंजी आपके लिए फायदेमंद साबित हो सकती है| कलौंजी में मौजूद औषधीय गुण और पोषक तत्व बालो को मजबूती प्रदान करने के साथ साथ लम्बा और घना बनाने में सहायक होते है| लगभग 25 ग्राम कलौंजी को आधे लीटर पानी में डालकर गर्म होने के लिए रख दें, जब पानी अच्छी तरह से उबाल जाएं तो गैस बंद कर दें और ठंडा होने पर पानी छान लें, फिर इस पानी से बालो को अच्छी तरह से धो लें, हफ्ते में दो से तीन बार इस पानी से बाल धोने से बहुत जल्द आपके बाल लम्बे और घने हो जाते है|

 कलौंजी के नुकसान, side effects of nigella seeds in hindi

कलौंजी के फायदे आपने ऊपर पढ़ें अब हम आपको कलौंजी के नुकसान के बारे में जानकारी उपलब्ध करा रहे है, हालाँकि कलौंजी के नुकसान बहुत कम ही देखने को मिलते है लेकिन अधिक मात्रा में सेवन करने से या तासीर की की वजह से कलौंजी के कुछ नुकसान भी देखने को मिलते है| चलिए अब हम आपको कलौंजी (nigella seeds in hindi) के नुकसान के बारे में जानकारी उपलब्ध करा रहे है –

  • गर्भवती महिलाओ को कलौंजी का सेवन ना करने की सलाह दी जाती है, गर्भवती महिलाओ को कलौंजी की तासीर की वजह से परेशानी हो सकती है इसीलिए उन्हें कलौंजी (nigella seeds in hindi) का सेवन नहीं करना चाहिए और अगर सेवन करना जरुरी है तो स्त्री चिकित्सक से परामर्श लेने के बाद ही सेवन करें|
  • कलौंजी के बीज (nigella seeds in hindi) में थाइमोक्विनोन पाया जाता है और अगर किसी भी इंसान के शरीर में थाइमोक्विनोन की मात्रा अधिक हो जाती है तो ब्लड के थक्के का निर्माण धीमा हो सकता है| अगर आपके शरीर में ब्लड के थक्के बनना कम हो जाता है तो छोटी सी चोट लगने पर भी ब्लड निकलने की समस्या जल्दी से बंद नहीं होती है|
  • कई बार कलौंजी का अधिक सेवन करने से पेट में जलन की परेशानी भी हो सकती है, अगर आपको कलौंजी का सेवन करने से जलन महसूस हो रही है तो आपको कलौंजी (nigella seeds in hindi) का सेवन सिमित मात्रा में करें या सेवन करने से बचना चाहिए|
  • लो ब्लड प्रेशर से पीड़ित इंसान को कलौंजी का सेवन करने से बचना चाहिए या डॉक्टर की सलाह से उचित मात्रा की जानकारी लेने के बाद कलौंजी (nigella seeds in hindi) का सेवन करना चाहिए|
  • स्तनपान कराने वाली महिलाओ को कलौंजी का सेवन सिमित मात्रा में करना लाभकारी साबित हो सकता है, अधिक मात्रा में सेवन करने से उन्हें कुछ दुष्प्रभाव देखने को मिल सकते है इसीलिए कलौंजी (nigella seeds in hindi) का सेवन करने से पहले स्त्री चिकित्सक से सलाह जरूर लें|
  • ऐसी महिलाऐं जिन्हे पीरियड बहुत ज्यादा आता है उन्हें कलौंजी का सेवन करने से बचना चाहिए, अगर ऐसी महिलाऐं कलौंजी (nigella seeds in hindi) का सेवन करती है तो उन्हें पीरियड्स जल्द आने की परेशानी का सामना करन पड़ सकता है|

अन्य भाषाओं में कलौंजी के नाम (Name of nigella seeds in Different Languages)

कलौंजी को nigella seeds के नाम भी जाना जाता है, कलौंजी का वानस्पतिक नाम नाईजेला सेटाईवा (Nigella sativa ) होता है, कलौंजी को रैननकुलैसी (Ranunculaceae ) कुल का माना जाता है| कलौंजी को भारत में बोली जाने वाली अलग अलग भाषा के साथ साथ विदेशी भाषाओ में अलग अलग नामो से जाना जाता है, चलिए अब हम कलौंजी (nigella seeds in hindi) के अलग अलग भाषाओ में पुकारे जाने वाले नामो के बारे में जानकारी उपलब्ध करा रहे है –

nigella seeds in Hindi or kalonji in Hindi – कालाजीरा,  कलवंजी,  कलौंजी,  मंगरैल
nigella seeds in Urdu or kalonji in Urdu – कलौंजी (Kalonji)
kalonji in English – Black cumin,  Nigella, Small fennel, Nutmeg flower
nigella seeds in Sanskrit or kalonji in Sanskrit – पृथु,  उपकुञ्चिका,  पृथ्वीका,  स्थूलजीरक,  कालिका,  कालाजाजी
nigella seeds in Kannada or kalonji in Kannada – Kare jirage, Kalaunji, Karijirigi
nigella seeds in Konkani or kalonji in Konkani – Karijiry
nigella seeds in Gujarati or kalonji in Gujarati – Kalaunji jiru, Kalonjijiram, Karimsiragam
nigella seeds in Tamil or kalonji in Tamil – Karunjiragam, Karunierkam, Karunjiragam
nigella seeds in Telugu or kalonji in Telugu – Nullajilakara, Nellajeelakaira
nigella seeds in Bengali or kalonji in Bengali – Mota kalijeere, Kalijira, Kalzira, Mungrela
nigella seeds in Punjabi or kalonji in Punjabi – Kalvanji
nigella seeds in Marathi or kalonji in Marathi – Kalonzee jeeren, Kale jire
nigella seeds in Malayalam or kalonji in Malayalam – Karunchiragam,  Karinjirakam
nigella seeds in Nepali or kalonji in Nepali – Mungrelo
nigella seeds in Arabic or kalonji in Arabic – Habbatussuda, Kamuneasvad, Shuniz
nigella seeds in Persian or kalonji in Pharsi – Siyahdana, Shuneez

हम आशा करते है की आपको हमारा लेख कलौंजी के फायदे (kalonji ke fayde, Benefits of nigella seeds in hindi ) में दी गई जानकारी आपको पसंद आई होगी| लेकिन अगर आप कलौंजी के बारे में और अधिक जानना चाहते है तो आप गूगल और बिंग पर कलौंजी के फायदे (kalonji ke fayde, Benefits of nigella seeds in hindi ) लिखकर सर्च कर सकते है|

कलौंजी के फायदे और नुकसान बताएं

और अधिक पढ़ें – benefits of Linseed in Hindi, Flax seeds in Hindi
और अधिक पढ़ें – खसखस के फायदे & नुकसान, Poppy Seeds in hindi
और अधिक पढ़ें – मेथी के फायदे व नुकसान, Fenugreek in Hindi
और अधिक पढ़ें – खाली पेट जीरा खाने के फायदे, सौंफ और जीरा के फायदे, cumin seeds in hindi
और अधिक पढ़ें – तिल के फायदे & नुकसान, Sesame Seeds in hindi
और अधिक पढ़ें –  अजमोद के 20 फायदे & नुकसान, benefits of celery in hindi
और अधिक पढ़ें –  सूरजमुखी के बीज के फायदे & नुकसान, sunflower seeds in hindi
और अधिक पढ़ें –  सौंफ के फायदे & नुकसान, Fennel seeds in Hindi
और अधिक पढ़ें –

error: Content is protected by DCMA !!
टाइफाइड के लक्षण (typhoid symptoms in hindi) jaldi mote hone ki 5 best homeopathic dawa