web analytics
Sun. Sep 25th, 2022
fennel seeds in hindi

सौंफ के फायदे & नुकसान (benefits of fennel seeds in hindi) : सौंफ को Fennel seeds in Hindi or aniseed in Hindi के नाम से भी जाना जाता है| जब भी हम खाना खाने किसी भी होटल या रेस्टोरेंट में जाते है तो खाना खाने के बाद आपको  सौंफ (fennel seeds in hindi) और मिश्री सर्व करते है, खाने के बाद सौंफ खाने के लिए काफी सारे घरो में दी जाती है| सौंफ का सेवन तो लगभग सभी इंसान करते है लेकिन सौंफ के पूर्ण फायदों के बारे में अधिकतर इंसानो को जानकारी नहीं होती है| लेकिन कया आप जानते है की छोटी सी दिखने वाली सौंफ औषधीय गुणों और पोषक तत्वों से भरपूर होती है| अगर आपको सौंफ के फायदों के बारे में जानकारी नहीं है तो यह पेज आपके लिए फायदेमंद साबित हो सकता है|

इस पेज में हम आपको सौंफ (fennel seeds in hindi) के बारे में जानकारी उपलब्ध करा रहे है| अधिकतर इंसान सिर्फ यह जानते है की सौंफ एक माउथ फ्रेशनर के रूप में इस्तेमाल होती है या यह पेट के लिए लाभदायक और गैस की परेशानी को दूर करने में सहायक है| जबकि सौंफ भूख बढ़ाने में मदद करती है, पित्त को शांत करने में सहायक, भोजन को पचाता है, वीर्य की वृद्धि करने में मददगार, हृदय और मस्तिष्क के लिए लाभदायक होने के साथ साथ सौंफ बुखार, गठिया, घावों, दर्द, आँखों के रोग, अपच, कब्ज, पेट में कीड़े, उल्टी, पेचिश, बवासीर, टीबी इत्यादि बीमारियो में आराम दिलाने में सहायक साबित होती है|

Table of Contents

सौंफ क्या है (What is Saunf or what is fennel seeds in hindi ?)

सौंफ हल्के हरे रंग की होती है, प्राचीन समय में से सौंफ (fennel seeds in hindi) का उपयोग माउथ फ्रेशनर और कई साड़ी परेशानियो से छुटकारा दिलाने के लिए किया जाता है| सौंफ के पौधे की ऊंचाई लगभग एक मीटर की होती है, कुछ घरो में सौंफ के पत्तों का इस्तेमाल सब्जी के रूप में भी होता है। भूमध्य इलाके में सौंफ जैसा ही एक और पौधा (fennel in hindi) पाया जाता है जिसे एनीसीड (aniseed in hindi) के नाम से जाना जाता हैं,  एनीसीड (aniseed in hindi) का इस्तेमाल इटालवी भोजन बनाने में होता है।

fennel seeds in hindi

सौंफ के फायदे, benefits of fennel seeds in hindi, benefits of aniseed in hindi, fennel meaning in hindi

सौंफ दिखने में भले ही बहुत छोटी सी है, लेकिन इसके औषधीय गुणों की वजह से सौंफ (aniseed in hindi) हमारे शरीर के साथ साथ कई सारी परेशानियो को दूर करने में सहायक साबित होते है| चलिए अब हम आपको सौंफ के फायदों के बारे जानकारी उपलब्ध करा रहे है – 

1 – गैस की परेशानी को दूर करने में सौंफ के फायदे (Saunf Benefits to Treats Acidity in Hindi)

गैस की समस्या बहुत ही आम है और इस परेशानी का सामना अधिकतर इंसान कर रहे है, अगर आप भी गैस की परेशानी का सामना कर रहे है तो सौंफ आपके लिए किसी वरदान से कम नहीं है| खाना खाने के बाद सौंफ का सेवन करने से गैस की परेशानी में लाभ प्राप्त होता है| बच्चो में गैस की समस्या ज्यादा होती है थोड़े से सौंफ के बीजों (fennel in hindi) को पीसकर चटनी बना लें, फिर इस चटनी को बच्चे की आयु के अनुसार चटनी की मात्रा का सेवन कराने से जल्द डकार और पेट की गैस की समस्या में आराम प्राप्त होता है| हालाँकि सौंफ का कोई दुष्प्रभाव देखने को नहीं मिलता है लेकिन बच्चो को सौंफ की चटनी देने से पहले बच्चो के डॉक्टर से परामर्श जरूर लें|

2 – सिरदर्द की परेशानी को दूर करने में सौंफ के फायदे (Saunf Benefits to Get Relief from Headache in Hindi)

सिरदर्द की परेशानी का सामना लगभग सभी इंसान ने कभी ना कभी किया ही होता है, आमतौर पर सिरदर्द की परेशानी कोई बड़ी समस्या नहीं होती है| अगर आप भी सिरदर्द की परेशानी से पीड़ित है तो सौंफ आपके लिए लाभकारी साबित हो सकती है, सौंफ में मौजूद औषधीय गुण सिरदर्द की परेशानी को कम करने में सहायक साबित होते है| थोड़ी सी सौंफ (saunf in hindi) को थोड़े से पानी के साथ महीन पीस कर पेस्ट बना लें, फिर इस पेस्ट को माथे पर लगाने से सिरदर्द की परेशानी में आराम प्राप्त होता है। अगर आप चटनी बनाने में असमर्थ है तो आप सौंफ का सेवन भी कर सकते है ऐसा करने से भी आपको सिरदर्द से आराम प्राप्त हो सकता है| 

3 – आँखों की रौशनी बढ़ाने में सौंफ के फायदे (Benefits of Saunf to Cure Eye Disease in Hindi)

बढ़ती उम्र के साथ आँखों की रौशनी कमजोर होना स्वभाविक होता है लेकिन अगर कम उम्र में आपकी आँखों की रौशनी कमजोर हो जाती है तो आपको इसका उपाए जरूर करना चाहिए| सौंफ में मौजूद औषधीय गुण और जरुरी पोषक तत्व आँखों की रौशनी बढ़ाने के साथ साथ आँखों के अन्य रोगो में भी लाभकारी साबित हो सकते है| लगभग दो ग्राम सौंफ (aniseed in hindi ) को पीस कर चूर्ण बना लें फिर लगभग 60 मिलीग्राम खसखस लेकर महीन पीसकर चूर्ण बना लें, अब सौंफ और खसखस के चूर्ण को अच्छी तरह से मिलाकर सेवन कर लें| इस उपाय को नियमित रूप से करने से जल्द आपकी आँखों की रौशनी में फर्क दिखाई देने लगेगा और आँखों से सम्बंधित अन्य कोई परेशानी है तो वो भी दूर होने में लाभ प्राप्त होता है|

4 – जुकाम की समस्या को दूर करने में सौंफ के फायदे (Uses of Saunf to Cure Common Cold in Hindi)

जुकाम की समस्या किसी भी इंसान को कभी भी हो सकती है, जुकाम की परेशानी बहुत ही आम होती है| हालाँकि जुकाम कोई घातक या बड़ी बिमारी नहीं है लेकिन जुकाम होने पर इंसान काफी परेशान या बेचैन रहता है, सौंफ में मौजूद औषधीय गुण जुकाम की परेशानी को समाप्त करने में सहायक साबित होते है| जुकाम की परेशानी में सौंफ (aniseed in hindi) का काढ़ा पीने से आपको जल्द लाभ प्राप्त होते है|

5 – गले की सूजन को कम करने में सौंफ के फायदे (Saunf Beneficial in Cough in Hindi)

अगर आपको खांसी या गले में सूजन की परेशानी है तो सौंफ आपके लिए लाभकारी साबित हो सकती है| अगर आप गले की सूजन से परेशान है तो अंजीर और सौंफ (fennel in hindi) का साथ में खाने से सूखी खाँसी और गले की सूजन से जल्द आराम प्राप्त होता है|

6 – मुँह के छाले समाप्त करने में में fennel seeds के फायदे (Saunf Uses in Oral Problem Treatment in Hindi)

आमतौर पर मुंह में चालो की समस्या पेट ख़राब या पेट में गर्मी की वजह से होती है, सौंफ (aniseed in hindi) में मौजूद औषधीय गुण और पोषक तत्व मुँह के छालो को समाप्त करने में सहायक होते है| सबसे सौंफ का काढ़ा बना लें फिर इसमें थोड़ी सी फिटकरी डालकर अच्छी तरह से घोल लें, जब फिटकरी अच्छी तरह से घुल जाएं तो उस मिश्रित पानी से गरारे कर लें दिन में दो बार इस उपाय को करने से जल्द मुँह के छालो की समस्या से आराम मिलता है|

7 – हकलाने की समस्या को कम करने में सौंफ (aniseeds in hindi) के फायदे (Uses of Saunf in Stuttering Problem in Hindi)

वैसे हकलाने की समस्या बच्चो में ज्यादा देखने को मिलती है, सौंफ में मौजूद औषधीय गुण हकलाने की परेशानी को कम करने में सहयाक होते है| सबसे पहले सौंफ का काढ़ा बना लें, फिर उस काढ़े में से लगभग 20 मिलीग्राम सौंफ का काढ़ा, थोड़ी सी मिश्री को गाय के दूध में अच्छी तरह से मिलाकर पीने से जल्द हकलाने की समस्या में आराम मिलता है|

8 – पेचिश की परेशानी में सौंफ (fennel seeds meaning in hindi ) के फायदे (Saunf Benefits to Stop Dysentery in Hindi)

अगर आप पेचिश की समस्या से ग्रसित है और आप अपनी इस परेशानी कोई घरेलू उपाय सर्च कर रहे है तो सौंफ आपके लिए बेहतर विकल्प साबित हो सकता है| सौंफ (fennel seeds meaning in hindi) में मौजूद औषधीय गुण पेचिश की समस्या को समाप्त करने में सहायक हो सकते है| सबसे पहले चौथाई चम्मच सौंफ को तवे पर भून लें, चौथाई चम्मच भुनी हुई सौंफ और चौथाई चम्मच बिना भुनी सौंफ (aniseed in hindi) में 2 ग्राम बिना भुनी सौंफ के साथ साथ आधी चम्मच मिश्री को अच्छी तरह से मिलाकर सेवन करने से जल्द पेचिश की समस्या में लाभ प्राप्त होता है।

9 – मूत्र से सम्बंधित परेशानियो में सौंफ के फायदे (Saunf Treats Urinary Problem in Hindi)

आज के समय मूत्र से सम्बंधित परेशानियो का सामना काफी ज्यादा इंसान कर रहे ऐसे में आपकी इस परेशानी से छुटकारा दिलाने में सौंफ (aniseed in hindi) लाभकारी साबित हो सकती है| थोड़े से सौंफ पत्तो को अच्छी तरह से धो लें, फिर उन्हें पीस कर छान लें, निकले हुए रस में लगभग 5 मिलीग्राम रस का सेवन नियमित रूप से करने से जल्द मूत्र से सम्बंधित परेशानियो में लाभ प्राप्त होता है|

10 – मासिक धर्म से सम्बंधित परेशानियो में सौंफ (fennel seeds meaning in hindi) के फायदे (Saunf Beneficial in Menstrual Disorder in Hindi)

मासिक धर्म के समय होने वाली परेशानी जैसे – मासिक धर्म का कम या ज्यादा आना, मासिक धर्म के समय दर्द होना, ब्लीडिंग ज्यादा होना इत्यादि का सामना अधिकतर महिलाएँ करती है| अगर आप भी ऐसी ही किसी परेशानी का सामना कर रहे है तो सौंफ आपके लिए लाभकारी साबित हो सकती है| सौंफ (aniseed in hindi) में मौजूद पोषक तत्व और गुण मासिक धर्म से सम्बंधित परेशानियो को दूर करने में सहायक होते है, सौंफ में शहद मिलाकर पीने से मासिक धर्म विकार जल्द समाप्त होने लगते है

11 – महिलाओं में दूध को बढ़ाने में fennel seeds के फायदे  (Sauf is Beneficial for Breastfeeding Women in Hindi)

स्तनपान करने वाली कुछ महिलाओ में कम दूध आने की परेशानी हो जाती है ऐसी स्थिति में शिशु भी भूखा रह जाता है| अगर आप भी कम दूध बनने की परेशानी का सामना कर रही है तो सौंफ आपके लिए फायदेमंद साबित हो सकती है| सौंफ में मौजूद औषधीय गुण और पोषक तत्व महिलाओ के शरीर में दूध को बढ़ाने में मददगार साबित होते है, सबसे पहले सौंफ (fennel meaning in hindi) के पत्तों को अच्छी तरह से धोकर पीस लें, फिर उन्हें छानकर रस निकाल लें| छने हुए रस में से 10 मिलीग्राम रस 200 मिलीग्राम दूध में डालकर अच्छी  तरह से मिलाकर पीने से कम दूध आने की परेशानी जल्द समाप्त हो जाती है|

11 – गठिया का इलाज करने में सौंफ के फायदे (Saunf Benefits in Treating Arthritis in Hindi)

अगर गठिया की परेशानी से पीड़ित है तो सौंफ (fennel meaning in hindi) आपकी इस परेशानी से आराम दिलाने में लाभकारी साबित हो सकती है| गठिया की परेशानी को दूर करने के लिए वच, सहजन, गोक्षुर, सौंफ, वरुण, सहदेवी, वर्षाभू, हींग, शटी,  गंधप्रसारिणी और अग्निमंथ फल सभी को बराबर मात्रा में पीस कर पेस्ट बना लें, फिर इस पेस्ट को थोड़ा सा गर्म करके लेप लगाने से जल्द आराम मिलता है| सौंफ के फायदे (benefits of saunf) का पूर्ण लाभ लेनेके लिए वेध या चिकित्सक से परामर्श और दवा की उचित मात्रा की जानकारी के बाद लेप करने से जल्द लाभ प्राप्त होता है|

12 – मुँहासे की परेशानी को दूर करने में सौंफ के फायदे (Uses of Saunf in Relief from Acne in Hindi)

चेहरे पर मुहांसे होना बहुत ही आम बात है, मुहांसो की परेशानी किसी भी महिला या पुरुष के साथ हो सकती है| मुहांसे होने पर कई बार इन्सान को दर्द की शिकायत भी हो सकती है, अगर आप भी मुहांसो की समस्या से परेशान है तो सौंफ आपके लिए लाभदायक (saunf ke fayde for skin) हो सकती है| सौंफ में मौजूद गुण और पोषक तत्व मुहांसो को समाप्त करने में सहायक होते है, सबसे पहले थोड़ी सी सौंफ को पीसकर पेस्ट बना लें फिर इस पेस्ट को चेहरे और मुहांसो पर लगा लें| 20 से 30 मिनट सौंफ का पेस्ट लगा रहने दें उसके बाद साफ़ पानी से चेहरा धो लें, इस उपाय को करने से बहुत जल्द आपको मुहांसो की परेशानी से छुटकारा मिलता है|

13 – दर्द को दूर करने में fennel seeds के फायदे (Saunf Help in Treating Body Pain in Hindi)

शरीर में दर्द होना बहुत ही आम परेशानी है, दर्द होने के कई सारे कारण हो सकते है| अगर आपके शरीर में दर्द की शिकायत है तो सौंफ (aniseed in hindi) आपके लिए फायदेमंद हो सकती है| सौंफ के पत्तो में मौजूद दर्द निवारक गुण आपके शरीर के दर्द को दूर करने में सहायक साबित हो सकते है| सबसे पहले थोड़े से सौंफ के पत्तो को अच्छी तरह से धोकर पीस लें, फिर उन्हें छानकर रस निकाल लें| छने हुए रस में से लगभग 10 मिलीग्राम रस का सेवन करने से शरीर के दर्द से आराम मिलता है।

14 – नींद ज्यादा आने की समस्या को दूर करने में सौंफ के फायदे (Saunf Cure Insomnia in Hindi)

अगर आपको नींद बहुत ज्यादा आ रही है तो आपकी इस परेशानी को दूर करने में सौंफ लाभकारी (saunf ke fayde for skin) साबित हो सकती है| सबसे पहले सौंफ का काढ़ा बना लें फिर उसमे से लगभग 20 मिलीग्राम काढ़े में थोड़ा सा नमक अच्छी तरह से मिलाकर पीने से नींद ज्यादा आने की परेशानी से छुटकारा प्राप्त होता है|

15 –  वजन घटाने में सौंफ के फायदे (benefits of fennel seeds for Weight Loss in Hindi)

वजन घटाने के लिए इंसान काफी ज्यादा परेशान रहता है, लेकिन कई आप जानते है की वजन घटाने में भी सौंफ (saunf benefits for weight loss in hindi) फायदेमंद होती है| सौंफ में मौजूद फाइबर और अन्य पोषक तत्व वजन कम करने में मददगार साबित होते है, सौंफ का पानी हल्का गर्म करके सुबह सुबह पीने से जल्द लाभ प्राप्त होता है|

16 – याददाश्त बढ़ाने में सौंफ के फायदे (fennel seeds Beneficial to Boost Memory in Hindi)

बढ़ती उम्र के साथ याददाश्त कमजोर होना सामान्य बात होती है, लेकिन कम उम्र में याददाश्त कमजोर होना चिंता का विषय होता है| अगर आपकी याददाश्त कमजोर हो गई है तो सौंफ आपके लिए लाभकारी साबित हो सकती है| सौंफ (aniseed in hindi) में मौजूद पोषक तत्व और बल्य गुण मस्तिष्क और मस्तिष्क की नसों को मजबूती प्रदान करने में सहायक होते है| नियमित रूप से सौंफ़ का सेवन करने से जल्द आपकी याददाश्त में लाभ मिलता है।

17 – कोलेस्ट्रॉल को कंट्रोल करने में सौंफ खाने के फायदे (Saunf Beneficial to Control Cholesterol in Hindi)

सौंफ खाने के फायदे कोलेस्ट्रॉल की परेशानी को कंट्रोल में भी देखे जा सकते है| शरीर में ख़राब कोलेस्ट्रॉल बाद जाने पर इंसान को घातक परेशानी होने की सम्भावना प्रबल होती है| सौंफ में मौजूद औषधीय गुण और पोषक तत्व ख़राब कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को कम करने में मददगार साबित हो सकते है| नियमित रूप से सौंफ (aniseed in hindi) का सेवन करने से जल्द लाभ प्राप्त होता है|  

18 – हृदय से सम्बंधित परेशानियो को दूर करने सौंफ के फायदे (Fennel Tea Beneficial for Heart Disease in Hindi)

ह्रदय से सम्बंधित परेशानियो से बचाव करने में भी सौंफ लाभकारी साबित होती है| सौंफ में मौजूद औषधीय गुण और जरुरी पोषक तत्व ह्रदय को स्वस्थ रखने और ह्रदय से सम्बंधित परेशानियो से बचने मंं मददगार साबित होते है| नियमित रूप से सौंफ (aniseed in hindi) का सेवन या सौंफ की चाय पीने से ह्रदय स्वस्थ रहता है। 

19 – गुर्दे की पथरी में सौंफ के फायदे (Uses of Fennel Tea to Prevent Kidney Stone in Hindi)

आज के समय में काफी सारे इंसान गुर्दे की पथरी की समस्या से पीड़ित है, पथरी की वजह से होनेवाले दर्द से इंसान बेचैन हो जाता है| सौंफ (aniseed in hindi) में मौजूद एंटीयूरोलिथियासिस गुण गुर्दे की पथरी को समाप्त करने में मदद्गारसबिट हो सकते है| नियमित रूप से सुबह और शाम सौंफ की चाय पीने से जल्द आराम मिलता है। 

20 – प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत बनने में सौंफ के फायदे ( Fennel Beneficial to Boost Immunity in Hindi)

आज के समय में हर इंसान अपने शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत बनाना चाहता है| सौंफ (aniseed in hindi) में मौजूद औषधीय गुण और पोषक तत्व प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत बनाने में सहायक साबित होते है| नियमित रूप से सौंफ का सेवन करने से जल्द लाभ मिलता है|

21 – कैंसर से बचाव करने में सौंफ के फायदे (Fennel Beneficial to Treat Cancer in Hindi)

सौंफ के बीजों (fennel seeds in hindi ) में एंटी कैंसर गुण मौजूद होते है जो कैंसर की कोशिकाओं को बढ़ने से रोकने में सहायक साबित होते है| कैंसर बहुत ही घातक बिमारी होती है इसीलिए अगर आप अपने आपको इस घातक बीमारी से बचाना चाहते है तो नियमित रूप से सौंफ (aniseed in hindi) का सेवन करना शुरू कर दें|  

22 – त्वचा को स्वस्थ रखने में सौंफ खाने के फायदे (Saunf Beneficial for Skin in Hindi)

सौंफ के बीज (fennel seeds in hindi ) के फायदे त्वचा से सम्बंधित परेशानियो जैसे झुर्रियां, बेजान त्वचा, रूखी त्वचा, पिंपल्स इत्यादि को दूर करने या त्वचा को स्वस्थ रखने में सहायक होते है| सौंफ में मौजूद औषधीय गुण और पोषक तत्व त्वचा से सम्बंधित परेशानियो को दूर में मददगार साबित होते है| नियमित रूप से सौंफ (fennel seeds in hindi)
का सेवन करने से जल्द आपको आराम प्राप्त होता है|  

23 – ब्लड को साफ़ करने में सौंफ के फायदे (Benefit of Saunf for Blood Purification in Hindi)

सौंफ (fennel seeds meaning in hindi ) में मौजूद औषधीय गुण ब्लड को साफ़ करने में सहायक होते है| किसी भी इंसान के शरीर में मौजूद रक्त अगर  ख़राब हो जाता है तो उस इंसान को कई प्रकार की परेशानियो का सामना करना पड़ सकता है| नियमित रूप से सौंफ (aniseed in hindi) का सेवन करने से खून साफ़ की साफ़ होने लगता है और शरीर में से विषैले पदार्थ पेशाब के साथ शरीर से बाहर निकलने लगते है|

सौंफ का उपयोग – How to Use Fennel Seeds in Hindi

ऊपर आपने सौंफ के बारे में और सौंफ के फायदों के बारे में पढ़ा, चलिए अब हम आपको सौंफ (fennel seeds in hindi)
को खाने का तरीका और उपयोग के बारे में जानकारी उपलब्ध करा रहे है-

  • काफी सारे घरो में सौंफ की चाय काफी पसंद की जाती है, कुछ इंसान वजन घटाने के लिए भी सौंफ की चाय सेवन करते है|
  • अधिकतर इंसान सौंफ (aniseed in hindi) का उपयोग सीधेतौर पर करते है, खाना खाने के बाद सौंफ (fennel seeds in hindi) का सेवन सबसे ज्यादा किया जाता है ऐसा करने से खाना डाइजेस्ट होने में मदद मिलती है|
  • सौंफ का उपयोग माउथ फ्रेशनर के रूप में किया जाता है, मुँह से बदबू या साँसों की दुर्गन्ध को दूर करने के लिए भी सौंफ (aniseed in hindi) का इस्तेमाल किया जाता है।
  • कुछ परेशानियो से छुटकारा प्राप्त करने के लिए सौंफ (fennel seeds in hindi) का उपयोग भून कर भी किया जाता है|
  • सौंफ (fennel seeds in hindi) का उपयोग सौंफ का पानी बनाने में भी किया जाता है, सौंफ का पानी पीने से आपको काफी सारी परेशानियो में आराम दिलाने में सहायक होता है|

सौंफ के नुकसान – Side Effects of Fennel in Hindi

सौंफ (fennel seeds meaning in hindi) के फायदे बहुत ज्यादा होते है लेकिन कुछ विशेष परिस्थिति में या सौंफ का अधिक मात्रा में सेवन करने से कुछ नुक्सान भी देखने को मिलते है| अगर आपको सौंफ के नुकसान के बारे में जानकारी नहीं है तो परेशान ना हो, अब हम आपको सौंफ के नुकसान के बारे में जानकारी उपलब्ध करा रहे है –

  • स्तनपान कराने वाली महिलाओं को सौंफ का सेवन उचित मात्रा में करना बहुत जरुरी होता है, सौंफ की तासीर की वजह से महिला और शिशु को सौंफ का अधिक सेवन करने से हानिकारक प्रभाव देखने को मिल सकता है, इसीलिए बेहतर होगा की आप सौंफ का सेवन स्त्री डॉक्टर से परामर्श के बाद करें|
  • ऐसे इंसान जिनकी त्वचा संवेदनशील होती है उन्हें सौंफ का सेवन करने से एलर्जी की परेशानी भी हो सकती है|
  • अगर आप किसी प्रकार की विशेष दवा का सेवन करते है तो आपको सौंंफ (aniseed in hindi) का सेवन अधिक मात्रा में करनेसे बचना चाहिए या डॉक्टर के परामर्श के बाद ही सौंफ का सेवन करें|
  • मधुमेह से पीड़ित इंसान को सौंफ (aniseed in hindi) का सेवन अधिक मात्रा में करने से बचना चाहिए, लो शुगर से पीड़ित इंसान को सौंफ का सेवन अधिक मात्रा में करने से परेशानी हो सकती है|
  • अगर आप लो ब्लड प्रेशर की समस्या से पीड़ित है तो आपको सौंफ (aniseed in hindi) का अधिक सेवन करने से बचना चाहिए|

सौंफ में मौजूद जरुरी पोषक तत्व

सौंफ के बारे में और सौंफ के फायदे आप ऊपर पढ़ चुके है, चलिए अब हम आपको सौंफ (fennel seeds in hindi)
में मौजूद पोषक तत्वों के बारे में जानकारी दे रहे है| सौंफ में  कोलेस्ट्रोल, सोडियम, कार्बोहाइड्रेट, फाइबर, प्रोटीन, विटामिन-ए, विटामिन-सी, विटामिन-डी, विटामिन-के, थियामिन, राइबोफ्लेविन, नाइसिन, फोलेट, कोलाइन, कैल्शियम, आयरन, मैग्नीशियम, फास्फोरस, पोटैशियम, सोडियम, जिंक, कॉपर, मैगनीज, सेलेनियम इत्यादि प्रचुर मात्रा में पाए जाते है|                       

अनेक भाषाओं में सौंफ के नाम (Name of Saunf in Different Languages)

सौंफ को Fennel seeds और aniseed के नाम से भी जाना जाता है, सौंफ का वानस्पतिक नाम फीनीकुलम वलगैरि (Foeniculum vulgare) होता है| सौंफ को दुनियाभर में अलग अलग भाषा में अलग अलग नामो से पुकारा जाता है| चलिए अब हम आपको सौंफ (aniseed in hindi)  के अन्य भाषाओ में पुकारे जाने वाले नामो की जानकारी देते है –

  • Fennel seeds in Hindi or aniseed in hindi) – सौंफ, बड़ी सौंफ (badi saunf)

  • Saunf in English –Bitter fennel, Common fennel, Fennel fruit

  • Fennel seeds in Marathi ( Saunf in Marathi or aniseed in Marathi) – Badi sepu

  • Fennel seeds in Sanskrit ( Saunf in Sanskrit or aniseed in Sanskrit) – छत्रा, शालेय,  मिश्रेया, मिसि

  • Fennel seeds in Urdu ( Saunf in Urdu or aniseed in Urdu)  –  Panamadhuri

  • Fennel seeds in Kannada ( Saunf in Kannada or aniseed in Kannada) – Badisopu, Sabbsige

  • Fennel seeds in Gujarati ( Saunf in Gujarati or aniseed in Gujarati)  – Variyaali, Valiaari

  • Fennel seeds in Telugu ( Saunf in Telugu or aniseed in Telugu) – Sopu, Pedhyajilkurra

  • Fennel seeds in Tamil ( Saunf in Tamil or aniseed in Tamil) – Sohikire, Shoumbu

  • Fennel seeds in Bengali ( Saunf in Bengali or aniseed in Bengali) – Mouri, Pan mori

  • Fennel seeds in Punjabi ( Saunf in Punjabi or aniseed in Punjabi) – Sompu, Saunf

  • Fennel seeds in Malayalam ( Saunf in Malayalam or aniseed in Malayalam) Malayalam – Perumjikam, Kattusatkuppa

  • Fennel seeds in Nepali ( Saunf in Nepali or aniseed in Nepali) – Madesi saunf

  • Fennel seeds in Arabic ( Saunf in Arabic or aniseed in Arabic) – Ejiyanaj, Aslul ejiyanaj

  • Fennel seeds in Persian ( Saunf in Persian or aniseed in Persian)  – Razianaj, Rajyana

हम आशा करते है की आपको हमारा लेख सौंफ के फायदे (fennel seeds in hindi or aniseed in hindi ) में दी गई जानकारी पसंद आई होगी| लेकिन अगर आप को सौंफ के बारे में और अधिक जानकारी प्राप्त करनी है तो आप गूगल या बिंग पर सौंफ के फायदे (fennel seeds in hindi or aniseed in hindi ) लिखकर और अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते है|

 

error: Content is protected by DCMA !!
टाइफाइड के लक्षण (typhoid symptoms in hindi) jaldi mote hone ki 5 best homeopathic dawa