web analytics
Sun. Sep 25th, 2022
Home Remedies for Throat Pain

गले में दर्द के घरेलू उपाय (Home Remedies for Throat Pain in hindi) – गले के दर्द की समस्या का सामना किसी भी महिला, पुरुष और बच्चे को कभी भी हो सकती है, हालाँकि गले में दर्द की समस्या कोई गंभीर परेशानी नहीं होती है लेकिन कुछ मामलो में दर्द काफी ज्यादा तीव्र भी हो सकता है या अगर आप गले में दर्द का इलाज ना किया जाएं तो यह परेशानी बढ़कर आपके लिए कष्टदायक हो सकती है| गले में दर्द होने के कारण कई सारे होते है जैसे मौसम में बदलाव, बुखार, कान में दार्द होना, सर्दी जुकाम की परेशानी और गले या मुंह के कैन्सर इत्यादि| हालाँकि गले में दर्द कुछ मामलो में दो से तीन दिन में सही हो जाता है लेकिन अगर गले में दर्द की समस्या हो रही है तो लापरवाही नहीं करनी चाहिए तुरंत डॉक्टर से परामर्श और इलाज कराना चाहिए, हालाँकि आप गले में दर्द के घरेलू उपाय अपना कर भी आप अपनी इस परेशानी से छुटकारा पा सकते है|

गले में दर्द से पीड़ित इंसान इंटरनेट पर गले में दर्द होने के कारण कया है?, गले में दर्द क्यों होता है?, गले में दर्द के कारण कौन कौन से है?, गले में दर्द के घरेलू उपाय, गले में दर्द का घरेलू उपचार, गले में दर्द की दवा, गले में दर्द के घरेलू उपाय कौन कौन से है, गले में दर्द के घरेलू उपाय बताएं, गले में दर्द की रामबाण दवा, गले में दर्द का रामबाण इलाज, गले में दर्द की दवा का नाम कया है?, गले में दर्द की मेडिसिन इन हिंदी, गले में दर्द की दवा इन पतंजलि, पतांजलि गले में दर्द का इलाज, गले में दर्द से तुरंत आराम दिलाने के घरेलू उपाय इत्यादि लिखकर सर्च करते है| अगर आप गले में दर्द के घरेलू उपाय (Home remedies for Throat Pain in hindi) ढूंढ रहे है तो यह पेज आपके लिए लाभकारी साबित हो सकता है| लेकिन गले में दर्द के घरेलू उपाय को जानने से पहले आपको गले में दर्द होने के कारणों के बारे में जानकारी उपलब्ध करा रहे है|

Table of Contents

गले में दर्द होना क्या है? (What is Throat Pain in Hindi?)

जब किसी भी इंसान को बोलने में, पानी पीने में या किसी भी चीज को खाने या निगलने में दर्द की समस्या होती है तो इस समस्या को गले में दर्द की समस्या कहा जाता है| कुछ मामलो में बिना कोई काम किए भी गले में दर्द की समस्या हो जाती है, दरसअल जब भी किसी भी महिला या पुरुष के गले में सूजन आ जाती है या गले में इन्फेक्शन हो जाता है तो इनकी वजह से भी गले में दर्द की परेशानी हो सकती है| गले में दर्द होने पर आप दर्द से छुटकारा पाने के लिए गले में दर्द के घरेलू उपाय (Home Remedies for Throat Pain in hindi) भी अपना सकते है, गले में दर्द होने के कारण काफी सारे हो सकते है चालिए सबसे पहले हम आपको गले में दर्द के कारणों के बारे में जानकारी उपलब्ध करा रहे है|

गले में दर्द क्यों होता है? या गले में दर्द होने के कारण (Throat Pain Causes)

जब भी किसी भी महिला या पुरुष के गले में दर्द की समस्या होती है तो वो गले में दर्द होने के कारण के बारे में सबसे पहले सोचता है, चलिए अब हम आपको गले में दर्द होने के कारणों के बारे में बताते है दरसल गले में दर्द होने के प्रमुख कारण बैक्टीरियल या वायरल संक्रमण होता है। चलिए अब हम आपको गले में दर्द होने के कारण के बारे में जानकारी उपलब्ध करा रहे है

  • जब किसी भी इंसान को स्ट्रेप गले की परेशानी हो जाती है तो इस परेशानी की वजह से भी गले में दर्द की शिकायत हो सकती है, स्ट्रेप गले (Strep throat in hindi) की परेशानी स्ट्रेपटोकोकस बैक्टीरिया की वजह से होती है यह एक तरह का संक्रमण होता है।
  • गले में दर्द होने का कारण डिपथेरिया की बिमारी भी होती है, डिपथेरिया सांस से सम्बंधित गंभीर बिमारी होती है|
  • जब किसी भी पुरुष या महिला को काली खांसी या बूथिंग कफ की परेशानी होती है तो इस वजह से भी गले में दर्द की परेशानी हो जाती है|
  • गले में दर्द होने का कारण खसरा भी हो सकता है, दरसल खसरा एक संक्रामक रोग होता है खसरे की परेशानी किसी संक्रमित आदमी के संपर्क में आने से भी हो सकता है|
  • सामान्य जुकाम भी गले में दर्द का कारण होता है, अक्सर जुकाम होने पर नाक बंद या नाक बहने लगती है ऐसे में इन्फेक्शन या संकम्रण की वजह से गले में दर्द की समस्या हो जाती है|
  • जब हम घर से बाहर जाते है कई बार धूल और प्रदूषण इत्यादि से एलर्जी की समस्या हो जाती है, गले में दर्द का कारण एलर्जी भी होता है इसीलिए घर बाहर जाने से पहले मास्क का उपयोग करें|
  • जब कोई भी महिला या पुरुष ऐसे शुष्क हवा के संपर्क में आता है तो गले में रूखापन और जलन महसूस हो सकती है जिसकी वजह से भी गले में दर्द की समस्या हो जाती है|
  • जब कोई भी इंसान बहुत ज्यादा चिल्लाता है या किसी अन्य व्यक्ति से ज्यादा बात करता है तो गले की नसों पर दबाव या जोर पड़ता है जिसकी वजह से गले में दर्द हो सकता है।
  • अगर कोई भी इंसान गैस्ट्रोइसोफेगल रिफ्लक्स की परेशानी से पीड़ित होता है तो इस पाचन तंत्र से सम्बंधित परेशानी की वजह से भी गले में दर्द की समस्या हो जाती है।
  • गले में दर्द होने का कारण गले में, जीभ और गर्दन की नली में ट्यूमर भी होता है।
  • अगर आपके गले में टॉन्सिल या सूजन की समस्या हो जाती है तो इन परेशानियो की वजह से भी गले में दर्द हो सकता है।
  • गले के अंदर किसी भी प्रकार की चोट या कट लग जाने के कारण भी गले में दर्द की परेशानी हो सकती है।
  • ऐसे इंसान जो धूम्रपान या अन्य तंबाकू युक्त पदार्थो का सेवन करते है तो उन्हें गले में दर्द की परेशानी हो सकती है|

गले में दर्द के लक्षण (Throat Pain Symptoms in hindi)

ऊपर आपने जाना की गले में दर्द कया होता है और गले में दर्द के कारण कौन कौन से है, चलिए अब हम आपको गले में दर्द के लक्षणों (Throat Pain Symptoms in hindi) के बारे में जानकारी उपलब्ध करा रहे है –

  • अगर आपको गले में खुजली या खराश की समस्या महसूस होना भी गले में दर्द के लक्षण (Throat Pain Symptoms in hindi) में शामिल होता है|
  • खाना खाने या किसी भी खाने पीने की चीजों को निगलने में दर्द या कठिनाई होना|
  • बोलने में परेशानी होना या बोलते समय दर्द महसूस होना भी गले में दर्द के लक्षण (Throat Pain Symptoms in hindi) होते है|
  • बिना किसी कारणवश गले का सूखना।
  • किसी भी इंसान के गर्दन की ग्रन्थियों में सूजन या दर्द की परेशानी होने की वजह से भी गले में दर्द की समस्या हो सकती है|
  • गले में दर्द होने का लक्षण (Throat Pain Symptoms in hindi) टॉन्सिल में सूजन भी होता है।
  • आवाज में कर्कशता आना भी गले में दर्द का लक्षण (Throat Pain Symptoms in hindi) होता है।
  • गले में दर्द का लक्षण (Throat Pain Symptoms in hindi) है कान के निचले हिस्से में दर्द होना।
  • अगर आपको बार बार छींक आ रही है तो इसकी वजह से भी गले में दर्द की परेशानी हो सकती है|
  • अगर किसी भी इंसान को खांसी की समस्या हो रही है और जल्द खांसी का इलाज ना किया जाऐं तो खांसी की वजह से भी गले में दर्द की समस्या हो सकती है।
  • सांस लेने में परेशानी होना भी गले में दर्द का लक्षण (Throat Pain Symptoms in hindi) है।
  • जब कोई भी महिला या पुरुष असंतुलित भोजन करता है तो असंतुलित भोजन की वजह से गले में दर्द की परेशानी हो सकती है| कुछ मामलो में गले में कुछ फंस जाने की वजह से भी गले में दर्द की समस्या हो सकती है|

Home Remedies for Throat Pain

गले में दर्द के लिए घरेलू इलाज (Home Remedies for Throat Pain in Hindi)

गले में दर्द से पीड़ित इंसान गले में दर्द से तुरंत आराम की दवा का सेवन कर लेता है, लेकिन गले में दर्द के घरेलू उपाय या गले में दर्द के घरेलू उपचार (Home remedies for Throat Pain in hindi) अपना कर घर पर ही गले के दर्द से छुटकारा प्राप्त कर सकते है, चलिए अब हम आपको गले में दर्द के घरेलू उपाय के बारे में जानकारी उपलब्ध करा रहे है

गले में दर्द की घरेलू दवा है अनार का जूस (Anar juice : Home Remedies for Throat Pain in hindi)

यह तो हम सभी जानते ही है की अनार हमारे शरीर के लिए काफी ज्यादा लाभकारी होता है, अनार शारीरिक कमजोरी को दूर करने के साथ साथ ब्लड की कमी को दूर करने में मददगार होता है| लेकिन कया आप जानते है की अनार को गले में दर्द के घरेलू उपाय या गले में दर्द की दवा भी कहा जाता है| अनार में मौजूद औषधीय गुण गले में दर्द की समस्या को समाप्त करने में सहायक होता है, नियमित रूप से अनार के जूस का सेवन करने से बहुत जल्द गले में दर्द & सूजन का इलाज हो जाता है।

गले में दर्द की आयुर्वेदिक दवा है ग्रीन टी (Green Tea: Home Remedies for Throat Pain in hindi)

ग्रीन टी हमारे शरीर के लिए लाभदयक होने के साथ साथ कई सारी बीमारियो या परेशानियो को दूर करने में सहायक होती है, ग्रीन टी में मौजूद गुण गले के संक्रमण या गले की एलर्जी को समाप्त करने मददगार होते है, नियमित रूप से सुबह और शाम ग्रीन टी पीने से गले में दर्द की परेशानी से निजात मिल जाती है कुछ इंसान ग्रीन टी को गले में दर्द के घरेलू उपाय या गले में दर्द की दवा भी कहते है|

गले के दर्द की घरेलू दवा है फिटकरी (Alum: Home Remedies for Throat Pain in hindi)

फिटकरी आपको लगभग सभी घरो में आसानी मिल जाएगी, हालाँकि अधिकतर घरो में फिटकरी उपयोग शेविंग करते समय कट लगने पर मलने के लिए किए जाता है, दरसल फिटकरी खून को निकलने से रोकने में सहायक होती है| लेकिन काफी कम इंसान जानते है की फिटकरी गले में दर्द का इलाज भी कर सकती है, दरसल फिटकरी में मौजूद गुण गले में दर्द का इलाज करने में मददगार होते है| आधा गिलास गर्म पानी में थोड़ी सी फिटकरी डालकर अच्छी तरह से मिला लें, फिर इस पानी से गरारे करने से जल्द गले के दर्द से राहत प्राप्त होती है, फिटकरी को आप गले में दर्द के घरेलू उपाय या गले में दर्द की दवा भी कह सकते है।

गले में दर्द का घरेलू उपाय है मुलेठी (Mulethi: Home Remedies for Throat Pain in hindi)

मुलेठी गले और गले से सम्बंधित परेशानियो को दूर करने में फायदेमंद होती है, मुलेठी में मौजूद औषधीय गुण गले में दर्द का इलाज करने में मददगार होते है| नियमित रूप से मुलेठी को चूसने से जल्द गले में दर्द और गले में बलगम का इलाज हो जाता है, मुलेठी को आप गले में दर्द के घरेलू उपाय या गले में दर्द की दवा भी कह सकते है|

गले में दर्द से आराम दिलाने का घरेलू उपाय है टमाटर का जूस  (Tomato: Home Remedies for Throat Pain in hindi)

भारत में शायद ही कोई घर हो जिसमे टमाटर का उपयोग ना होता हो, सब्जी से लेकर सलाद तक टमाटर का इस्तेमाल किया जाता है| अगर आप गले में दर्द का इलाज करने के लिए गले में दर्द के घरेलू उपाय या गले में दर्द की दवा सर्च कर रहे है तो टमाटर आपके लिए बेहतरीन विकल्प साबित हो सकता है क्योंकि टमाटर में मौजूद औषधीय और लाइकोपीन एंटी-ऑक्सिडेंट गुण गले के दर्द या गले की खराश को दूर करने में सहायक होते है| नियमित रूप से एक कप टमाटर का जूस पीने से जल्द गले में दर्द की परेशानी में लाभ मिलता है|

गले में दर्द की रामबाण दवा है लौंग (Cloves: Home Remedies for Throat Pain in hindi)

लौंग का उपयोग मसले के रूप में किया जाता है, प्राचीन समय में लौंग को एक बहुत ही महत्वपूर्ण औषधि या जड़ी-बूटी माना गया है। अगर आप गले में दर्द से तुरंत आराम दिलाने का घरेलू उपाय या गले में दर्द का घरेलू उपचार ढूंढ रहे है तो लौंग आपके लिए फायदेमंद होती है, लौंग में मौजूद औषधीय गुण गले में दर्द का इलाज करने सहायक होते है| सबसे पहले तीन या चार लौंग लेकर उन्हें अच्छी तरह से पीस कर महीन चूर्ण बना लें, फिर एक कप गर्म पानी में लौंग का चूर्ण डालकर अच्छी तरह से मिलाकर पीने से जल्द गले में दर्द की परेशानी से छुटकारा मिल जाता है|

गले में दर्द & सूजन का घरेलू उपचार है मेथी के बीज (Methi: Home Remedies for Throat Pain in hindi)

अगर आप गले में दर्द और सूजन की समस्या से पीड़ित है और आप गले में दर्द & सूजन का घरेलू इलाज सर्च कर रहे है तो मेथी के बीज आपके लिए बहुत फायदेमंद साबित हो सकते है, मेथी के बीजो में मौजूद औषधीय गुण, बलगम को निकालने के गुण और पोषक तत्व गले में दर्द और सूजन को कम करने में मददगार होते है, नियमित रूप से मेथी के बीज का सेवन करने से गले में दर्द और सूजन जल्द समाप्त हो जाती हैं।

गले में दर्द से तुरंत आराम दिलाने का घरेलू इलाज है हल्दी (Turmeric : Home Remedies for Throat Pain in hindi)

हल्दी आपको आसानी से प्रत्येक घर में मिल जाती है प्राचीन समय से हल्दी को एक महत्वपूर्ण औषधीय के रूप में जाना जाता है| हल्दी में मौजूद गुण और पोषक तत्व गले में सूजन और गले में दर्द का इलाज करने में मददगार साबित होते है| गले में सूजन को कम करने के लिए सबसे पहले एक ग्लास गर्म पानी लेकर उसमे लगभग एक चम्मच हल्दी डालकर अच्छी तरह से मिला लें, फिर इस मिश्रण को थोड़ा थोड़ा करके पी लें| गले में सूजन के घरेलू उपाय का इस्तेमाल सुबह खाली पेट पीना चाहिए, सुबह खाली पेट इस उपाय को करने से जल्द गले में सूजन का इलाज हो जाता है| हल्दी को आप गले में दर्द के घरेलू उपाय या गले में दर्द की दवा के रूप में भी मान सकते है|

गले में दर्द & सूजन का घरेलू इलाज है लहसुन (Garlic: Home Remedies for Throat Pain in hindi)

अधिकतर इंसान लहसुन को दर्द निवारक के रूप में भी जानते है, लहसुन का उपयोग सभी घरो में किया जाता है, लहसुन हमारे शरीर के लिए भी काफी लाभकारी होता है| लहसुन में मौजूद औषधीय गुण गले में दर्द & सूजन को कम करने में सहायक होते है, लहसुन को गले में दर्द का इलाज या गले में सूजन को कम करने की दवा भी कहा जा सकता है| गले में दर्द के घरेलू उपाय का पूर्ण और जल्द लाभ लेने के लिए किसी वेध से परामर्श लेने के बाद इस नुस्खे को करने जल्द गले में दर्द और गले में सूजन (gale me sujan) की समस्या से आराम मिलता है|

गले में दर्द से तुरंत आराम पाने का घरेलू इलाज है नमक का पानी (Salt: Home Remedies for Throat Pain in hindi)

अगर आप गले में दर्द और सूजन की समस्या से पीड़ित है तो नमक आपके लिए बेहतरीन दवा साबित हो सकता है| एक गिलास गुनगुना पानी लेकर उसमे आधी या एक चम्मच नमक डाल कर अच्छी तरह से मिलाकर इस पानी से गरारे करने से बहुत जल्द गले में दर्द & सूजन की समस्या से छुटकारा मिल जाता है, नमक के पानी को आप गले में सूजन के घरेलू उपाय या गले में दर्द के घरेलू उपाय  (Home remedies for Throat Pain in hindi) के रूप में भी जान सकते है|

गले में दर्द की परेशानी में दालचीनी का उपयोग (Dalchini: Home Remedies for Throat Pain in hindi)

दालचीनी का इस्तेमाल सभी घरो में मसाले के रूप में किया जाता है, लेकिन कया आपको पता है की दालचीनी गले में दर्द या गले से सम्बंधित परेशानियो को दूर करने में लाभकारी होती है| सबसे पहले थोड़ी सी डाल चीनी लेकर उसे महीन पीस कर चूर्ण बना लें, फिर एक गिलास गर्म पानी में 1 चम्मच दालचीनी चूर्ण और 1 चम्मच काली मिर्च पाउडर डालकर अच्छी तरह मिलाकर छान लें, अब इस छने हुए मिश्रण को दिन में तीन बार पीने से गले में दर्द की बीमारी से छुटकारा मिल जाता है| दालचीनी को गले में दर्द के घरेलू उपाय या गले में दर्द की दवा भी कहा जा सकता है|

गले में दर्द का घरेलू इलाज है नींबू (Lemon: Home Remedies for Throat Pain in hindi)

गले के दर्द से छुटकारा दिलाने में नींबू भी फायदेमंद साबित हो सकता है, नींबू में मौजूद औषधीय गुण या पोषक तत्व गले में दर्द का इलाज करने में मददगार साबित होते है| सबसे पहले एक कप गर्म पानी लेकर उसमे आधे नींबू का रस निचोड़ कर अच्छी तरह से मिला लें, फिर इस पानी से गरारे करने से गले में दर्द से राहत मिल जाती हैं।

गले में दर्द & सूजन का रम्बन इलाज है सेब का सिरका (Apple vinegar: Home Remedies for Throat Pain in hindi)

कुछ मामलो में गले में दर्द और सूजन की परेशानी साथ में हो जाती है ऐसे में गले में दर्द & सूजन को दूर करने के लिए सेब का सिरका फायदेमंद होता है, सेब के सिरके में मौजूद गुण गले में दर्द और सूजन को कम करने में सहायक होते है| सबसे पहले एक कप गर्म पानी लेकर उसमे एक चम्मच सेब का सिरका, एक चम्मच नींबू का रस और थोड़ा सा शहद डालकर अच्छी तरह से मिलाकर मिश्रण को चाय की तरह धीरे धीरे सिप लेकर पी लें, जल्द ही दर्द से आराम मिलता है| सेब के सिरके को गले में दर्द के घरेलू उपाय या गले में दर्द की दवा भी कहा जा सकता है|

गले में दर्द से आराम दिलाने में सहायक है केला (Banana : Home Remedies for Throat Pain in hindi)

केला हमारे शरीर के लिए लाभकारी होता है, गले में दर्द होने पर इंसान को खाने और निगलने में भी परेशानी होती है| ऐसे में केले का सेवन करना फायदेमंद होता है केले में मौजूद औषधीय गुण गले में दर्द की परेशानी को कम करने में सहायक होते है, नियमित रूप से केले का सेवन करने जल्द गले में दर्द से राहत प्राप्त होती है।

गले में दर्द से बचने के उपाय और टिप्स (Sore Throat Prevention in hindi)

गले में दर्द होने पर आप गले में दर्द के घरेलू उपाय अपनाकर आप आसानी से दर्द से छुटकारा पा सकते है| लेकिन अगर आप अपने दैनिक जीवन कुछ सावधानियां बरतते है तो भी आप गले में दर्द की परेशानी से अपने आपको बचा सकते है, चलिए अब हम आपको कुछ ऐसे टिप्स या उपाय बताने जा रहे है जिन्हे अपनाकर आप गले में दर्द की समस्या से अपने आपको बचा सकते हैं।

  • अगर आपके घर या आसपास में कोई बीमार इंसान है तो ऐसे में उनके सीधे सम्पर्क में आने से बचें या उचित दूरी बनाकर मिलें| पीड़ित इंसान या मरीज के साथ अपना खाना, पीना या बर्तन सांझा नहीं करना चाहिए, बर्तन या खाना साँझा करने से इन्फेक्शन आपको भी हो सकता है|
  • हमेशा संतुलित और पोषक तत्वों से भरपूर भोजन करना चाहिए|
  • शरीर में पानी की कमी ना होने दें, इसीलिए पर्याप्त मात्रा में पानी या तरल पदार्थ पीने चाहिए|
  • ज्यादा या लगातार बोलने से बचना चाहिए और अगर बोलना जरूरी है तो थोड़े थोड़े समय का ब्रेक जरूर लें|
  • प्रत्येक इंसान को साल में एक बार फ्लू वैक्सीन जरूर लगवानी चाहिए, हालाँकि वेक्सीन लगवाने से पहले डॉक्टर से परामर्श जरूर लें|
  • खांसते या छींकते समय नाक और मुंह पर रूमाल जरूर रखना चाहिए, किसी वजह से अगर आपके पास रुमाल नहीं है तो हाथो से नाक और मुंह को ढक लें लेकिन ख्याल रखें खांसने और छींकने के बाद हाथ जरूर साफ़ करें।
  • किसी भी सार्वजनिक स्थान पर पानी पीने की जगह या टंकी पर सीधा मुंह लगाकर पानी नहीं पीना चाहिए|
  • अगर आपके पास हाथ धोने के लिए साबुन या पानी उपलब्ध नहीं है तो आप हाथ में मौजूद कीटाणुओं को मारने के लिए सैनिटाइजर का उपयोग कर सकते है|

गले में दर्द होने पर कया खाना चाहिए या गले में दर्द होने पर किन चीजों का सेवन करना चाहिए (Your Diet in Sore Throat Disease)

अक्सर जब किसी भी महिला या पुरुष के गले में दर्द की परेशानी होती है तो इंसान दर्द से छुटकारा पाने लिए इंसान गले में दर्द के घरेलू उपाय अपना सकता है| लेकिन अगर आप गले में दर्द का इलाज करने के साथ साथ अपने खाने पीने का ख्याल भी रखना भी बेहद जरुरी होता है| अगर आपको यह नहीं पता है की गले में दर्द होने पर कया खाना चाहिए तो हम आपको बताते है की गले में दर्द होने पर किन चीजों का सेवन करना चाहिए –

  • गले में दर्द से पीड़ित इंसान को संतुलित और पोशाक तत्वों से भरपूर भोजन का सेवन करना चाहिए|
  • शरीर में पानी की कमी ना होने दें, इसीलिए शारीर में पानी की कमी या गला सूखने से बचने के लिए पानी और तरल पदार्थों का सेवन करना चाहिए।
  • ऐसे फलो का सेवन करें जिन्हे खाने या निगलने में आसानी हो जैसे केला, चीकू और पपीता इत्यादि|
  • सब्जियों को अच्छी तरह से पका कर सेवन करें|
  • दलियाँ और सूजी का हलवा का सेवन लाभकारी साबित हो सकता है|

गले में दर्द होने पर परहेज या गले में दर्द होने पर कया नहीं खाना चाहिए (Avoid These in Sore Throat Disease)

गले में दर्द से पीड़ित इंसान को कुछ चीजों का परहेज करना बहुत जरुरी होता है अगर पीड़ित परहेज नहीं करता है तो गले में दर्द की परेशानी बड़ सकती है| अगर आपको यह नहीं पता है की गले में दर्द होने पर किन चीजों का सेवन नाही करना चाहिए या गले में दर्द में परहेज के बारे में जानकारी नहीं है तो परेशान ना हो अब हम आपको गले में दर्द होने पर किन चीजों का सेवन नहीं करना चाहिए इसकी जानकारी हम आपको उपलब्ध करा रहे है

  • कभी भी एक-दूसरे का जूठा नहीं खाना चाहिए, अगर आप किसी गले से पीड़ित इंसान या इन्फेक्शन से पीड़ित इंसान का जूठा खाते है तो आपको भी इन्फेक्शन होने की प्रबल संभावना होती है।
  • चिल्लाने से बचना चाहिए अगर आप लगातार चिल्लाते है तो चिल्लाने की वजह से गले में दर्द या सूजन की समस्या बढ़ सकती है।
  • अपने खाने पीने के बर्तनो का उपयोग बिना धुले नहीं करना चाहिए|
  • अगर आप गले में दर्द की समस्या से पीड़ित है तो आपको खट्टे फल जैसे संतरा, मौसमी और निम्बू इत्यादि का सेवन या जूस पीने से परहेज करना चाहिए, अगर आप परहेज नहीं करते है तो गले में दर्द की परेशानी बड़ सकती है।
  • ऐसे खाद्य पदार्थो का सेवन बिलकुल ना करें जिनमे सिरके और नमक का इस्तेमाल किया गया हो, ऐसी चीजों का सेवन करने से दर्द बड़ सकता है।
  • अगर आप गले में दर्द की समस्या से पीड़ित है तो आपको ऐसे फल या सब्जी का सेवन करने से बचना चाहिए जिनमे अम्लीय प्रकृति मौजूद होती है।
  • गले में दर्द की समस्या से ग्रसित इंसान को अधिक तीखा और मिर्च मसाले वाले खाने का सेवन नहीं करना चाहिए|
  • पेय पदार्थ और माउथ फ्रेशनर या माउथवॉश,  जिनमें एल्कोहल होता है। वे संक्रमित गले में एक चुभने वाली तकलीफ शुरू कर सकते हैं।
  • ऐसे इंसान जो शराब, बियर इत्यादि एल्कोहल युक्त चीजों का का सेवन करते है तो उनके शरीर में पानी की कमी हो सकती है इसीलिए अगर आपके गले में दर्द की परेशानी है तो आपको इन चीजों का सेवन बिलकुल भी नहीं करना चाहिए।
  • अगर आपके गले में दर्द की परेशानी हो रही है और आप धूम्रपान या तम्बाकू वाली चीजों का उपयोग करते है तो तुरंत ऐसी चीजों को छोड़ दें|
  • अगर आप गले में दर्द की समस्या से पीड़ित है तो आपको बिस्कुट, कुरकुरे, चिप्स इत्यादि का सेवन बिलकुल ना करें|
  • गले में दर्द से पीड़ित इंसान को ठण्डे पेय पदार्थ जैसे- कोल्ड ड्रिंक्स और आईसक्रीम जैसी चीजों से परहेज करना चाहिए।
  • अगर आपके गले में दर्द है तो आपको तेज आवाज में बात नहीं करनी चाहिए, बात धीमी आवाज में करें और कम से कम बोलने की कोशिश करनी चाहिए।
  • आज के समय जंक फ़ूड का सेवन अधिकतर इंसान करते है लेकिन अगर आपको गले में दर्द की समस्या है तो जंक फूड से परहेज करें।
  • कैफीनयुक्त पदार्थो का सेवन करने से बचना चाहिए, अगर आप ऐसे पदार्थो एक परहेज नहीं करते है तो आपके गले में दर्द की परेशानी बड़ सकती है|

हम आशा करते है की आपको हमारे लेख में दी गई जानकारी गले में दर्द के घरेलू उपाय या गले में दर्द की दवा पसंद आई होगी लेकिन अगर आपको गले में दर्द के बारे में और अधिक जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो आप गूगल या बिंग पर गले में दर्द के घरेलू उपाय या गले में दर्द की दवा लिखकर सर्च कर सकते है|

error: Content is protected by DCMA !!
टाइफाइड के लक्षण (typhoid symptoms in hindi) jaldi mote hone ki 5 best homeopathic dawa