web analytics
Sun. Sep 25th, 2022
Home Remedies Of Mouth Ulcers

मुंह में छाले के उपाय & इलाज, आयुर्वेदिक दवा (Home Remedies Of Mouth Ulcers in hindi) – मुँह के छाले (mouth ulcer) की समस्या का सामना लगभग सभी इंसानो ने कभी न कभी किया ही होगा, यह बहुत ही आम समस्या होती है| हालाँकि मुंह के छालें बहुत गंभीर बिमारी नहीं है लेकिन मुंह में छले होने की वजह से इंसान को काफी सारी परेशानियां जैसे खाना खाने में परेशानी, पानी पीने में परेशानी और कुछ मामलो में बोलने में दर्द की शिकायत भी हो सकती है| छालो की समस्या गालों के अन्दर, होंठो के अंदर की तरफ, मसूड़ों में और जीभ पर हो सकती है, अगर आप मुंह के छालो को देखेंगे तो आपको सफेद रंग के छालें या लाल घाव की तरह दिखाई देंगे| कुछ मामलों में मुंह के छालो में से खून भी निकलने लगता है, काफी इंसान मुंह के छालें होने पर मुंह के छालो की अंग्रेजी दवा या मुंह के छालो की टेबलेट का सेवन करके इस परेशानी से आराम प्राप्त कर लेते है|

मुंह में छालो की समस्या होने पर अधिकतर इंसान मुंह के छाले के घरेलू उपाय या मुंह के छालों की आयुर्वेदिक दवा को अपनाना पसंद करते है क्योंकि मुंह या जीभ के छाले का घरेलू उपचार करने से किसी भी प्रकार का नुक्सान नहीं होता है| मुंह में छालो की समस्या पुरुष, महिला और बच्चो में से किसी को भी हो सकती है, आज के समय में अधिकतर इंसान मुंह के छाले के घरेलू नुस्खे अपनाना पसंद करते है| लेकिन काफी सारे इंसान ऐसे भी होते है जिन्हे घरेलू नुस्खों के बारे जानकारी नहीं होती है ऐसे में इंसान इंटरनेट का सहारा लेता है|

मुंह के छालो की समस्या से पीड़ित इंसान इंटरनेट पर मुंह में छाले के उपाय या मुंह के छालों की आयुर्वेदिक दवा, जीभ के छाले का घरेलू उपचार, मुंह के छाले की देशी दवा, मुंह में छाले की दवा, गाल के छाले का इलाज, मुंह में सफेद छाले का इलाज, मुंह में घाव का इलाज, मुंह में छाले होने के कारण और उपाय, Home Remedies Of Mouth Ulcers in hindi, Mouth Ulcers in hindi इत्यादि लिखकर सर्च करते है|

मुंह के छाले का घरेलू उपचार के बारे में जानकारी देने से पहले हम आपको मुंह के छाले के बारे में अहम् जानकारी जैसे मुंह के छाले कया होते है? मुंह के छाले होने के कारण इत्यादि के बारे में जानकारी उपलब्ध करा रहे है| सबसे पहले हम आपको बताते है की आखिर मुंह में छाला होता कया है

Table of Contents

मुंह में छाला क्या है (What is Mouth Ulcer in Hindi?)

जब किसिस भी इंसान के मुंह के अंदर गालो में या मसूड़ों में या जीभ में कोई सफ़ेद रंग या लाल रंग का चकता या दाने के आकर का घाव सा बन जाता है है तो इस समस्या को मुंह का छाला कहा जाता है| मुंह में छाले होने का प्रमुख कारण पेट की खराबी होना, पेट में गर्मी होना इत्यादि मन जाता है| आयुर्वेद में बताया गया है की इंसान के शरीर में किसी भी प्रकार की बिमारी होने का कारण तीनो दोषो में असंतुलन होता है, मुंह में छालो की समस्या पित्त दोष की वजह से होती है और आयुर्वेद  की भाषा में मुंह के छालो को मुखपाक के नाम से पुकारा जाता है| हालाँकि मुंह के चालो का इलाज आयुर्वेदिक उपचार या घरेलू नुस्खों से आसानी से किया जा सकता है|

मुंह के छाले कितने प्रकार के होते हैं

मुंह के छाले कितने प्रकार के होते है इसके बारे में जानकारी काफी कम इंसानो को होती है, यह तो सभी जानते है की मुंह के छाले सफ़ेद या लाल या कुछ मामलो में मुंह के अंदर काला छाला भी हो जाता है| लेकिन कया आप जानते है की मुंह के छाले कितने प्रकार के होते है चलिए हम आपको बताते है की मुंह के छाले निम्न प्रकार के होते है| मुँह के छाले (Muh ke chhale) छोटे और बड़े दोनों प्रकार के होते हैं। कारण के आधार पर इसे दो प्रकार के होते हैं।

  1. एप्थस छाले – इस प्रकार के छाले गालो में अंदर की तरफ या जीभ में या मसूड़ों में होते है और एप्थस छाले होने का प्रमुख कारण पेट में गर्मी या खराबी होना होता है| हालाँकि मुंह के छालो का इलाज आसानी से किया जा सकता है कुछ मामलो में 3 से 4 दिनों में एप्थस छाले अपने आप सही हो जाते है|
  2. बुखार के छाले (Fever blisters in hindi)-  अगर कोई इंसान हर्पिज सिम्प्लेक्स वायरस (Herpes simplex virus) से पीड़ित होता है तो इस वायरस की वजह से इंसान के होंठो के आस पास छाले हो जाते है|

मुंह के छाले होने के कारण  (Causes of Mouth Ulcers in hindi)

मुंह के छालों का घरेलू उपचार जानने से पहले आप मुंह में छाले होने के कारण के बारे जानकारी होना बहुत जरुरी है क्योंकि अगर किसी भी इंसान को मुंह में छाले होने के कारण की सही जानकारी होती है तो आपको मुंह के छालो का इलाज करने में आसानी हो जाती है| मुंह में छाले(Mouth Ulcers in hindi) होने के काफी सारे होते है चलिए अब हम आपको मुंह में छाले होने कारण के बारे में जानकारी उपलब्ध करा रहे है:

मुंह में छाले होने का प्रमुख कारण है पेट की गर्मी

मुंह में छाले होने का आम कारण है पेट में गर्मी| यह तो हम सभी जानते है की अगर किसी इंसान का पेट सही नहीं है तो इंसान को कई सारी परेशानियां हो जाती है| ऐसा माना या कहा जाता है की अगर आपका पेट सही है तो आप अपने आपको काफी सारी बीमारियो से दूर रख सकते हो| पेट में गर्मी होने के काफी सारे कारण होते है, अगर आपके पेट में गर्मी की समस्या हो रही है तो प्रबल सम्भावना है की आपके मुंह में छालो की समस्या उत्पन्न हो सकती है|

मुंह के छाले होने का कारण है तनाव

तनाव एक ऐसी परेशानी है जिसकी वजह से इंसान को मानसिक परेशानी होने के साथ साथ शरीर पर भी कई सारे दुष्प्रभाव देखने को मिलते है| तनाव से पीड़ित इंसान का मन कसी भी काम में सही नहीं लग पाता है, कुछ मामलो में तनाव की वजह से भी मुंह के छालों की समस्या हो जाती है हालाँकि इस प्रकार के छाले तब समाप्त हो जाते है जब इंसान तनाव से बाहर आ जाता है| अगर कोई भी इंसान जल्दी तनाव से बाहर नहीं आता है तो ऐसे इंसान को कई प्रकार की बीमारियो का सामना भी करना पढ़ सकता है|

मुंह में छाले होने का कारण है हारमोंस में के उतार-चढ़ाव

यह तो हम सभी जानते है की हमारे शरीर में बहुत सारे हार्मोन्स उपलब्ध होते है और प्रत्येक हार्मोन्स का अपना अलग महत्व और काम होता है| लेकिन कया आप जाते है की शरीर में मौजूद हार्मोन्स अगर सही तरीके से अपना काम ना करें या हार्मोन्स के स्तर में उतार चढ़ाव हो जाने से कई सारी परेशानियां हो जाती है| मुंह के छालों की समस्या हार्मोन्स में उतार चढ़ाव की वजह से भी हो सकती है|

महिलाओ के मुंह में छाले होने का कारण है मासिक धर्म की गड़बड़ी

यह तो हम सभी जानते है की मासिक धर्म का आना किसी भी महिला के लिए लिए कितना ज्यादा जरुरी है| लेकिन अगर किसी भी महिला को मासिक धर्म सही समय पर नहीं आ रहा है या मासिक धर्म आने में किसी भी प्रकार की परेशानी हो रही है तो मासिक धर्म में अनियमितता की वजह से मुंह में छालों की समस्या हो सकती है|

माउथ अल्सर होने का कारण है बदहजमी

बदहजमी की परेशानी का सामना काफी सारे इंसान करते है, आज के समय खाना सही से ना पचना और जंक फ़ूड का सेवन करना आम बात हो गई है| लेकिन कया आप जानते है की बदहजमी की वजह से भी मुंह में छाले की समस्या हो सकती है| अगर आपको बदहजमी की परेशानी है तो प्रबल सम्भावना है की आपके मुंह में छाले हो जाएं|

अधिक तीखा या मसालेदार खाने की वजह से भी हो जाते है मुंह के छालें

काफी सारे इंसान है जो तीखा या अधिक मसालेदार खाने के शौकीन होते है आमतौर पर ऐसे इंसानो के मुंह में छालो की समस्या ज्यादा देखने को मिलती है| क्योंकि अधिक तीखा या ज्यादा मसालेदार खाना खाने से पेट में गर्मी की समस्या उत्पन्न हो जाती है जिसकी वजह से मुंह में छाले की परेशानी होनी शुरू हो जाती है|

मुंह में छाले होने के कारण है विटामिन्स की कमी

यह तो हम सभी जानते है की हमारे शरीर में काफी सारे विटामिन्स मौजूद होते है और अगर शरीर में किसी भी विटामिन की कमी हो जाती है तो उस विटामिन की कमी से होने वाले रोग उत्पन्न हो जाते है| आमतौर पर देखा गया है की जब शरीर में विटामिन बी और सी की कमी होने पर मुंह में छाले की समस्या हो जाती है, हालाँकि इस तरह के मुंह के छाले विटामिन B और विटामिन C की कमी दूर होने पर समाप्त हो जाते है| विटामिन बी और सी की कमी होने पर ऐसी चीजों का सेवन जिनमे विटामिन बी और सी प्रचुर मात्रा में मौजूद हो|

मुंह में सफेद छाले होने का कारण है मुंह और दांतो की सफाई ना होना

रोजाना सुबह उठकर ब्रश करने से दांत और मुंह की सफाई हो जाती है, अगर आप ऐसा नहीं करते है तो मुंह और दांतो में मौजूद गन्दगी आपके पेट में चली जाती है| गन्दगी पेट में जाने की वजह से कई सारी परेशानियां या बीमारियां जैसे मुंह में छालें, पेट में दर्द या पेट ख़राब होना इत्यादि हो सकती है|

Home Remedies Of Mouth Ulcers

मुंह में छाले के उपाय | मुंह के छालों की आयुर्वेदिक दवा (Home Remedies Of Mouth Ulcers in hindi)

मुंह के छालो की समस्या से परेशान इंसान मुंह के छालों के उपचार करने के लिए घरेलू नुस्खे अपनाना ज्यादा पसंद करता है| अगर आप भी मुंह के छालो की समस्या से पीड़ित है तो हमारे द्वारा बताए जा रहे मुंह में सफेद छाले का इलाज या मुंह के छालों की आयुर्वेदिक दवा अपनाएं, चलिए अब हम आपको मुंह के छालो के घरेलू उपाय (Home Remedies Of Mouth Ulcers in hindi) की जानकारी उपलब्ध करा रहे है

मुंह के छालो की रामबाण दवा है हल्दी (Home Remedies Of Mouth Ulcers in hindi)

हल्दी का इस्तेमाल सभी घरो में किया जाता है, हल्दी खाने में स्वाद बढ़ाने के साथ साथ हमारे शरीर के लिए भी बहुत ज्यादा लाभकारी होती है| हल्दी में मौजूद औषधीय, एंटीसेप्टिक गुण और तत्व मुंह के छालो को समाप्त करने में मददगार साबित होते है अगर आप मुंह के छालो से परेशान है और आप मुंह में छाले के उपाय या मुंह के छाले की देशी दवा ढूंढ रहे है तो हल्दी आपके लिए फायदेमंद साबित हो सकती है| सबसे पहले आधा गिलास गुनगुना पानी लेकर उसमे थोड़ी सी हल्दी पॉउडर डालकर अच्छी तरह मिला लें, फिर इस पानी से अच्छी तरह से कुल्ला कर लें| सुबह और शाम हल्दी मिले पानी से कुल्ला करने से जल्द मुंह के छालो से आराम (Home Remedies Of Mouth Ulcers in hindi) प्राप्त होता है|

मुंह & गाल के छाले का इलाज है शहद (Home Remedies Of Mouth Ulcers in hindi)

शहद का सेवन लगभग सभी करते है लेकिन काफी सारे इंसान के शहद के लाभ से अनजान होते है, शहद हमारे शरीर और पेट के लिए काफी ज्यादा फायदेमंद होता है| अगर आप मुख में छाले की समस्या से ग्रसित है और आप मुंह में छाले के उपाय या मुंह में सफेद छाले की दवा सर्च कर रहे है तो शहद आपके लिए बेहतरीन विकल्प साबित हो सकता है| शहद में मौजूद औषधीय और एंटीबैक्टीरियल गुण मुंह के छालो को कम करने में मददगार होते है, मुंह के छालो का इलाज करने के लिए थोड़ा सा शहद ऊँगली की मदद से मुंह में मौजूद छालो पर अच्छी तरह से लगा लें| रोजाना सुबह, दोपहर और शाम छालो पर शहद लगाने से बहुत जल्द आराम (Home Remedies Of Mouth Ulcers in hindi) मिलता है| अगर पेट की गर्मी से मुंह में छाले हो गए है तो भी शहद जरूर लगाएं जल्द लाभ मिलेगा|

मुंह के छालों की आयुर्वेदिक दवा है तुलसी (Home Remedies Of Mouth Ulcers in hindi)

तुलसी का पौधा लगभग सभी हिन्दुओ के घर में मौजूद होता है क्योंकि हिन्दू धर्म के लोग तुलसी की पूजा करते है| तुलसी पूजनीय होने के साथ साथ औषधीय गुणों से भी भरपूर होती है| अगर आप मुंह के छालो का इलाज घर पर ही करना चाहते है तो तुलसी आपके लिए फायदेमंद होगी दरसल तुलसी में मौजूद औषधीय गुण मुंह के छालो को उपचायर करने में मददगार होते है| मुंह में छालें होने पर दिन में दो बार तुलसी के चार से पांच पत्ते लेकर उन्हें अच्छी तरह से धोकर चबाकर खा लें| मुंह के छालो के इस घरेलू उपाय को अपनाने से जल्द छालो की समस्या से छुटकारा प्राप्त होता है|

मुंह में छाले का घरेलू उपचार है केला (Home Remedies Of Mouth Ulcers in hindi)

केला पेट के लिए बहुत ज्यादा लाभकारी माना जाता है, यह तो आपने पढ लिया है की मुंह में छाले होने का कारण बदहजमी या कब्ज भी होता है, ऐसे में केला आपके लिए फायदेमंद होता है| दरसल केले में मौजूद फाइबर और आने पोषक तत्व कब्ज जैसी समस्याओ को समाप्त करने में मददगार होते है, नियमित रूप से सुबह एक केला खाने से कब्ज की समस्या नहीं होती है और अगर आपके मुंह में छालो की परेशानी हो रही है तो वो भी बहुत जल्द समाप्त (Home Remedies Of Mouth Ulcers in hindi) हो जाती है|

मुंह के छालों का आयुर्वेदिक इलाज है नारियल का पानी (Home Remedies Of Mouth Ulcers in hindi)

गर्मियों के मौसम में नारियल पानी पीना सभी को पसंद होता है क्योंकि नारियल पानी शरीर के लिए लाभकारी होने के साथ साथ पेट की गर्मी को भी शांत रखता है| लेकिन कया आप जानते है की नारियल पानी मुंह के छालो का उपचार करने में भी सहायक होता है दरसल नारियल पानी में मौजूद गुण और पोषक तत्व मुंह के छाले और मुंह के छालों की जलन को कम करने में सहायक होते है| नियमित रूप से नारियल पानी पीने से मुख के चालें जल्द समाप्त हो जाते है कुछ इंसान नारियल पानी को मुंह के छालों का रामबाण इलाज या मुंह के छालों को जड़ से खत्म करने की दवा भी कहते है|

मुंह और गले के छालों का इलाज है धनियां

धनिए का इस्तेमाल सब्जी छोंकने में किया जाता है, धनियां पॉउडर को मसाले के रूप में किया जाता है| धनियां पॉउडर खाने का स्वाद बढ़ाने के साथ साथ पेट के लिए भी लाभकारी होता है| धनियां पॉउडर मुंह के छालो को जल्दी समाप्त करने में भी सहायक होता है, सबसे पहले एक गिलास पानी लेकर उसे गर्म होने के लिए रख दें, फिर उस पानी में थोड़ा सा धनियां पॉउडर डालकर पानी को अच्छी तरह से उबलने दें| जब पानी अच्छी तरह से उबाल जाएं तो गैस को बंद कर दें और पानी को ठंडा होने दें| जब पानी ठंडा हो जाएं तो इस पानी से कुल्ला कर लें| सुबह, दोपहर और शाम इस उपाय को करने से जल्द मुंह के छालों से निजात मिल जाती है| धनिए को जीभ के छाले का घरेलू उपचार या गले के छाले मिटाने के घरेलू उपाय (Home Remedies Of Mouth Ulcers in hindi) भी कहा जा सकता है|

गले के छालो की दवा है सेब का सिरका (Home Remedies Of Mouth Ulcers in hindi)

सेबा का सिरका भी मुंह में छाले के उपाय गले के छालो का उपचार करने में सहायक होता है| सेब के सिरके में मौजूद औषधीय गुण छालो की समस्याओ को समाप्त करने में मददगार होते है| सबसे पहले आधा गिलास पानी लेकर उसमे थोड़ा सा सेब का सिरका डालकर गरारे और कुल्ला करने से मुंह के छालो की समस्या से जल्द आराम मिलता है|

मुंह के छालो का देसी इलाज है टमाटर (Home Remedies Of Mouth Ulcers in hindi)

टमाटर खाना सभी को पसंद होता है और टमाटर का उपयोग सब्जी बनाने से लेकर सलाद के रूप में किया जाता है| टमाटर में मौजूद औषधीय गुण और पोषक तत्व मुंह के छालो को समाप्त करने में लाभकारी होते है, अगर आप मुंह के छालो की समस्या से पीड़ित है तो आपको टमाटर का सेवन ज्यादा करना चाहिए| आप चाहे तो टमाटर का गुद्दा छालो पर लगा सकते इससे भी जल्द आराम (Home Remedies Of Mouth Ulcers in hindi) मिलता है|

मुंह में छाले की दवा है चमेली के पत्ते (Home Remedies Of Mouth Ulcers in hindi)

मुंह के छालो से परेशान है तो आपकी इस समस्या का इलाज आप चमेली के पत्तो से भी कर सकते है| सबसे पहले चमेली के थोड़े से पत्तो को लेकर अच्छी तरह से धो लें| उसके बाद चमेली के पत्तो को पीसकर लेप बना लें, फिर इस लेप को मुंह या जीभ के छालो पर अच्छी तरह से लगा लें| ऐसा करने से जल्द मुंह के छालों और छालो में होने वाली जलन से आराम प्राप्त होता है| इस घरेलू नुस्खे (Home Remedies Of Mouth Ulcers in hindi) को मुंह में घाव का इलाज या मुंह में सफेद छाले का इलाज के रूप में भी जाना जाता है|

मुंह के छालो में कया खाना चाहिए

मुंह के छालो की समस्या से पीड़ित इंसान के मन में सबसे बड़ा सवाल यह रहता है की उसे मुंह के छालो में कया खाना चाहिए या मुंह में छालें होने पर किन चीजों का सेवन करना चाहिए| चलिए अब हम आपको मुंह के छालो में कया खाना चाहिए इसके बारे में जानकारी उपलब्ध करा रहे है –

  • पानी प्रचुर मात्रा में पिएँ, पानी की कमी होने से काफी सारी परेशानियो का सामना करना पड़ता है|
  • दूध का सेवन करें और दूध से बनी चीजे जैसे दही, पनीर और मक्खन का सेवन करना चाहिए|
  • भोजन के साथ सलाद का सेवन करना चाहिए|
  • यह तो हम सभी जानते है की विटामिन या पोषक तत्व की कमी से भी मुंह में छाले हो जाते है इसीलिए विटामिन और पोषक तत्व से भरपूर भोजन का सेवन करें|
  • ऐसे फल जिनमे विटामिन-सी प्रचुर मात्रा में हो उनका सेवन लाभकारी होता है|
  • मुंह के छालो में ग्रीन टी का सेवन भी लाभकारी होता है|

मुंह के छालो में परहेज या मुंह के छालो में कया नहीं खाना चाहिए

अगर आप किसी भी परेशानी से पीड़ित है और आप परहेज नहीं करते है तो आपकी बिमारी जल्दी से ठीक नहीं होती है| अगर आपको मुंह के छालो में परहेज या मुंह के छालो में कया नहीं खाना चाहिए इसकी जानकारी नहीं है तो परेशान ना हो अब हम आपको मुंह के छालो में परहेज के बारे में जानकारी उपलब्ध करा रहे है –

  • अगर आप मुंह में छालो की समस्या से पीड़ित है तो आपको बहुत ज्यादा मिर्च या मसाले वाला भोजन नहीं करना चाहिए|
  • जंक फ़ूड खाने से परहेज करें|
  • ज्यादा च्युइंगम चबाने से भी माउथ अल्सर की परेशानी हो सकती है इसीलिए इससे परहेज करें|
  • शराब या आने किसी भी मादक पदार्थ का सेवन करने से बचना चाहिए|
  • मुँह की साफ़ सफाई का विशेष ख्याल रखना चाहिए|

निष्कर्ष – हम आशा करते है की आपको हमारा लेख मुंह में छाले के उपाय (Home Remedies Of Mouth Ulcers in hindi) या मुंह के छालो की आयुर्वेदिक दवा में दी गई जानकारी आपको उपयोगी लगी होगी लेकिन अगर आप और अधिक जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो गूगल या बिंग पर मुंह में छाले के उपाय (Home Remedies Of Mouth Ulcers in hindi) या मुंह के छालो की आयुर्वेदिक दवा लिखकर सर्च कर सकते है|

error: Content is protected by DCMA !!
टाइफाइड के लक्षण (typhoid symptoms in hindi) jaldi mote hone ki 5 best homeopathic dawa