web analytics
Sun. Sep 25th, 2022

दाद को जड़ से खत्म करने की दवा (Home Remedies for Ringworm) – दाद खाज खुजली की समस्या त्वचा की ऊपरी परत पर होती है, दाद की परेशानी एक इंसान से दूसरे इंसान में बड़ी ही आसानी और तेजी से फैल सकता है। हालाँकि दाद की परेशानी बहुत ही आम समस्या होती है लेकिन अगर समय से इसका इलाज ना किया जाए तो यह परेशानी भी उत्पन्न कर सकता है| दाद को टिनीया (Tinea) भी कहा जाता हैं, दाद गोल और लाल चकत्ते के रूप में होता है और दाद वाली जगह पर खुजली और जलन की परेशानी भी हो सकती है| अगर किसी भी इंसान को दाद की समस्या हो रही है तो ऐसे इंसान को कुछ सावधानी जरूर बरतनी चाहिए जैसे उस इंसान के द्वारा इस्तेमाल की जाने वाली चीजे और कपड़े किसी दूसरे इंसान को इस्तेमाल नहीं करने चाहिए क्योंकि दाद एक संक्रमण की तरह है जो एक इंसान से दूसरे इंसान में तेजी से फैलता है।

दाद को जड़ से मिटाने के उपाय अपनाने से पहले आपको यह जानकारी होनी चाहिए की दाद खाज खुजली होने का कारण क्या है ? दाद के लक्षणों की पहचान कया है ? अधिकतर इंसान दाद खाज खुजली का इलाज घरेलू उपचार से करना पसंद करते है| इसीलिए इंसान खाज खुजली दाद की आयुर्वेदिक दवा कौन-कौन सी है? इसके बारे में जानकारी ढूंढ़ता है, दाद की दवा के बारे में जानने के बाद वो अपनी परेशानी का इलाज करता है|

अगर आप भी दाद खाज खुजली से परेशान है तो यह लेख आपके लिए लाभकारी साबित हो सकता है, इस लेख में हम खुजली दूर करने के लिए कई घरेलू नुस्खे (khujli ke upay) बताने जा रहे है जिनका उपयोग करके आप दाद खाज खुजली का इलाज आसानी से कर सकते है| यह तो हम सभी जानते है की दाद खाज खुजली त्वचा की एक बीमारी होती है और यह परेशानी फंगल इन्फेक्शन की वजह से होता है| दाद की परेशानी बढ़ने पर इंसान को काफी सारी परेशानी का सामना करना पड़ता है, दाद खाज खुजली को दूर करने के लिए घरेलू उपाय (khujli ke upay) बताने से पहले हम आपको दाद के बारे में जानकारी उपलब्ध करा रहे है-

Table of Contents

रिंगवार्म या दाद क्या होता है? (What is RingWorm in Hindi?)

दाद का नाम तो सभी ने सुना ही होता है लेकिन कया आप जानते है की दाद कया होता है? दाद की परेशानी अत्यधिक मीठा या नमकीन खाने से, बासी खाना खाने से, दूषित आहार और साफ-सफाई की कमी की वजह से होता है| आयुर्वेद के अनुसार कफ और कफ दोष के असंतुलित होने पर दाद की परेशानी होती हैं, शुरुआत में त्वचा पर खुजली, जलन और लालिमा जैसे लक्षण दिखाई देते है जो बाद में दाद बन जाता हैं। दाद और एक्जिमा दोनों में त्वचा में लाल चकते और खुजली की परेशानी होती है, दाद फंगल इन्फेक्शन की वजह से होता है लेकिन एक्जिमा फंगल इंफेक्शन नहीं होता है| चलिए अब हम आपको दाद खाज खुजली के प्रकारो के बारे में जानकारी उपलब्ध करा रहे है, दाद चार प्रकार का होता है जो निम्न प्रकार है –

  1. टीनिया क्रूरीस (Tinea cruris in hindi) – इस प्रकार का दाद जोड़ो, आंतरिक जांघे और नितम्बों के आस-पास की स्किन पर होता है, दाद का पहला प्रकार टीनिया क्रूरीस को माना जाता है।
  2. टीनिया कैपीटीस (Tinea capitis in hindi ) – यह दाद का दूसरा प्रकार होता है और टीनिया कैपीटीस की परेशानी सिर की त्वचा में होती है| इस प्रकार का दाद मुख्य रूप से बच्चों में देखने को मिलता है और जब बच्चा स्कूल, टूशन या दोस्तों के साथ खेलता है तो यह दाद दूसरे बच्चो में तेजी से फैलता है|
  3. टीनिया पैडिस (Tinea Paedis in hindi) – यह दाद का तीसरा प्रकार है और टीनिया पैडिस नामक दाद  पैर की त्वचा पर देखने को मिलता है, इस प्रकार के दाद के होने का प्रमुख कारण सार्वजनिक स्थानों पर नंगे पाँव घूमना होता है, नंगे पाँव घूमने से संक्रमण जल्दी होता है|
  4. टीनिया बार्बी (Tinea Barbae in hindi) – यह दाद का चौथा प्रकार होता है, टीनिया बार्बी नामक दाद की परेशानी चेहरे की दाढ़ी वाली त्वचा और गर्दन पर होती है, इस प्रकार का दाद होने पर कई बार बाल भी झड़ने लगते है। इस प्रकार का दाद नाईं के पास जाकर दाढ़ी कटवाने की वजह से हो सकता है इस प्रकार के दाद को बारबार्स इट्च (Barbar’s itch) भी कहा जाता है।

रिंगवार्म या दाद होने के कारण (Ringworm Causes in Hindi)

दाद होने का प्रमुख कारण फंगल इन्फेक्शन होता है, दाद होने के कारण कई सारे होते है| अगर आपके घर या आस पास में रह रहे किसी जानवर को दाद या फंगल इन्फेक्शन की परेशानी है और आप उस जानवर को स्पर्श करते है तो उस जानवर से दाद या फंगल इन्फेक्शन की परेशानी आपको भी हो सकती है| अगर आपके परिवार या घर में मौजूद किसी भी सदस्य को दाद की परेशानी हो रही है और आप उस इंसान के द्वारा इस्तेमाल की गई वस्तु जैसे कंघी, ब्रश, कपड़े, तौलिया और बिस्तर इत्यादि का इस्तेमाल करते है तो इन चीजों से आपको भी दाद या फंगल इन्फेक्शन की परेशानी हो सकती है|

रिंगवार्म या दाद के लक्षण (Ringworm Symptoms in Hindi)

ऊपर आपने दाद कया होता है और दाद होने के कारण के बारे में जानकारी प्राप्त की है, चलिए अब हम आपको दाद के लक्षणों के बारे में जानकारी उपलब्ध करा रहे है –

  • जिस जगह पर दाद की परेशानी होती है वहां पर आपको खुजली और जलन की शिकायत भी हो सकती है।
  • अगर आपके शरीर के किसी हिस्से या भाग की त्वचा पर लाल चकत्ते दिखाई दे रहे हो तो यह दाद हो सकता है।
  • त्वचा पर गोल चकते दिखाई दे रहे हो और चकते के बाहरी तरफ के किनारे लाल हो रहे हो।
  • कई बार त्वचा पर गोल चकत्ते ऊपर की ओर उभरे हुए दिखाई देते है|

रिंगवार्म या दाद से कैसे बचें ? (How to Prevent from Ringworm?)

दाद, खाज और खुजली की परेशानी से आराम पाने के लिए आप अपने आहार और जीवनशैली में कुछ बदलाव लाने ज़रूरी होते हैं, थोड़ी सावधानी ओर बदलाव से आप अपने आपको फंगल इन्फेक्शन ओर दाद जैसी परेशानियो से बचा सकते है| चलिए अब हम आपको दाद या फंगल इन्फेक्शन से बचने के लिए कुछ सावधानियो के बारे में बताते है –

  • ऐसे खाद्य पदार्थों का सेवन जरूर करें जिनमे विटामिन-ई प्रचुर मात्रा में मौजूद हो क्योंकि विटामिन इ शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत बनाने में सहायक होता है| अपने आहार में जैतून या सूरजमुखी का तेल, अखरोट, मसूर की दाल, पालक, बादाम ओर तिल इत्यादि को शामिल करें|
  • लौंग लगभग सभी घरो में आसानी से मिल जाती है, लोंग में मौजूद औषधीय गुण ओर तत्व फंगल इन्फेक्शन को दूर करने में सहायक होते है, इसीलिए लौंग का सेवन जरूर करें|
  • फंगल इन्फेक्शन या दाद की परेशानी से बचने के लिए साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखना बहुत जरुरी होता है, अगर आपके आस पास कोई संक्रमित इंसान या जानवर है तो उसके स्पर्श से बचें ओर संक्रमित इंसान के द्वारा इस्तेमाल की गई वस्तुओ को स्पर्श करने से बचें|
  • अगर आपको अधिक पसीना आता है तो पॉउडर का उपयोग करें क्योंकि अधिक पसीना की वजह से भी फंगल इन्फेक्शन की परेशानी हो सकती है|
  • बहुत अधिक मीठे या नमकीन खाद्य पदार्थ का सेवन करने से बचें|
  • बहुत ज्यादा तला भुना ओर मिर्च मसालेदार भोजन करने से बचना चाहिए, जंक फ़ूड का सेवन करने से बचना चाहिए|
  • अगर आप शराब, धूम्रपान या अन्य किसी भी प्रकार का नशा करते है तो उन्हें तुरंत बंद कर देना चाहिए|
  • अगर आपके शरीर के किसी भी हिस्से की त्वचा पर दाद या लाल चकत्ते हो रहे है तो उस जगह पर बार बार खुजलाने से बचना चाहिए।

रिंगवार्म या दाद को जड़ से खत्म करने की दवा (Home Remedies for Ringworm Treatment in Hindi)

खाज, खुजली और दाद को जड़ से खत्म करने की दवा सर्च कर रहे है तो अब हम आपको घरेलू नुस्खों के बारे में जानकारी उपलब्ध करा रहे है, जिनके उपयोग से आप आसानी से दाद खाज खुजली की परेशानी से छुटकारा मिल जाता है| चलिये अब हम आपको बताते है की दाद, खाज और खुजली को खत्म करने के घरेलू नुस्ख़े कौन कौन से है –

1 – दाद को जड़ से खत्म करने की दवा है दालचीनी के पत्ते (Cinnamon: Home Remedies to Treat Ringworm in Hindi)

अधिकतर घरो मे दालचीनी का इस्तेमाल मसाले के रूप में किया जाता है, लेकिन कई आप जानते है की दालचीनी को खुजली की दवा या दाद को जड़ से खत्म करने की दवा के रूप में भी जाना जाता है| दरसल दालचीनी में मौजूद औषधीय गुण और तत्व दाद खाज और खुजली की परेशानी को कम करने में सहायक होते है| सबसे पहले दालचीनी के पत्ते लेकर उन्हें पीस कर पेस्ट बना लें फिर इस पेस्ट में थोड़ा सा शहद मिलाकर दाद वाली त्वचा पर अच्छी तरह से लगा लें, नियमित रूप से इस घरेलू उपाय को अपनाने से बहुत जल्द लाभ मिलता है|

2 – खुजली की दवा है देसी घी (Ghee is Beneficial for Ringworm in Hindi)

लगभग सभी घरो में देसी घी का उपयोग होता ही है, सब्जी, दाल से लेकर रोटी तक में देसी का इस्तेमाल होता है| देसी घी हमारे शरीर के लिए बहुत ज्यादा फायदेमंद होता है लेकिन कई आप जानते है की देसी घी खुजली की दवा भी होती है| देसी घी में मौजूद औषधीय गुण खुजली की परेशानी को कम करने में सहायक होते है, खुजली का इलाज करने के लिए देसी घी को खुजली से प्रभावित त्वचा पर लगा लें, बहुत जल्द खुजली की परेशानी से छुटकारा मिल जाता है| देसी घी को खुजली की दवा या दाद को जड़ से खत्म करने की दवा के रूप में भी जाना जाता है|

3 – दाद को जड़ से खत्म करने की दवा है खीरे का रस (Cucumber: Home Remedies for Ringworm in Hindi)

अधिकतर इंसान खीरे का इस्तेमाल सलाद के रूप में करते है, खीरा हमारे शरीर के लिए फायदेमंद होता है| खीरे में मौजूद औषधीय गुण और तत्व दाद का इलाज (dad ke upay) करने में सहायक साबित होते है, खीरा से कर सकते हैं। दाद को जड़ से खत्म करने की दवा बनाने के लिए सबसे पहले खीरे को महीन पीस लें फिर किसी कपड़ें या छन्नी की मदद से छानकर रस निकाल लें| फिर छने हुए रस को रूई की मदद से दाद से प्रभावित त्वचा पर अच्छी तरह से लगा लें, कुछ ही दिनों में दाद की परेशानी से आराम मिल जाता है, खीरे को आप खुजली की दवा भी कह सकते है|

4 – पुराने से पुराने दाद को जड़ से खत्म करने की दवा है जैतून के पत्ते (Castor Leaf: Home Remedy for Ringworm Treatment in Hindi)

कुछ लोग दाद हो जाने पर ज्यादा देखभाल नहीं करते है या दाद की दवा नहीं लेते है या दाद का इलाज तो करते है लेकिन कोई फर्क नहीं पड़ता है| ऐसे में उनकी परेशानी काफी सालो की हो जाती है और इंसान इंटरनेट पर 1, 2, 3, 4, 5 साल पुराने दाद की दवा ढूंढ़ते है अगर आप भी पुराने दाद का घरेलू इलाज ढूंढ रहे है तो जैतून के पत्ते आपके लिए लाभकारी साबित हो सकते है| जैतून के पत्तो में मौजूद औषधीय गुण दाद को सही करने में मददगार (dad ke upay) साबित होते है, थोड़े से जैतून के पत्तो को लेकर अच्छी तरह से धोकर पीस लें, फिर पीसे हुए पेस्ट को दाद से प्रभावित त्वचा पर लगा लें, जल्द ही दाद से छुटकारा मिल जाता है।

5 – खुजली की दवा है नमक और सिरका (Salt and Vinegar: Home Remedy to Treat Ringworm in Hindi)

अगर आप दाद, खाज खुजली की दवा सर्च कर रहे है तो सिरका और नमक आपके लिए लाभकारी साबित हो सकते है, सबसे पहले थोड़ा सा नमक और सिरके को आपस में अच्छी तरह से मिलाकर दाद से प्रभावित जगह पर लगा लें, दिन में तीन से चार बार इस नुस्खे को करने से जल्द लाभ प्राप्त होता है| इस घरेलू नुस्खे को आप दाद को जड़ से खत्म करने की दवा या खुली की दवा कह सकते है|

6 – दाद का देसी इलाज है नीम (Neem Water is Beneficial for Ringworm in Hindi)

प्राचीन समय से नीम को एक महत्वपूर्ण औषधि के रूप में जाना जाता है, नीम हमारे शरीर के लिए लाभकारी होने के साथ साथ कई सारी परेशानियो को दूर करने में सहायक होता है| नीम में मौजूद औषधीय गुण दाद, खाज और खुजली का इलाज करने में मददगार साबित हो सकते है| सबसे पहले थोड़े से नीम के पत्तो को अच्छी तरह से धो लें, फिर पानी को गर्म होने रख दें, फिर इस पानी में नीम की पत्तियां डाल कर उबलने दें, जब पानी अच्छी तरह से उबल जाएं तब पानी को ठंडा कर लें| इस नीम के पानी से नहाने से जल्द दाद खाज खुजली की परेशानी दूर होती है| नीम के पानी को आप खुजली की दवा या दाद को जड़ से खत्म करने की दवा भी कह सकते है|

7 – दाद खाज खुजली का इलाज है राई के बीज (Musturd: Home Remedies for Ringworm Treatment in Hindi)

लगभग सभी घरो में राई के बीज आसानी से मिल जाते है, राई के बीज का इस्तेमाल अलग अलग रूपों में किया जाता है| राई के बीज में मौजूद औषधीय गुण और पोषक तत्व दाद, खाज और खुजली का इलाज करने में मददगार साबित होते है, सबसे पहले थोड़े से राई के बीजो को नारियल के तेल के साथ महीन पीस कर पेस्ट बना लें| फिर इस पेस्ट को दाद से प्रभावित वाली त्वचा पर अच्छी तरह से लगा लें, इस नुस्खे को नियमित रूप से करने से आपको जल्द लाभ प्राप्त होता है| राई के बीजो को खुजली की दवा या दाद को जड़ से खत्म करने की दवा के रूप में जाना जाता है|

8 – दाद खाज खुजली की दवा है इमली के बीज (Imli Paste: H0me Remedy for Ringworm Treatment in Hindi)

अगर आप दाद और उसमे होने वाली खुजली से परेशां है और आप खुजली की दवा या दाद को जड़ से खत्म करने की दवा सर्च कर रहे है तो इमली के बीज आपके लिए बेहतर विकल्प साबित हो सकते है| इमली के बीज में मौजूद औषधीय गुण दाद, खाज और खुजली का इलाज करने में मददगार साबित होते है, सबसे पहले इमली के बीजो को थोड़े से नींबू के रस के साथ महीन पीस कर पेस्ट बना लें| फिर इस पेस्ट को दाद से प्रभावित जगह पर लगा लें, रोजाना इस घरेलू नुस्खे को करने से जल्द दाद की परेशानी से छुटकारा प्राप्त होता है|

9 – दाद खाज खुजली को जड़ से खत्म करने की दवा है सरसों के बीज (Musturd Oil: Home Remedy to Treat Ringworm in Hindi)

सरसो के बीजो में मौजूद औषधीय गुण और तत्व दाद, खाज और खुजली का इलाज करने में सहायक साबित होते है| सरसो के बीजो को दाद की अचूक या रामबाण दवा भी कहा जाता है, सबसे पहले थोड़े से सरसो के बीजो को एक गिलास पानी में भिगो कर रख दें, लगभग 30 से 40 मिनट तक भीगा रहने दें| फिर सरसो के बीजो को पानी में से निकालकर महीन पीस कर पेस्ट बना लें, सरसो के बीजो के पेस्ट को दाद वाली जगह पर अच्छी तरह से लगा लें| नियमित रूप से सरसो के बीज लगाने से जल्द दाद की परेशानी से छुटकारा मिल जाता है|

10 – दाद, खाज और खुजली की दवा है लेमन ग्रास (Lemon Grass: Home Remedy to Treat Ringworm in Hindi)

लेमन ग्रास बहुत सारी परेशानियो को दूर करने में सहायक होती है, लेमन ग्रास में मौजूद औषधीय गुण और पोषक तत्व दाद, खाज और खुजली का इलाज करने में सहायक होते है| अगर आप दाद को जड़ से खत्म करने की दवा या खुजली की दवा सर्च कर रहे है तो लेमन ग्रास आपके लिए लाभकारी साबित हो सकती है| दाद का इलाज करने के लिए सबसे पहले लेमन ग्रास का काढ़ा बना लें, लेमन ग्रास का काढ़ा दिन में दो से तीन बार पीने से जल्द दाद और खुजली की परेशानी दूर हो जाती है|

11 – दाद खाज खुजली को जड़ से खत्म करने की दवा है करेले का रस (BitterGourd and Rose Water: Home Remedies to Treat Ringworm in Hindi)

अगर आप दाद, खाज और खुजली से परेशान है और आप इस परेशानी से जल्द छुटकारा पाना चाहते है तो करेला आपके लिए फायदेमंद साबित हो सकता है| करेले में मौजूद औषधीय गुण दाद का इलाज करने में सहायक होते है, दाद को जड़ से खत्म करने की दवा या खुजली की दवा बनाने के लिए सबसे पहले थोड़े से ताजे करेले के पत्ते लेकर उन्हें अच्छी तरह से धो लें, फिर उन्हें पीस कर छान लें| फिर उस छने हुए रस में थोड़ा सा गुलाबजल अच्छी तरह से मिलाकर दाद वाली जगह पर लगा लें, इस नुस्खे से आपको दाद, खाज और खुजली में तुरंत लाभ मिलता है, इस नुस्खे का पूर्ण लाभ लेने के लिए नुस्खे का इस्तेमाल आयुर्वेदिक चिकित्सक की सलाह से करें।

12 – दाद खाज खुजली को जड़ से खत्म करने की दवा है नारियल का तेल (Coconut Oil: Home Remedies for Ringworm in Hindi)

नारियल के तेल में मौजूद औषधीय गुण दाद, खाज और खुजली का इलाज करने में मददगार साबित होते है| नारियल का तेल त्वचा से संबंधित समस्याओ को दूर करने में लाभकारी होता है, अगर आप दाद को जड़ से खत्म करने की दवा या खुजली की दवा ढूंढ रहे है तो नारियल का तेल आपके लिए बेहतर विकल्प साबित हो सकता है| थोड़ा सा नारियल का तेल रुई की मदद से दाद से प्रभावित जगह पर लगा लें, दिन में से दो से तीन बार नारियल का तेल लगाने से त्वचा चिकनी और नरम बनती है और बहुत जल्द दाद की परेशानी से छुटकारा (dad ke upay) मिलता है|

13 – लहसुन से दाद का उपचार  (Garlic: Home Remedies for Ringworm in Hindi)

लहसुन का इस्तेमाल सभी घरो में दाल से लेकर सब्जी को छौकने में किया जाता है लेकिन क्या आप जानते है की लहसुन दाद का उपचार भी कर सकता है| लहसुन में मौजूद प्राकृतिक एंटी फंगल गुण दाद का इलाज करने में सहायक होते है| दाद को जड़ से खत्म करने की दवा या खुजली की दवा बनाने के लिए सबसे पहले लहसुन की एक या दो कलियाँ या फांक को छील लें, फिर उस छिली हुई फांक के लम्बाई में पतले स्लाइस काट लें| फिर लहसुन के कटे हुए पतले स्लाइस को दाद से प्रभावित त्वचा पर अच्छी तरह से रख कर चारों ओर से एक पट्टी बाँध कर रात भर के लिए बंधा रहने दें, सुबह पट्टी खोल दें| आप चाहे तो लहसुन के स्लाइस की जगह लहसुन का पेस्ट भी लगा सकते है, लहसुन का उपयोग करने से जल्द ही दाद की समस्या से निजात (khujli ke upay) मिल जाती हैं।

14 – दाद खाज खुजली को जड़ से खत्म करने की दवा है हल्दी (Turmeric: Home Remedies for Ringworm in Hindi)

प्राचीन समय से हल्दी को जड़ी बूटी के रूप में इस्तेमाल किया जाता है, हल्दी में मौजूद एंटीबायोटिक और एंटी फंगल गुण दाद खाज खुजली की परेशानी को समाप्त करने में सहायक होते है| सबसे पहले थोड़ी सी हल्दी और थोड़ा सा पानी लेकर दोनों को अच्छी तरह से मिलाकर पेस्ट बना लें, फिर पेस्ट को रूई की मदद से दाद से प्रभावित त्वचा पर लगा लें, हल्दी के इस नुस्खे को खुजली की दवा या दाद को जड़ से खत्म करने की दवा भी कह सकते है|

15 – दाद खाज खुजली की दवा और इलाज है सेब का सिरका (Apple Cidar Vinegar is Beneficial for Ringworm in Hindi)

अगर आप दाद, खाज और खुजली की समस्या से ग्रसित है तो सेब का सिरका आपके लिए फायदेमंद साबित हो सकता है| सेब के सिरके में मौजूद औषधीय गुण और पोषक तत्व दाद खाज खुजली का इलाज करने में सहायक होते है, दिन में तीन से चार बार सेब के सिरके को रूई की मदद से दाद वाली जगह पर लगाने से बहुत जल्द लाभ मिलता है| सेब के सिरके को दाद को जड़ से खत्म करने की दवा या खुजली की दवा भी माना जाता है|

16 – मदार के दूध से दाद की दवा, पुराने से पुराने दाद की दवा बताइए

मदार का पेड़ आपको अपने आस पास आसानी से देखने को मिल सकते है, लेकिन बहुत कम इंसान इसके बारे में जानते है| अगर आप दाद को जड़ से खत्म करने की दवा सर्च कर रहे है तो मदार का दूध आपके लिए लाभकारी हो सकता है, मदार के दूध में मौजूद औषधीय गुण दाद खाज खुजली की परेशानी को दूर करने में सहायक होते है| मदार का दूध और शहद बराबर मात्रा में लेकर अच्छी तरह से मिला लें, फिर इस मिश्रण को दाद से प्रभावित वाली जगह पर लगा लें, कुछ ही दिनों में आपको दाद से छुटकारा मिल जाता है|

17 – दाद खाज खुजली की दवा है टी ट्री ऑयल (Tea Tree Oil is Beneficial for Ringworm in Hindi)

त्वचा से सम्बंधित परेशानियो को दूर करने में टी ट्री ऑयल काफी लाभकारी साबित होता है, टी ट्री आयल में मौजूद औषधीय गुण दाद खाज खुजली का इलाज करने में सहायक होते है| थोड़े से टी ट्री आयल को रुई की मदद से दाद से प्रभावित जगह पर दिन में तीन से चार बार लगाने से जल्द लाभ मिलता है| टी ट्री ऑयल को खुजलीकी दवा या दाद को जड़ से खत्म करने की दवा भी कहा जा सकता है|

18 – एलोवेरा से दाद का इलाज (Aloevera is Beneficial for Ringworm in Hindi)

एलोवेरा में मौजूद एंटी-फंगल और जीवाणुरोधी गुण दाद खाज खुजली की परेशानी से छुटकारा दिलाने में सहायक होते है, एलोवेरा को प्राचीन समय से त्वचा सम्बंधित परेशानियो को दूर करने में इस्तेमाल किया जाता है| एलोवेरा का एक तजा पत्ता लेकर उसका गुड्डा निकाल लें, फिर इस गुद्दे को दाद वाले स्थान पर रात को सोने से पहले लगा लें और रात भर लगा रहने दें| नियमित रूप से एलोवेरा का उपयोग करने से जल्द लाभ मिलता है, एलोवेरा को खुजली की दवा (khujli ke upay) या ददद को जड़ से खत्म करने की दवा के रूप में भी जाना जाता है|

19 – नींबू से दाद का इलाज

दाद खाज खुजली की दवा है नींबू, नींबू में मौजूद औषधीय गुण और तत्व दाद खाज खुजली की परेशानी को दूर करने में सहायक साबित हो सकते है| सबसे पहले नींबू को निचोड़ कर रस निकाल लें फिर उस रस को दाद वाली जगह पर अच्छी तरह से लगा लें, दिन में तीन से चार बार नींबू का रस लगाने से जल्द दाद खाज और खुजली की परेशानी से छुटकारा मिल जाता है| नींबू को खुजली की दवा या दाद को जड़ से खत्म करने की दवा के रूप में भी इस्तेमाल किया जाता है|

20 – फिटकरी से दाद का इलाज

दाद खाज और खुजली का इलाज करने के लिए फिटकरी काफी लाभकारी मानी जाती है, फिटकरी में मौजूद औषधीय गुण और तत्व दाद खाज खुजली की परेशानी को दूर करने में सहायक साबित होते है| सबसे पहले थोड़ी सी फिटकरी लेकर उसे पीस कर चूर्ण बना लें, उसके बाद एक चम्मच नींबू के रस में चुटकी भर फिटकरी चूर्ण डालकर अच्छी तरह से मिला लें, फिर इस मिश्रण को दाद से प्रभावित वाली जगह पर लगा लें| जल्द ही दाद खाज खुजली की परेशानी से छुटकारा मिल जाता है| फिटकरी का इस्तेमाल उचित मात्रा में किया जाए तो लाभकारी होता है लेकिन अगर फिटकरी की मात्रा अधिक हो जाएं तो फिटकरी हानिकारक भी हो सकती है| फिटकरी का इस्तेमाल सिमित मात्रा में होना बहुत जरुरी है इसीलिए वैध या चिकित्सक की सलाह से फिटकरी का इस्तेमाल करें|

पतंजलि दाद की दवा | पतंजलि खुजली की दवा

खाज खुजली और दाद को जड़ से खत्म करने के लिए आप घरेलू उपचार या पतंजलि की दवा का उपयोग कर सकते है,पतंजलि दाद की दवा या पतंजलि खुजली की दवा का सेवन करने से आपको बहुत जल्द आराम प्राप्त होता है| दाद खाज खुजली की क्रीम भी बाजार में उपलब्ध है, पतंजलि दाद की दवा या पतंजलि खुजली की दवा का नाम है दिव्य कायाकल्प वटी| दाद खाज खुजली की दवा दिव्य कायाकल्प वटी का निर्माण त्रिफला, मंजिष्ठा, चिरायता, देवदारु, बकुचियो, पनावद बीज, हल्दी, खैरछली, करंज बीज, नीम, हराडी, बहेरा, कार्मिक, मंजिथो, गिलोय, चिरायता, कुटाकी, भावना जड़, चंदन, देवद्रु, काला जिरिक, उषावी, द्रोणपुष्पी, तिल का तेल और काला नमक इत्यादि जड़ी बूटियो के द्वारा किया गया है| पतंजलि की दिव्य कायाकल्प वटी दाद खाज खुजली का इलाज करने के साथ साथ ब्लड को साफ या शोधन करने में भी सहायक होती है| त्वचा से सम्बंधित परेशानियो को दूर करने में यह दवा काफी लाभकारी होती है| पतंजलि दाद की दवा या पतंजलि खुजली की दवा का पूर्ण लाभ लेने के लिए इसका सेवन चिकित्सक की सलाह से लें|

हम आशा करते है की आपको हमारा लेख खाज खुजली और दाद को जड़ से खत्म करने की दवा में बताए गए घरेलू नुस्खे पसंद आए होंगे,लेकिन अगर आप और अधिक जानकारी प्राप्त करनी है तो आप गूगल या बिंग पर दाद को जड़ से खत्म करने की दवा सर्च कर सकते है|

error: Content is protected by DCMA !!
टाइफाइड के लक्षण (typhoid symptoms in hindi) jaldi mote hone ki 5 best homeopathic dawa