web analytics
Sun. Sep 25th, 2022

fenugreek seeds in hindi : शायद ही कोई घर हो जिसमे मेथी (fenugreek seeds in HIndi ) का इस्तेमाल ना होता हो, सब्जी से लेकर पराठे तक मेथी का उपयोग किया जाता है। मेथी खाने को स्वादिष्ट बनाने के साथ साथ हमारे शरीर के लिए भी लाभदायक होते है, आयुर्वेद के अनुसार मेथी के पत्ते और दानों का उपयोग औषधि के रूप में भी होता है। मेथी को स्वास्थ्य को बेहतर बनाने के साथ साथ कई बीमारियो को दूर करने में लाभकारी होती है| fenugreek seeds in hindi या मेथी को कुछ जगहों पर मेथिका (methika) के नाम से भी पुकारा जाता है, मेथी के पत्तों का साग और भुज्जी का सेवन सबसे ज्यादा पसंद किया जाता है| आयुर्वेद के अनुसार मेथी अनेक रोगों की दवा के रूप में जाना जाता है, मेथी के बीज, पत्ते या मेथी के तेल (methi ka tel) सभी में औषधीय गुण होते है, चलिए अब हम मेथी के बारे में जानकारी उपलब्ध करा रहे है –

Table of Contents

मेथी क्या है? – What is Fenugreek in Hindi

मेथी को आप एक प्रकार की खाद्य सामग्री के रूप में जान सकते है, मेथी के बीज का इस्तेमाल भोजन बनाते समय छोंक में किया जाता है, दूसरी तरफ पत्तो का सेवन सब्जी और साग के रूप में किया जाता है| मेथी के पौधे (fenugreek plant in HIndi) की लम्बाई लगभग दो से तीन फीट होती है। मेथी के पौधे पर छोटे-छोटे सफ़ेद रंग के फूल और फली आती है, मेथी के बीजो का स्वाद कड़वा होता है।

मेथी के फायदे – Benefits of Fenugreek Seeds in Hindi

मेथी में औषधीय गुण होने की वजह से इसके फायदे बहुत ज्यादा होते है, चलिए अब हम आपको मेथी के फायदे (methi ke fayde) के बारे में जानकारी उपलब्ध करा रहे है –

हाई ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करने में मेथी के फायदे (fenugreek seeds Benefits to Keep Stable Blood Pressure in Hindi)

आज के समय में हाई ब्लड प्रेशर की समस्या से पीड़ित है, लो ब्लड प्रेशर के मुकाबले हाई ब्लड प्रेशर को ज्यादा खतरनाक माना जाता है क्योंकि हाई ब्लड प्रेशर होने पर कई सारी घातक बीमारियो के होने की प्रबल सम्भावना होती है| अगर आप हाई ब्लड प्रेशर की समस्या से पीड़ित है तो आपकी इस समस्या में मेथी का सेवन आपके लिए लाभकारी साबित हो सकता है| मेथी में मौजूद पोषक तत्व और एंटी-हाइपरटेन्सिव गुण हाई ब्लड प्रेशर की समस्या नियंत्रित करने में मददगार होते है| नियमित रूप से मेथी के दानो (Benefits of Fenugreek Seeds in Hindi) का सेवन करने से जल्द ही हाई ब्लड प्रेशर की परेशानी में आराम मिलता है|

पाचन-तंत्र से सम्बंधित परेशानियो को दूर करने में मेथी के फायदे (Benefit of fenugreek seeds for Dygestive Disorder in Hindi)

आज के समय में पाचन तंत्र से सम्बंधित परेशानियो का सामना कर रहे है मेथी में मौजूद गुण और पोषक तत्व पाचन तंत्र को मजबूत करने के साथ साथ कई सारी अन्य परेशानियो को दूर करने में सहायक होते है| नियमित रूप से मेथी के बीज का सेवन करने से पाचन-तंत्र मजबूत होने के साथ साथ जल्द आपकी भूख भी बढ़ने लगती है|

अर्थराइटिस (गठिया) के इलाज की आयुर्वेदिक दवा है मेथी (fenugreek seeds is Beneficial to Treat Arthritis in Hindi)

गठिया की बीमारी का सामना बहुत सारे पुरुष या महिला कर रहे है, आमतौर पर गठिया या अर्थराइटिस की परेशानी हड्डियों में कमजोरी की वजह से होती है| मेथी में मौजूद गुण और पोषक तत्व हड्डियों की कमी को दूर करके गठिया या अर्थराइटिस की परेशानी को दूर करने में सहायक होते है| नियमित रूप से मेथी के बीजो का सेवन करने से कुछ ही दिनों में गठिया या अर्थराइटिस की परेशानी और उससे होने वाले दर्द से आराम मिलता है|

सूजन में मेथी के फायदे (methi ke fayde))

मेथी में मौजूद सूजनरोधी गुण किसी भी प्रकार की सूजन को दूर करने में सहायक होते है, शरीर के किसी भी भाग में सूजन कभी भी आ सकती है, हालाँकि सबसे पहले इंसान को सूजन आने का कारण जानना बहुत जरुरी है, अगर आपके शरीर के किसी भी हिस्से सूजन आने की समस्या है तो थोड़े से मेथी के पत्ते लेकर उन्हें अच्छी तरह से धो लें, फिर मेथी के पत्ते और बीजों को साथ में मिक्सी की मदद से बारीक पीस कर लेप बना लें, फिर इस लेप को सूजन वाले स्थान पर लगाने से जल्द ही आपको सूजन की परेशानी में लाभ मिलता है|

त्वचा से सम्बंधित परेशानी को दूर करने में मेथी के फायदे (fenugreek seeds Benefits for Skin Disease in Hindi)

अगर आप त्वचा से सम्बंधित परेशानी जैसे त्वचा में खुजली, दाद और एलर्जी इत्यादि का सामना कर रहे है तो आपके लिए मेथी लाभकारी साबित हो सकती है| मेथी में मौजूद गुण और पोषक तत्व त्वचा को स्वस्थ बनाने के साथ साथ त्वचा से सम्बंधित परेशानियो को दूर करने में सहायक होते है| सबसे पहले मेथी के बीज को थोड़े से पानी के साथ पीस कर पेस्ट बना लें, अब इस पेस्ट का लेप त्वचा पर कर लें, लगभग 20 से 30 मिनट बाद त्वचा को धो लें| मेथी के बीज का लेप करने से त्वचा से सम्बंधित परेशानियो से जल्द आराम मिलता है| त्वचा से सम्बंधित परेशानी होने पर स्किन डॉक्टर से परामर्श लेने के बाद मेथी का लेप (methi ke fayde) करने से जल्द और पूर्ण लाभ मिलता है|

शरीर में दर्द होने पर मेथी का औषधीय गुण फायदेमंद (Methi Benefits to Get Relief from Body Pain in Hindi)

शरीर में दर्द की परेशानी कभी भी किसी भी इंसान के साथ हो सकती है, शरीर में दर्द की परेशानी बहुत ही आम होती है| शरीर में दर्द होने पर पहले दर्द का कारण जरूर जानना चाहिए, कई बार अधिक मेहनत का काम करने से, चोट लगने से काम और किसी अन्य वजह से भी शरीर में दर्द की परेशानी हो सकती है| मेथी के दानों में मौजूद तत्व और दर्दनिवारक गुण शरीर में दर्द की समस्या से आराम दिलाने में सहायक होते है, नियमित रूप से सुबह और शाम मेथी चूर्ण का सेवन करने से जल्द ही शरीर के दर्द से आराम प्राप्त होता है|

लीवर को स्वस्थ रखने में मेथी के फायदे (Benefits of Methika for Healthy Liver in Hindi)

अगर आप लिवर से सम्बंधित परेशानी से बचना चाहते है तो मेथी के बीज आपके लिए लाभकारी साबित हो सकते है| मेथी में मौजूद एंटी-ऑक्सीडेंट और हिपेटो-प्रोटेक्टिव गुण के साथ साथ लिवर को स्वस्थ रखने वाले पोषक तत्व होते है जो लीवर को स्वस्थ रखने के साथ साथ लिवर से सम्बंधित परेशानियो को दूर करने में लाभदायक होते है|

घावों में मेथी के फायदे (Benefits of Methi for Healing Wounds in Hindi)

अगर आप घाव की परेशानी का सामना कर रहे है तो ऐसे में घाव को भरने के साथ साथ घाव की वजह से होने वाली सूजन और दर्द में आराम दिलाने में मेथी के बीज लाभकारी साबित हो सकते है| मेथी में मौजूद औषधीय गुण और पोषक तत्व घाव और घाव से होने वाली परेशानियो को दूर करने में मददगार साबित होते है| घाव की परेशानी होने पर थोड़े से मेथी के पत्तों को लेकर उन्हें अच्छी तरह से धोकर महीन पीस लें, पीसी हुई मेथी को घाव पर लगाने से जल्द ही घाव, घाव की सूजन और जलन में आराम प्राप्त होता है|

गोनोरिया का घरेलू इलाज करने में मेथी के फायदे (Benefits of fenugreek seeds for Gonorrhea Treatment in Hindi)

अगर आप गोनोरिया की परेशानी से पीड़ित है और आप गोनोरिया की आयुर्वेदिक दवा ढूंढ रहे है तो मेथिक के बीज आपकी इस बीमारी को दूर करने में सहायक साबित हो सकते है| लगभग दो ग्राम मेथी के बीज का चूर्ण को थोड़े से गुड़ में अच्छी तरह से मिलाकर खाने से गोनोरिया की परेशानी जल्द समाप्त हो जाती है| गोनोरिया का घरेलू इलाज करने में मेथी के फायदे  (methi ke fayde) का पूर्ण लाभ लेने के लिए आयुर्वेदिक चिकित्सक से परामर्श जरूर करें।

मासिक धर्म से सम्बंधित परेशानियो को दूर करने में मेथी के फायदे (Benefits of Fenugreek for Menstrual Problems in Hindi)

आज के समय में अधिकतर महिलाएँ मासिक धर्म से संबंधित किसी ना किसी समस्या का सामना कर रही है| मासिक धर्म से सम्बंधित परेशानी जैसे मासिक धर्म के दौरान पेट में दर्द, अधिक रक्तस्राव इत्यादि परेशानी को दूर करने में भी मेथी के फायदे देखे जा सकते है| मेथी के बीजो में मौजूद एस्ट्रोजेन मासिक धर्म से जुड़ी समस्याओं से आराम दिलाने में सहायक होते है, नियमित रूप से मेथी के बीज का सेवन करने से मासिक धर्म के दौरान होने वाले दर्द से आराम (methi dana ke fayde) मिलने के साथ मासिक धर्म से सम्बंधित अन्य समस्याओं में भी आराम मिलता है|

प्रसव के बाद महिलाओं के लिए मेथी के फायदे (Fenugreek is Beneficial for After Pregnancy Women in Hindi)

किसी भी महिला का प्रसव के बाद दूसरा जीवन भी माना जाता है, प्रसव के बाद का समय महिला और उसके शिशु के लिए बहुत ज्यादा महत्पूर्ण होता है| प्रसव के बाद होने वाली परेशानियो में भी मेथी के फायदे देखे जा सकते है, शिशु के लिए माँ का दूध सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण होता है, अगर माँ के दूध की गुणवत्ता अच्छी होती है तो इसका सीधा असर शिशु के स्वास्थ्य पर पड़ता है| इसीलिए अगर आप भी अपने दूध की गुणवत्ता में सुधार लाना चाहते है तो मेथी का सेवन मेथी की सब्जी, सूप इत्यादि तरह से कर सकते है|

पेचिश का इलाज करने में मेथी के फायदे (Methi Seed Benefits to Stop Dysentery in Hindi)

अगर आप दस्त या पेचिश की समस्या से ग्रसित है तो मेथी के बीज आपके लिए लाभकारी साबित हो सकते है| मेथी के बीज में मौजूद गुण और पोषक तत्व पेचिश का इलाज करने में सहायक हो सकते है| थोड़े से मेथी के बीजों को घी में भून कर सेवन करने से जल्द आपको पेचिश और दस्त की समस्या से आराम मिलता है।

मधुमेह की परेशानी में मेथी के फायदे (fenugreek seeds Powder Benefits to Control Blood Sugar Level in Hindi)

आज के समय में मधुमेह की परेशानी बहुत ही आम हो गई है, किसी भी इंसान के शरीर में मौजूद रक्त में शुगर की मात्रा ज्यादा या कम हो जाती है तो इंसान को मधुमेह के रोग से पीड़ित माना जाता है, अगर आपके शरीर में शुगर की मात्रा बड़ गई है तो आपकी इस परेशानी को कम करने में आप मेथी के फायदे (methi ke fayde) देख सकते है| नियमित रूप से मेथी के बीजो का सेवन करने से आपके शरीर में मौजूद ब्लड में शुगर की मात्रा नियंत्रित रहती है, सबसे पहले मेथी के दानों को महीन पीसकर चूर्ण बना कर रख लें, फिर रोजाना सुबह खाली पेट एक चम्मच मेथी के बीजो का चूर्ण हल्के गर्म पानी के साथ सेवन करने से जल्द आपको मधुमेह की परेशानी से रहत प्राप्त होती है|

उल्टी की परेशानी को रोकने में मेथी के फायदे (Fenugreek Seed Benefits to Stop Vomiting in Hindi)

उल्टी की परेशानी कभी भी किसी भी इंसान के साथ हो सकती है, बार-बार उल्टी आने से परेशान है तो मेथी के बीजों का चूर्ण आपके लिए फायदेमंद साबित हो सकता है| मेथी में मौजूद औषधीय गुण उल्टी आने की परेशानी को खत्म करने में सहायक होते है| हालाँकि उल्टी आने पर सबसे उल्टी आने के कारण जानने चाहिए और उल्टी की परेशानी होने पर आयुर्वेदिक चिकित्सक से परामर्श लेने के बाद ही मेथी का सेवन करें, आयुर्वेदिक चिकित्सक उल्टी आने की वजह और आपके शरीर के हिसाब से उचित खुराक की जानकारी देता है जिससे आपको जल्द लाभ मिलता है।

कब्ज का इलाज करने में मेथी के फायदे (Fenugreek is Beneficial in Fighting with Constipation in Hindi)

आज के समय में असंतुलित भोजन की वजह से बहुत सारे इंसान कब्ज की समस्या से ग्रसित है, मेथी के औषधीय गुण कब्ज का इलाज करने में फायदेमंद साबित होते है। मेथी के पत्तो की भुज्जी या मेथी के पत्तों का साग का सेवन करने से आपको कब्ज की परेशानी से आराम प्राप्त होता है|

पेट के रोग को दूर करने में मेथी के फायदे (Fenugreek Benefits to Get Relief from Stomach Problems in Hindi)

ऊपर आपने पढ़ा की मेथी के बीज कब्ज की परेशानी को दूर करने में फायदेमंद होते है लेकिन कई आप जानते है मेथी के औसधिए गुण और पोषक तत्व पेट से सम्बंधित परेशानी जैसे अपच, पेट में दर्द, भूख की कमी, पेट का फूलना, पेट दर्द और गैस इत्यादि को दूर करने में भी सहायक होते है| पेट से सम्बंधित परेशानियो को दूर करने के लिए नियमित रूप से मेथी (Fenugreek Seeds in Hindi) , कलोंजी, अजवाइन और मंगरैला का सेवन करने से जल्द लाभ मिलता है|

कान बहने की समस्या में मेथी के फायदे (Benefits of Methi Seeds to Treat Runny Ear in Hindi)

कान के बहने की बीमारी किसी भी इंसान के साथ हो सकती है, अगर आप भी कान बहने की समस्या का सामना क्र रहे है तो मेथी आपके लिए लाभकारी साबित हो सकती है| मेथी के बीजो में मौजूद औषधीय गुण कान बहने की समस्या को समाप्त करने में सहायक होते है, थोड़े से मेथी के बीजों (Methi Seeds) को दूध के साथ पीस कर छान लें, इस छने हुए रस को हल्का गर्म करके एक या दो बूँद जो कान बह रहा है उसमे डाल लें, ऐसा करने से जल्द कान बहने की समस्या से रहत प्राप्त होती है|

ह्रदय से सम्बंधित रोगो में मेथी के फायदे (Methika Seed is Beneficial for Heart in Hindi)

मेथी में मौजूद एंटीआक्सीडेंट गुण और पोषक तत्व हृदय से सम्बंधित परेशानियो से आराम दिलाने मेंसहायक साबित हो सकते है| मेथी के बीज (Fenugreek Seeds in Hindi) का काढ़े में शहद को अच्छी तरह से मिलाकर पीने से आप अपने आपको हृदय रोग के खतरे से बचा सकते है|

बाल झड़ने की समस्या को समाप्त करने में मेथी के फायदे (Methi Seeds Benefits in Hair Loss in Hindi)

अगरआप बाल झड़ने की समस्या से ग्रसित है तो आप अपनी इस परेशानी को दूर करने में मेथी के फायदे देख सकते है, बाल झड़ने की समस्या बालो की जड़े कमजोर होना होता है| मेथी में मौजूद औषधीय गुण और पोषक तत्व बालो की जड़ो को जरुरी पोषक तत्व प्रदान करके उन्हें मजबूत बनाने में मददगार होते है, बालो की जड़े मजबूत होने पर बाल झड़ने की समस्या समाप्त हो जाती है| रात को दो चम्मच मेथी के दाने (Fenugreek Seeds in Hindi) एक गिलास पानी में रात भर के लिए भिगो कर रख दें, फिर सुबह उठकर मेथी केदानो को पानी में से निकाल कर महीन पीसकर पेस्ट बना लें अब इस पेस्ट को बालो और बालो की जड़ो में अच्छी तरह से लगा लें, फिर लगभग एक घण्टे इस लेप को लगा रहने दें, फिर बालों को पानी से धो लें। सप्ताह में तीन बार इस घरेलू उपाय को करने से कुछ ही दिनों में बालों के झड़ने (methi dana benefits for hair) की समस्या से छुटकारा मिल जाता है।

 कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने में मेथी के फायदे

शरीर में ख़राब कोलेस्ट्रॉल की मात्रा बढ़ने से कई सारी घातक समस्याएं उत्पन्न होने की प्रबल संभावना होती है, इसीलिए शरीर में ख़राब कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को नियंत्रित करना बहुत जरुरी होता है| मेथी में मौजूद औषधीय गुण और पोषक तत्व खराब कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को कम करने में सहायक होते है, नियमित रूप से मेथी के बीज (Fenugreek Seeds in Hindi)
का सेवन करने से जल्द लाभ मिलता हैं।

 कैंसर से बचाव में मेथी के फायदे – Benefits of Fenugreek Seeds in Hindi

कैंसर बहुत ही घातक बिमारी है अगर आप भी अपने आपको इस बिमारी से बचाना चाहते है तो आपके लिए मेथी के बीज लाभकारी साबित हो सकते है| मेथी में मौजूद एंटी कैंसर गुण कैंसर की समस्या से आपको बचने में सहायक होते है, एक बात का ख्याल हमेशा रखें मेथी के बीज कैंसर का इलाज नहीं करते है| मेथी के बीज (Fenugreek Seeds in Hindi)
कैंसर से बचाव करने में सहायक होते है, कैंसर से पीड़ित इंसान या कैंसर के लक्षण दिखाई देने पर लापरवाही बिलकुल ना करें तुरंत चिकित्सक से परामर्श और इलाज कराएं|

 वजन घटाने में मेथी के फायदे – Benefits of Fenugreek Seeds in Hindi

अगर आप अपना वजन कम करने के लिए परेशान है तो आपकी इस परेशानी को दूर करने में मेथी सहायक हो सकते है| मेथी में मौजूद गुण और पोषक तत्व वजन कम करने में मददगार साबित होते है, मेथी (Fenugreek Seeds in Hindi) में मौजूद फाइबर आपकी भूख को कम करने में और पेट को लम्बे समय तक भरने में मददगार होता है और जब इंसान की भूख कम हो जाती है तो इंसान का वजन कम होने लगता है|

मेथी का उपयोग कैसे करें – How to use Fenugreek in Hindi

ऊपर आपने मेथी के फायदों के बारे में जाना, अब हम आपको मेथी (fenugreek seeds in hindi) के उपयोग के बारे में बताते है, मेथी का उपयोग मसालें, सब्ज़ी, औषधि के रूप में कर सकते है| चलिए मेथी के उपयोग के बारे में जानते है-

  • मेथी (fenugreek seeds in Hindi) के पत्तो को सूखाकर आप इनका इस्तेमाल औषधि के रूप में भी कर सकते है|
  • fenugreek seeds in hindi या मेथी के बीज का उपयोग आप भिगोकर या सूखे भी कर सकते है|
  • मेथी के बीज या fenugreek seeds in hindi का इस्तेमाल मुख्य रूप से मसाले के रूप में किया जाता है, मेथी के दानो का उपयोग दाल, सब्जी और कई अन्य व्यंजनों में स्वाद बढ़ाने के लिए किया जाता है।
  • मेथी के बीजो का पॉउडर (fenugreek seeds powder in Hindi ) का उपयोग काफी सारे व्यंजनों और सूप इत्यादि में किया जाता है।
  • मेथी के पौधे का उपयोग सब्जी, साग इत्यादि के रूप में किया जाता है।
  • मेथी के बीज या fenugreek seeds in hindi का इस्तेमाल हर्बल चाय बनाने में भी होता है| मेथी की चाय बनाने के लिए सबसे पहले एक कप पानी को उबलने रख दें फिर उसमे मेथी के दाने डालकर अच्छी तरह से उबालने के बाद एक कप में छान लें, फिर इसमें थोड़ा सा नींबू का रस और लगभग एक चम्मच शहद डालकर अच्छी तरह से मिला लें, मेथी की हर्बल चाय बनकर तैयार है सिप सिप करके पी लें|
  • fenugreek seeds in hindi या मेथी के बीज़ो से तेल का निर्माण भी किया जाता है, मेथी के बीजो की तरह ही तेल में भी औषधीय गुण मौजूद होते हैं।

मेथी दाना की तासीर क्या होती है – Nature of Fenugreek Seeds in HIndi

वैसे तो अधिकतर इंसानो को मेथी के दाने या fenugreek seeds की तासीर के बारे में जानकारी होती ही है लेकिन अगर आपको मेथी की तासीर के बारे में जानकारी नहीं है तो परेशान ना हो हम आपकी इस परेशानी का समाधान करते है| fenugreek seeds in hindi या मेथी के दानो की तासीर गर्म होती है, तासीर गर्म होने की वजह से इनका इस्तेमाल कम मात्रा में ही किया जाता है|

मेथी के नुकसान – Side Effects of Fenugreek Seeds in Hindi

यह तो आप समझ ही गए होंगे की fenugreek seeds in hindi या मेथी के दानो में मौजूद औषधीय गुण हमारे शरीर के लिए बहुत ज्यादा फायदेमंद होते है, हालाँकि मेथी के दानो के नुक्सान बहुत कम ही देखने को मिलते है| लेकिन मेथिकेदानो का सेवन अधिक मात्रा में करने से या तासीर की वजह से कुछ नुक्सान भी देखने को मिलते है| चलिए अब हम आपको fenugreek seeds या मेथी के नुकसान के बारे में जानकारी उपलब्ध करा रहे है –

  • मेथी का सेवन पाचन तंत्र के लिए लाभदायक होता है लेकिन fenugreek seeds in hindi या मेथी का सेवन अधिक मात्रा में करने से पेट खराब भी हो सकता है|
  • fenugreel seeds in hindi या मेथी के दानो का सेवन उचित मात्रा में करने से दस्त की परेशानी दूर हो जाती है, लेकिन अधिक मात्रा मे सेवन करने से दस्त की समस्या बड़ सकती है या दस्त लग भी सकते है|
  • गर्भवती महिला को fenugreek seeds या मेथी के दानो का का सेवन अधिक मात्रा में करने से घातक परिणाम भुगतने पड़ सकते है, इसीलिए गर्भवती महिलाओ को fenugreek seeds in hindi या मेथी के दानों का सेवन स्त्री चिकित्सक से परामर्श के बाद ही करना चाहिए|
  • अगर आपको fenugreek seeds in hindi या मेथी के दाने का सेवन करने से खुजली, एलर्जी इत्यादि समस्या हो रही है तो आपको मेथी का सेवन करने बचना चाहिए|
  • मेथी (fenugreek seeds in hindi) की तासीर गर्म होने की वजह से आपको बवासीर, गैस और एसिडिटी इत्यादि की परेशानी हो सकती है|
  • अगर आप किसी बीमारी की वजह से कोई खास दवा खा रहे हो तो fenugreek seeds in hindi या मेथी के दानों का सेवन चिकित्सक से परामर्श लेने के बाद ही करें|
  • मधुमेह से पीड़ित इंसान को fenugreek seeds या मेथी के दानो का सेवन चिकित्सक से परामर्श करने के बाद ही करना चाहिए क्योंकि मेथी के दाने का सेवन करने से शुगर लेवल कम हो सकता है|
  • मेथी के बीज या fenugreek seeds in hindi का सेवन बच्चो के लिए उचित नहीं होता है, इसीलिए बच्चो को मेथी के दाने या fenugreek seeds का सेवन कराने से पहले बच्चो के डॉक्टर से परामर्श जरूर कर लें|

अन्य भाषाओं में मेथी के नाम (Name of Fenugreek in Different Languages)

fenugreek seeds को हिंदी में मेथी के नाम से जाना जाता है, fenugreek seeds in hindi या मेथी (methika) का वानस्पतिक नाम ट्राइगोनेला फीनम् ग्रीकम् (Trigonella foenum-graecum ) होता है। fenugreek seeds या मेथी का नाम अंग्रेजी, अरबी और अलग अलग भारतीय भाषाओं में अलग अलग होता है, चलिए अब हम आपको fenugreek seeds in hindi या मेथी के अलग अलग नामो के बारे में जानकारी उपलब्ध करा रहे है –
Fenugreek seeds in –

  • Fenugreek seeds in Hindi – मेथी

  • Fenugreek seeds in English – Fenugreek, Greek hay, Greek clover

  • Fenugreek seeds in Sanskrit – मेथिका, मेथिनी, मेथी, दीपनी, बहुपत्रिका, गन्धफला, वल्लरी, चन्द्रिका

  • Fenugreek seeds in Oriya – Methi

  • Fenugreek seeds in Assamese – Methi

  • Fenugreek seeds in Kannada – Menthe, Mente

  • Fenugreek seeds in Gujarati – methi, Methani

  • Fenugreek seeds in Tamil – Mentulu, Vandayam

  • Fenugreek seeds in Telugu – Mentikura, Mentulu

  • Fenugreek seeds in Bengali – Methi, Methani

  • Fenugreek seeds in Nepali – Methi

  • Fenugreek seeds in Punjabi – Methi, Methini

  • Fenugreek seeds in Marathi – Methi

  • Fenugreek seeds in Malayalam – Ullav, Uluva

  • Fenugreek seeds in Manipuri – Methi

  • Fenugreek seeds in Arabic – Hilbeh, Hulbah

हम आशा करते है की आपको हमारा लेख मेथी के फायदे ( Benefits of Fenugreek Seeds in HIndi ) में बताई गई जानकारी आपके लिए फायदेमंद साबित हो सकती है| अगर आपको मेथी के बारे में और अधिक जानकारी प्राप्त करना चाहते है तो आप गूगल या बिंग पर मेथी के फायदे ( Benefits of Fenugreek Seeds in HIndi ) लिखकर सर्च कर सकते है|

error: Content is protected by DCMA !!
टाइफाइड के लक्षण (typhoid symptoms in hindi) jaldi mote hone ki 5 best homeopathic dawa