web analytics
Sun. Sep 25th, 2022
Home remedies for Lower back pain

Home remedies for Lower back pain in hindi – कमर दर्द की परेशानी का सामना लगभग हर इंसान कभी ना कभी करता ही है, आज कल की भागदौड़ भरी जिंदगी में अधिकतर महिला या पुरुष कमर दर्द की परेशानी का सामना करते है| कमर दर्द की परेशानी पुरुष और महिला दोनों में देखने को मिलती है, कुछ इंसान को जब कमर दर्द (kamar me dard), पीठ के नीचले हिस्से में दर्द, पीठ के ऊपरी हिस्से में दर्द होने पर एलोपेथिक दवा का सेवन करके दर्द से छुटकारा पा लेते है| लेकिन कमर दर्द की दवा का सेवन करने से आपको दर्द से तुरंत आराम मिल सकता है लेकिन यह आराम स्थाई नहीं होता है, कुछ इंसान कमर दर्द से छुटकारा पाने के लिए घरेलू नुस्खों का सहारा लेते है, कमर दर्द के घरेलू उपाय (kamar dard ka ilaj) अपनाने से आपको जल्द कमर दर्द से आराम मिलता है और घरेलू उपाय के दुष्प्रभाव भी नहीं होते है|

बढ़ती उम्र या वृद्धावस्था में कमर दर्द या पीठ दर्द होना आम बात है लेकिन अगर कम उम्र में आपको कमर दर्द की परेशानी हो रही है तो यह चिंता का विषय है, आज के समय में अधिकतर इंसान इंटरनेट पर पुरुषों में कमर दर्द के कारण, पीठ दर्द के कारण, पुरुषों में कमर दर्द की दवा, कमर के निचले हिस्से में दर्द का इलाज, कमर दर्द का इलाज, पीठ दर्द के कारण और उपाय, गैस के कारण कमर में दर्द, कमर दर्द का इलाज इन पतंजलि, पतंजलि कमर दर्द की दवा, पीठ के लेफ्ट साइड में दर्द, kamr dard ka ilaj, Home remedies for Lower back pain, kamar dard ke karan, kamar dard ki dawa इत्यादि लिखकर सर्च करते है| कमर दर्द की परेशानी किसी भी उम्र में हो सकती है कुछ मामलो में कमर दर्द बहुत ज्यादा तेज होता है|

कमर दर्द का इलाज (kamar dard ka ilaj) आप आसानी से कमर दर्द के घरेलू उपाय अपनाकर आसानी से घर पर ही कर सकते हैं। कमर दर्द होने के कारण बहुत सारे हो सकते है जैसे कैल्शियम या विटामिन की कमी से कमर दर्द होना, रूमेटायड आर्थराइटिस की वजह से कमर दर्द हो सकता है, मांसपेशियों में खिंचाव की वजह से या गलत आसनों को करने की वजह से भी पीठ या कमर में दर्द की परेशानी हो सकती है| अगर आप कमर दर्द से परेशान है तो आज हम अपने इस लेख में कमर दर्द के घरेलू उपाय (kamar dard ke upay) के बारे में जानकारी उपलब्ध करा रहे है लेकिन कमर दर्द के घरेलू नुस्खों को जानने से पहले आपको कमर दर्द होने के कारण को जनन बहुत जरुरी है, चालिए अब हम आपको कमर दर्द के बारे में अहम् जानकारी उपलब्ध करा रहे है

Table of Contents

पीठ के नीचले हिस्से में दर्द या कमर दर्द क्या है? (What is Lower Back Pain in Hindi?)

कमर दर्द के बारे में सभी भली भांति जानते है, आपको यह बात तो पता ही होगी की कमर में मौजूद रीढ़ की हड्डी बहुत ज्यादा महत्वपूर्ण होती है, इंसान के झुकने या मुड़ने में रीढ़ की हड्डी अहम् रोल निभाती है| हमारे शरीर अधिकतर वजन रीढ़ की हड्डी का निचला भाग ही उठाता है। जब कोई भी इंसान झुकता, मुड़ता या कोई भारी वजन उठाता है तो आपके शरीर का पूरा भार रीढ़ की हड्डी के निचले हिस्से पर ही पड़ता है इसके अलावा जब कोई भी इंसान एक ही स्थान पर ज्यादा या लंबे समय तक बैठता है तब भी शरीर का भार रीढ़ की हड्डी के निचले भाग पर ही पड़ता है। यह सभी काम करते रीढ़ की हड्डी के निचले हिस्से पर दबाव पड़ता है जिसकी वजह से कुछ मामलो में रीढ़ की हड्डी को सहारा देने वाली मांसपेशियां, टिश्यू और लिंगामेंटस पर किसी भी प्रकार का नुक्सान या इंजरी को स्ट्रेस इंजरी कहा जाता है|

स्ट्रेस इंजरी की परेशानी से बचने के लिए किसी भी पुरुष या महिला को लगातार एक ही पोजीशन और जगह पर बैठकर काम नहीं करना चाहिए काम के बीच में थोड़ा ब्रेक जरूर लें और अपनी पोजीशन को भी चेंज करते रहे ऐसा करने से शरीर की मांसपेशियों में अकड़न भी नहीं आती है|

पुरुषो में कमर दर्द के कारण या पुरुषो में पीठ के नीचले हिस्से में दर्द के कारण (Lower Back Pain Causes for men in Hindi)

कमर में दर्द की परेशानी पुरुष और महिला दोनों में हो सकती है, हालाँकि कुछ मामलो में पुरुष और महिला में कमर दर्द होने कारण सामान होते है लेकिन कुछ कारण अलग भी होते है इस लेख में हम आपको पुरुषो में कमर दर्द के कारण (Lower Back Pain Causes for men in Hindi) के बारे में जानकारी उपलब्ध करा रहे है महिलाओ में कमर दर्द के कारण आप हमारे दूसरे लेख में पढ़ सकते है| आयुर्वेद की माने तो इंसान की कमर में दर्द होने का कारण वात और कफ दोष को माना जाता है, वात और कफ दोष में असंतुलन होने की वजह से पीठ के निचले हिस्से में दर्द की परेशानी होती है, पुरुषो में कमर दर्द होने के कारण बहुत सारे होते है जिनके बारे में हम जानकारी उपलब्ध करा रहे है –

पुरुषो में कमर दर्द के कारण है मानसिक तनाव (Lower Back Pain Causes for men in Hindi)

भागदौड़ भारी जिंदगी में इंसान को ऑफिस, जॉब, घर, परिवार और दोस्ती इत्यादि की वजह से किसी न किसी प्रकार तनाव रहता ही है, शायद ही कोई पुरुष हो जिसे किसी भी प्रकार का तनाव ना हो| तनाव का नकारात्मक प्रभाव हमारे शरीर पर भी पड़ता है| जब कोई भी इंसान तनाव से ग्रसित होता है तो तनाव का सबसे ज्यादा प्रभाव गले और पीठ के ऊपरी हिस्से की मांसपेशियों पर पड़ता है। जब कोई भी इंसान लंबे समय से तनाव से ग्रसित रहता है तो उसकी पीठ की मांसपेशिया अकड़ जाती है और इंसान को पीठ में दर्द की परेशानी होने लगती है, सही समय पर इंसान तनाव से मुक्त नहीं होता है तो इंसान की कमर में दर्द की शिकायत होने लगती है इसीलिए सभी इंसानो को तनावग्रस्त होने से बचना चाहिए। पुरुषो में कमर दर्द होने के कारण तनाव भी होता है|

कमर दर्द का कारण है नई नई तकनीक में बैठना या लेटना (Lower Back Pain Causes for men in Hindi)

आज का जमाना आधुनिक युग का है, जिसमे प्रत्येक बच्चे, पुरुष या महिला के हाथ में फोन या टेबलेट जरूर मिलेगा| लेकिन कया आपको पता है फोन या टेबलेट भी कमर दर्द की वजह हो सकते है दरसल आपने ऐसे बहुत सारे बच्चे या बड़े देखे होंगे जो घंटो अपने फोन या टैब का इस्तेमाल करते है, जब इंसान फोन या टेब का इस्तेमाल करता है तो उसे अपनी गर्दन को नीचे झुकना पड़ता है घंटो गर्दन झुकाने की वजह से रीढ़ की हड्डी पर अतिरिक्त वजन या जोर पड़ता है। हालाँकि शुरू-शुरू में इस भार या जोर की वजह से कोई परेशानी नहीं होती है लेकिन धीरे धीरे या कुछ समय बाद ऐसे इंसानो को कमर या पीठ में दर्द की परेशानी शुरू हो जाती है। घंटो फोन या टेबलेट का उपयोग करने का दुष्प्रभाव कमर के अलावा आँख और शरीर के दूसरे अंगों में भी पड़ता है। इसीलिए लंबे समय या लगातार कई घंटो तक फोन या टेब का उपयोग नहीं करना चाहिए अगर इस्तेमाल करना जरुरी है तो थोड़े थोड़े समय का ब्रेक जरूर लेना चाहिए|

शरीर के मांसपेशियों का तालमेल बिगड़ने की वजह से भी होता है कमर में दर्द

यह तो सभी को पता है की हमारे शरीर में मौजूद मांसपेशियां एक दूसरे से जुडी रहती है और सभी मांसपेशियां आपस में एक बेहतरीन तालमेल के साथ काम करती है, कमर में मौजूद मांसपेशियो में दर्द होने का कारण अन्य मांसपेशियां भी हो सकती है| इसीलिए शरीर के अन्य अंगो की वजह से भी कमर में दर्द की परेशानी हो सकती है, हैमस्ट्रिंग्स में खिंचाव आने की वजह से या पेट की मांसपेशियों के कमजोर होने की वजह से भी कमर दर्द हो सकता है| आप ऐसे भी समझ सकते है की यदि शरीर में मसल्स में खराबी आने की वजह से भी कमर दर्द (kamar me dard) की परेशानी हो सकती है। ऐसी स्थिति में आपको चिकित्सक या फिजियो थेरेपिस्ट से मिलना चाहिए और उनसे परामर्श लेकर इलाज करना चाहिए, फिजियो थेरेपिस्ट की सलाह से मसल्स को मजबूत बनाने वाले एक्सरसाइज नियमित रूप से करनी चाहिए, लेकिन हमारी सलाह यह है की कभी भी अपनी मर्जी से एक्सरसाइज़ ना करें अगर आप कमर दर्द से परेशान है और आप बिना सलाह के एक्सरसाइज़ करते है तो आप अपनी परेशानी अर्थात कमर दर्द को बड़ा सकते है|

रीढ़ की हड्डी के बीच में मौजूद डिस्क में परेशानी होना

रीढ़ की हड्डी के बारे में लगभग सभी लोग जानते ही है लेकिन कया आप जानते है की रीढ़ की हड्डी के बीच में डिस्क भी होती है जो रीढ़ की हड्डी को मुड़ने में मदद करने के साथ साथ किसी भी तरह के झटके से बचाने में मददगार होती है| बढ़ती उम्र के साथ साथ डिस्क फ्लैट होने लगती है लेकिन अगर आप गलत पॉश्चर में बैठते है या कमर में किसी चोट की वजह से इत्यादि से डिस्क में परेशानी या गड़बड़ी आ जाती है तो यह पुरुषो में कमर दर्द के कारण हो सकते है| डिस्क में गड़बड़ी अनुवांशिकता की वजह से भी आ सकती है, डिस्क में गड़बड़ी होने पर कमर दर्द की परेशानी का सामना करना पड़ता है कुछ मामलो में दर्द बहुत ज्यादा तीव्र होता है| कुछ इंसानो के अनुसार हॉट और कॉल्ड पैक्स से डिस्क की गड़बड़ी को ठीक करने में सहायक होती है लेकिन हम आपको सलाह देंगे की डिस्क की गड़बड़ी में कभी भी अपनी मर्जी से इलाज ना करें तुरंत डॉक्टर से परामर्श और इलाज कराएं|

गंभीर बीमारी की वजह से भी हो सकता है कमर दर्द

कमर में दर्द की समस्या होने का कारण बिमारी भी हो सकती है, कमर दर्द होने का कारण पैंक्रियाटाइटिस, अल्सर, रीढ़ की हड्डी में इन्फेक्शन या किडनी इन्फेक्शन इत्यादि बिमारी भी हो सकती है| कमर दर्द अगर लगातार बना हुआ है तो कभी भी लापरवाही नहीं करनी चाहिए क्योंकि कई बार कमर दर्द कैंसर की जानकारी भी देता है, इसीलिए कमर दर्द होने पर तुरंत उपचार करना चाहिए|

Home remedies for Lower back pain

कमर दर्द का घरेलू इलाज & दवा, पीठ के निचले हिस्से में दर्द के घरेलू उपाय (Home remedies for Lower back pain in hindi)

कमर दर्द से पीड़ित है तो कमर दर्द से छुटकारा पाने के लिए आप कमर दर्द का इलाज या पीठ के निचले हिस्से में दर्द के घरेलू उपचार भी अपना सकते है| अगर आप सही तरीके और उचित मात्रा में घरेलू दवा का सेवन करते है तो आपको बहुत जल्द कमर दर्द से छुटकारा मिलता है| चलिए अब हम आपको कमर दर्द के घरेलू उपाय के बारे में जानकारी उपलब्ध करा रहे है-

पीठ के निचले हिस्से में दर्द का घरेलू इलाज है सरसों का तेल और लहसुन (Mustard Oil and Garlic: Home remedies for Lower back pain in hindi)

अगर आप पीठ के निचले हिस्से में दर्द से परेशान है और आप कमर दर्द की दवा या पीठ के निचले हिस्से में दर्द का घरेलू इलाज सर्च कर रहे है तो सरसो का तेल और लहसुन आपके लिए बेहतरीन विकल्प साबित होता है| सबसे पहले लगभग 20 ग्राम लहसुन की कलियाँ लेकर उन्हें छील कर बारीक टुकड़ो में काट लें, फिर चौथाई कटोरी सरसों का तेल लेकर उसे किसी बर्तन में डालकर गर्म होने के लिए रख दें| जब तेल गर्म हो जाएं तो गैस की आंच धीमी कर दें और तेल में कटे हुए लहसुन के टुकड़ें डाल दें, फिर तेल में एक चम्मच अजवायन भी डालकर पकने दें| तेल को जब तक गर्म करें जब तक लहसुन और अजवायन काले ना हो जाएं, जब दोनों काले हो जाएं तब गैस को बंद कर दें, ठंडा होने पर थोड़ा सा तेल लेकर कमर में दर्द वाले स्थान पर लगा कर हल्के हाथ से मालिश करें, ऐसा करने से बहुत जल्द पीठ के निचले हिस्से में दर्द या कमर में दर्द (kamar dard ke upay) से बहुत जल्द आराम मिलता है।

कमर दर्द से तुरंत आराम दिलाने का घरेलू इलाज है गर्म पानी की सेंक (Hot Water Compress: Home remedies for Lower back pain in hindi)

प्राचीन समय में कमर दर्द से छुटकारा (kamar dard ka ilaj ) दिलाने के लिए गर्म पानी की भाप का इस्तेमाल किया जाता है| गर्म पानी को कमर दर्द की आयुर्वेदिक दवा या कमर दर्द का इलाज भी कह सकते है, कमर दर्द से छुटकारा दिलाने के लिए सबसे पहले किसी बर्तन में पानी लेकर उसे गर्म कर लें, फिर जब पानी गर्म हो जाएं तो एक तौलिया लेकर उसे गर्म पानी में भिगो कर अच्छी तरह से निचोड़ कर तौलिया की भाप उस जगह पर लगाएं जहाँ दर्द हो रहा है| कुछ देर भाप से सिकाई करने से जल्द कमर दर्द से छुटकारा (कमर दर्द का इलाज) मिल जाता है। गर्म पानी की भाप से शरीर के रोम छिद्र खुलने लगते है और रोम छिद्रो के खुलने से ब्लड सर्कुलेशन भी बेहतर होता है|

पीठ दर्द से आराम पाने का घरेलू उपाय है दूध (Milk: Home remedies for Lower back pain in hindi)

जब किसी भी इंसान के शरीर में कैल्शियम की कमी हो जाती है तो इंसान के शरीर में मौजूद हड्डियां कमजोर हो जाती है जिसकी वजह से जोड़ो में दर्द, हड्डियों में दर्द या कमर में दर्द की परेशानी हो सकती है| ऐसे में आपकी इस परेशानी से निजात दिलाने में दूध अहम् रोल निभा सकता है, दरसल दूध में कैल्शियम प्रचुर मात्रा में होता है इसीलिए नियमित रूप से दूध का सेवन करने से शरीर में कैल्शियम की कमी दूर होती है| हड्डियां मजबूत बनती है और कमर दर्द की परेशानी से भी छुटकारा (kamar dard ka ilaj) मिलता है| लेकिन एक बात का ख्याल रखें दूध कमर दर्द की परेशानी को कम करने में लाभकारी तभी होगा जब कमर में दर्द की परेशानी कैल्शियम की कमी से हो रहा हो|

कमर दर्द या पीठ के निचले हिस्से के दर्द का घरेलू इलाज है तेल मालिश (Herbal Oil: Home remedies for Lower back pain in hindi)

प्रचीन समय से तेल मालिश को बहुत ज्यादा लाभकारी माना जाता है क्योंकि तेल मालिश से ब्लड सर्कुलेशन बेहतर होने के साथ साथ मांसपेशियों को भी आराम पहुँचता है| अगर आपकी कमर में दर्द मांसपेशियो की सूजन या अकड़न की वजह से हो रहा है और आप कमर दर्द के घरेलू उपाय या पीठ की निचले हिस्से में दर्द की दवा ढूंढ रहे है तो तेल मालिश आपके लिए बेहतरीन विकल्प साबित हो सकती है| सबसे पहले थोड़ा सा नीलगिरी का तेल या बादाम का तेल या जैतून का तेल या नारियल का तेल में से कोई सा एक तेल लेकर थोड़ा सा गर्म कर लें| फिर गुनगुने तेल से कमर में दर्द वाली जगह पर हल्के हाथो से मालिश करने से जल्द कमर दर्द का इलाज (kamar dard ka ilaj) हो जाता है|

पुरुषो में कमर दर्द का घरेलू इलाज है गेहूं की रोटी (Wheat Bread: Home remedies for Lower back pain in hindi)

प्राचीन समय में जब किसी भी पुरुष या महिला की कमर में दर्द की परेशानी होती थी तो कमर दर्द का इलाज वो गेहूं की रोटी से कर देते है| आपको शायद विश्वास ना हो लेकिन कमर दर्द का घरेलू उपाय काफी फायदेमंद होता है, पीठ के निचले हिस्से का इलाज करने के लिए सबसे पहले एक कच्ची रोटी लें फिर इस रोटी को एक तरफ से अच्छी तरह से सेक लें ख्याल रखें दूसरी तरफ से बिल्कुल भी नहीं सेकना है| रात को सोने से एक तरफ से सिकी हुई रोटी लेकर जिस तरफ से सिकी नहीं है उस तरफ या रोटी के कच्चे वाले हिस्से पर तिल का तेल अच्छी तरह से लगाकर तेल लगी सतह को दर्द वाले हिस्से पर रखकर किसी पट्टी या कपड़े से बांध कर सो जाएं| सुबह जब आप उठेंगे तो आपको कमर दर्द की परेशानी से छुटकारा (Home remedies for Lower back pain in hindi)
मिल जाता है|

कमर दर्द का रामबाण इलाज है सेंधा नमक (Rock Salt: Home Remedy for Lower Back Pain in Hindi)

सेंधा नमक आपको लगभग सभी घरो में आसानी से मिल जाता है, सेंधा नमक में मौजूद औषधीय गुण और पोषक तत्व कमर दर्द का इलाज करने में मददगार साबित होते है| सबसे पहले सेंधा नमक में थोड़ा सा पानी डालकर गाढ़ा पेस्ट बना लें फिर इस पेस्ट को किसी कपड़े में डालकर अच्छी तरह से निचोड़ कर पानी निकाल दें, बचे हुए मिश्रण को दर्द वाली जगह पर लेप की तरह लगा लें, जल्द ही आपको कमर दर्द मंर आराम मिलता है| सेंधा नमक को कमर दर्द की रामबाण दवा या पीठ के निचले हिस्से में दर्द का रामबाण इलाज (kamar dard ke upay) भी कह सकते है।

पीठ के निचले हिस्से के दर्द का घरेलू उपचार बर्फ की सिकाई (Ice Compress : Home remedies for Lower back pain in hindi)

अगर आपकी कमर में दर्द की समस्या हो रही है और कमर दर्द का कारण मांसपेशियो में सूजन है तो बर्फ की सिकाई आपके लिए लाभकारी (कमर दर्द का इलाज) साबित हो सकती है| थोड़े से बर्फ के टुकड़े से सिकाई करने से कमर दर्द का इलाज हो सकता है, लेकिन बर्फ की सिकाई डॉक्टर से परामर्श लेने के बाद करनी चाहिए, क्योंकि बर्फ की सिकाई कुछ मामलो में नुक्सान भी दे सकती है इसीलिए अपनी मर्जी से कभी भी बर्फ की सिकाई नहीं करनी चाहिए|

कमर दर्द की घरेलू दवा है तुलसी (Tulsi: Home Remedies for Lower Back Pain in Hindi)

तुलसी में मौजूद औषधीय गुण कमर दर्द का इलाज करने में सहायक होते है, कमर दर्द का इलाज करने के लिए सबसे पहले एक कप पानी लेकर उसे गर्म होने के लिए रख दें, फिर 8 से 10 तुलसी की पत्तियां लेकर उन्हें अच्छी तरह से धोकर पानी में डाल दें, पानी को तब तक उबालें जब तक पानी आधा ना हो जाएं, फिर गैस को बंद कर दें और फिर पानी के ठंडा होने पर किसी कप में छान लें, कप में चुटकी भर नमक डालकर अच्छी तरह से मिलाकर पी लें, नियमित रूप से इस घरेलू उपाय को अपनाने से पुराने से पुराने कमर दर्द से छुटकारा मिल जाता है|

कमर दर्द या पीठ के निचले हिस्से में दर्द की रामबाण दवा है हर्बल चाय (Ginger: Home Remedies for Lower Back Pain in Hindi)

आज हम आपको ऐसी चाय के बारे में बताने जा रहे है जिसे पीने से आपको कमर दर्द की परेशानी से छुटकारा मिल जाता है| सबसे पहले एक कप पानी लेकर उसे गर्म होने के लिए रख दें फिर पानी में काली मिर्च, लौंग पाउडर और अदरक का पाउडर डालकर पानी को अच्छी तरह से पका लें, फिर पानी को छान लें फिर चाय की तरह सिप सिप लेकर पी लें, अगर आपको पीने में परेशानी है तो थोड़ा सा शहद भी मिला सकते है| नियमित रूप से इस चाय को पीने से आप कमर दर्द की परेशानी से बच सकते है|

पीठ के निचले हिस्से में दर्द से तुरंत आराम दिलाने में सहायक है लैवेंडर और अरंडी तेल (Home remedies for Lower back pain in hindi)

लैवेंडर तेल और अरंडी का तेल कमर दर्द से छुटकरा दिलाने में मददगार साबित होते है, सबसे पहले एक चम्मच अरंडी का तेल लेकर उसे गर्म कर लें जब तेल गर्म हो जाएं तो उसमे लैवेंडर तेल की कुछ बूंदें डाल कर अच्छी तरह से मिला लें, फिर इस मिश्रण को कमर में दर्द वाली जगह पर लगा कर हल्के हाथो से मालिश करें, मालिश करने से आपको जल्द कमर दर्द की समस्या में आराम मिलता है| इस तेल से मालिश करने से आपको कमर दर्द से छुटकारा मिलने के साथ साथ मांसपेशियों को भी आराम मिलता है|

कमर दर्द से बचने के उपाय या पीठ के निचले हिस्से में दर्द से कैसें बचें? (How to Prevent Lower Back Pain in Hindi)

आम तौर पर खराब जीवनशैली भी कमर दर्द का कारण होती है, अगर आप नियमित रूप से कुछ टिप्स या उपाय अपनाएं तो आप आसानी से कमर दर्द की परेशानी से बच सकते है| चलिए अब हम आपको कुछ ऐसे उपाय बताने जा रहे है जिन्हे अपनाकर आप आसानी से पीठ के निचले हिस्से में दर्द की समस्या से बच सकते है

  • अगर आप घंटो या लंबे समय तक बैठकर काम करते है तो ऐसी कुर्सी का चयन करें जिसमे आपको आराम मिलें, लंबे समय तक बैठे ना रहे कोशिश करें की प्रत्येक एक या दो घंटे में कुर्सी उठकर थोड़ी देर घूम लें ऐसा करने से आपकी शारीरिक स्थिति में बदलाव आ जाता है| शरीर को रिफ्रेश करने के लिए आप स्ट्रेचिंग भी कर सकते है, बैठने के साथ साथ आपको यह भी ख्याल रखना है की कभी भी अचानक या एकदम से झुकने से बचना चाहिए और बैठते समय सही पोजीशन में बैठे ऐसा करके आप कमर दर्द की परेशानी (kamar dard ke upay) से अपने आपको बचा सकते है|
  • अगर आप कंप्यूटर के आगे बैठ कर काम करते है तो आपको ख्याल रखना चाहिए की लैपटॉप और डेस्कटॉप पर काम करते समय गर्दन को ना झुकाएं और शरीर के ऊपरी भाग को 90 डिग्री के कोण में सीधा रखना चाहिए, अगर आप शरीर के ऊपरी भाग को सीधा नहीं रखते है तो इसका असर रीढ़ की हड्डी के निचले भाग पर पड़ता है जिसकी वजह से कमर दर्द की परेशानी हो सकती है| इसीलिए अगर आप कमर दर्द से बचना चाहते है तो बैठने की पोजीशन का ख्याल रखें|
  • अगर आप कमर दर्द की परेशानी से अपने आपको बचाना चाहते है तो पैदल चलें, कया हुआ सुनकर अजीब लगा लेकिन यह सच है दरसल जब कोई भी इंसान पैदल चलता है तो इससे शरीर की मांसपेशियो में ब्लड सर्कुलेशन बेहतर होता है| जब शरीर में ब्लड सर्कुलेशन बेहतर रहता है तो कमर दर्द जैसी परेशानियो से अपने आपको बचा सकते है|
  • अगर आप किसी भी प्रकार वजन उठा रहे है तो कभी भी झटके से वजन नहीं उठाना चाहिए, वजन उठाते हुए ख्याल रखें सबसे पहले वजन के पास अपना शरीर ले जाएं और आराम से वजन उठाएं, अगर आप अचानक से या झटके से वजन उठाते है तो कई बार झटके से वजन उठाने पर कमर में झटका भी आ सकता है और इस झटके की वजह से कमर में दर्द की तकलीफ हो सकती है।
  • संतुलित और पोषक तत्वों से भरपूर आहार लेने से भी आप कमर दर्द की परेशानी से बच सकते है, कमर दर्द होने का कारण पोषक तत्वों की कमी भी होती है| किसी भी इंसान के शरीर में कैल्शियम की कमी से हड्डियां कमजोर हो जाती है हड्डियों के कमजोर होने पर इंसान को जोड़ो में दर्द या कमर दर्द जैसी परेशानियो का सामना करना पड़ सकता है, इसीलिए अगर आप कमर दर्द या पीठ दर्द से बचना चाहते है तो संतुलित और पोषक तत्वों से भरपूर भोजन करें|
  • पुरुषो में कमर दर्द होने का कारण है गलत तरीके से सोना, कुछ मामलो में इंसान जब गलत पोजीशन या ऐसे बिस्तर पर सो जाता है जिसका दुष्प्रभाव उसकी कमर पर पड़ता है तो कमर दर्द की समस्या उतपन्न हो जाती है| इसीलिए कमर दर्द से बचने के लिए सोने का सही तरीका अपनाएं और करवट लेकर सोएं।
  • कमर दर्द या पीठ में दर्द के होने का कारण मानसिक तनाव भी होता है, इसीलिए अगर आप कमर दर्द से बचना चाहते है तो मानसिक तनाव से दूर रहें, अगर आप किसी भी प्रकार के मानसिक तनाव से ग्रसित है तो आप योग करके तनाव से मुक्ति पा सकते है|
  • अगर आप धूम्रपान करते है तो आपको कैंसर, डायबिटीज, कमर दर्द या अन्य बीमारियो के होने की प्रबल संभावना होती है| कुछ मामलो में देखा जा है की धूम्रपान करने वाले इंसानो में कमर दर्द की परेशानी ज्यादा देखने को मिलती है इसीलिए धूम्रपान करने से बचें, धूम्रपान को पुरुषो में कमर दर्द होने के कारण भी माना जाता है|
  • नियमित व्यायाम और योग करने से भी आप अपने आपको कमर दर्द की परेशानी से बचा सकते है| कमर दर्द की परेशानी मांसपेशियो में खिचाव की वजह से भी होता है ऐसे में नियमित रूप से व्यायाम और योग करने से शरीर बेहतर होने के साथ साथ तनाव भी कम होता है|

2 & 5 मिनट में कमर दर्द से आराम कैसे पाएं

आज के समय में लगभग सभी इंसान बिमारी से जल्द से जल्द छुटकारा पाना चाहते है, कुछ मामलो में कमर दर्द बहुत ज्यादा तीव्र होता है जिसकी वजह से इंसान विचलित हो जाता है| कमर दर्द से पीड़ित इंसान कमर दर्द से तुरंत आराम दिलाने के घरेलू उपाय, कमर दर्द से तुरंत आराम के घरेलू उपाय, 2 मिनट में कमर दर्द से आराम पाने का तरीका, 2 मिनट में कमर दर्द से आराम कैसे पाएं, 5 मिनट में कमर दर्द से छुटकारा कैसे पाएं, कमर दर्द से तुरंत आराम दिलाने का घरेलू उपाय, 5 मिनट में कमर दर्द से आराम पाने का उपाय इत्यादि लिखकर सर्च करता है| कमर दर्द से तुरंत आराम पाने के लिए आप योग या एक्सरसाइज़ का सहारा ले सकते है, हालाँकि यह भी सच है की घरेलू उपाय या नुस्खों से आपको तुरंत आराम नहीं मिलता है लेकिन दर्द से कुछ राहत जरूर मिल जाती है|

कमर दर्द के लिए योगासन कौन कौन से है?

आज के समय में पीठ दर्द, कमर दर्द, सरवाइकल और कमर से जुड़ी अन्य समस्याओ का सामना अधिकतर इंसान कर रहे है| अगर आप भी कमर दर्द से ग्रसित है तो आप योग की मदद से कमर दर्द की परेशानी से छुटकारा पा सकते है, कुछ इंसान इंटरनेट पर कमर दर्द के लिए योगासन, कमर दर्द से तुरंत आराम दिलाने के लिए एक्सरसाइज़, कमर दर्द से तुरंत आराम पाने के लिए योग, कमर दर्द के लिए बाबा रामदेव के उपाय इत्यादि लिखकर सर्च करता है| कमर दर्द से छुटकारा पाने का सबसे अच्छा और आसान तरीका योग (Yoga for Back pain) ही होता है, चलिए अब हम आपको कमर दर्द से आराम दिलाने के लिए योगासन के बारे में जानकारी उपलब्ध करा रहे है

कमर दर्द से छुटकारा दिलाने में सहायक होता है मकरासन (makarasana : kamar dard ka gharelu upchar)

कमर दर्द से पीड़ित है तो आपकी इस परेशानी से छुटकारा दिलाने में मकरासन लाभदायक होता है| मकरासन को करने के लिए सबसे पहले आप पेट के बल सीधे लेट जाएं, उसके बाद कंधो को ऊपर उठाएं और गर्दन को सीधा रखें, फिर दोनों हाथो को मोड़ते हुए अपनी दोनों हथेलियों के बीच में अपनी थोडी को रख लें| इसी मुद्रा में पहले बाएं पैर को मोड़ते हुए कूल्हे तक ले जाएं फिर दाएं पैर को भी ऐसे ही करें, अगर आप मकरासन पहले बार कर रहे है तो हम सलाह देंगे की किसी योग एक्सपर्ट की निगरानी में ही करें, मकरासन नियमित रूप से करने से आपको दमा, श्वांस संबंधी समस्या और कमर दर्द से आराम मिलता है, मकरासन को कुछ इंसान कमर दर्द का रामबाण इलाज भी कहते है|

कमर दर्द से आराम दिलाने में मददगार है भुजंगासन (bhujangasana : kamar dard ka ilaaj )

भुजंगासन से भी आप कमर दर्द की परेशानी से आराम पा सकते है, भुजंगासन भी पेट के बाल लेटकर किया जाता है, भुजंगासन करने के लिए सबसे पहले आप पेट के बल लेट जाएं फिर अपने दोनों हाथो की मदद से शरीर का ऊपरी भाग उठाएं, भुजंगासन में इंसान ऐसी स्थिति में दिखाई देता है जैसे सांप अपना फन उठा कर बैठा है| भुजंगासन करने से आपको कमर दर्द की परेशानी से जल्द लाभ मिलता है|

पीठ दर्द से आराम दिलाने के लिए योग है हलासन (halasana: kamar dard ka gharelu ilaaj )

हलासन करने के लिए सबसे पहले आप सीधे लेट जाएं, अपने दोनों हाथो को सीधा रख लें, फिर अपने दोनों पैरो को ऊपर उठाते हुए सर के पीछे तक लें जाएं, फिर धीर धीरे पैरो को वापस ले आएं| इस आसान में इंसान की स्थिति हल की तरह होती है इसीलिए इस योग को हलासन कहा जाता है, हलासन करने से जल्द कमर दर्द या पीठ दर्द की समस्या से जल्द निजात मिल जाती है|

पीठ के निचले हिस्से में दर्द का इलाज है अर्ध मत्स्येन्द्रासन

अगर आप पीठ के निचले हिस्से में दर्द की परेशानी से ग्रसित है तो आपकी इस परेशानी को दूर करने के लिए आप अर्ध-मत्स्येन्द्रासन को कर सकते है| इस योग का निर्माण गोरखनाथ के गुरु स्वामी मत्स्येन्द्रनाथ के द्वारा किया गया था, नियमित रूप से इस आसन को करने से जल्द पीठ के निचले हिस्से में दर्द से छुटकारा मिल जाता है|

पतंजलि कमर दर्द की दवा,  कमर दर्द का इलाज इन पतंजलि

कमर दर्द की परेशानी बहुत ज्यादा तकलीफ देती है इसीलिए अधिकतर इंसान कमर दर्द से तुरंत आराम दिलाने के उपाय या इलाज ढूंढ़ता है| कमर दर्द से पीड़ित इंसान इंटरनेट पर पतंजलि कमर दर्द की दवा, कमर दर्द की दवा इन पतंजलि, पतंजलि में कमर दर्द की दवा का नाम कया है?, कमर दर्द का इलाज इन पतंजलि, बाबा रामदेव की कमर दर्द की दवा, कमर दर्द के लिए बाबा रामदेव के टिप्स, पतंजलि पीठ के निचले हिस्से में दर्द का इलाज, पीठ के निचले हिस्से में दर्द की दवा इन पतंजलि इत्यादि लिखकर सर्च करते है|

पतंजलि कमर दर्द की दवा है Peedantak Taila

अगर आप कमर दर्द से पीड़ित है तो पतंजलि कमर दर्द की दवा का नाम है Peedantak Taila | पतंजलि कंपनी के द्वारा निर्मित इस आयल का निर्माण आयुर्वेदिक औषधियो के द्वारा किया गया है इसलिए इसके दुष्प्रभाव नहीं होते है, पतंजलि कमर दर्द की दवा को लगाने से बहुत जल्द आपको दर्द से आराम प्राप्त होता है| पतंजलि कमर दर्द की दवा को आप पतंजलि स्टोर या ऑनलाइन भी खरीद सकते है|

कमर दर्द की दवा इन पतंजलि – Patanjali Peedantak ointment

पतंजलि कंपनी ने दर्द से निजात दिलाने के लिए Patanjali Peedantak ointment का निर्माण किया है, अगर आप पतंजलि कमर दर्द की दवा सर्च कर रहे है तो Patanjali Peedantak ointment आपके लिए बेहतरीन विकल्प साबित हो सकता है| पतंजलि कमर दर्द की दवा का निर्माण कंपनी ने औषधियो के द्वारा किया गया है| पतंजलि कमर दर्द की दवा पूरी तरह से हर्बल मरहम है इसीलिए इसके नुक्सान नहीं होते है, कमर दर्द की परेशानी होने पर थोड़ा सा मरहम लेकर दर्द वाली जगह पर हल्की सी मालिश करते हुए लगा लें, जल्द ही आपको दर्द से आराम प्राप्त होता है| पतंजलि कमर दर्द की दवा को लगाने से ब्लड सर्कुलेशन बेहतर होता है और मरहम की गर्माहट दर्द से राहत दिलाती है|

हम आशा करते है की आपको हमारा लेख कमर दर्द का इलाज या पीठ के निचले हिस्से में दर्द के घरेलू उपाय (Home remedies for Lower back pain in hindi) में दी गई जानकारी पसंद आई होगी लेकिन अगर आप हमारे द्वारा दी गई जानकारी से संतुष्ट नहीं है तो आप गूगल या बिंग पर कमर दर्द का इलाज या पीठ के निचले हिस्से में दर्द के घरेलू उपाय (Home remedies for Lower back pain in hindi ) लिखकर सर्च कर सकते है|

error: Content is protected by DCMA !!
टाइफाइड के लक्षण (typhoid symptoms in hindi) jaldi mote hone ki 5 best homeopathic dawa