web analytics
Sun. Sep 25th, 2022
anjeer ke fayde

अंजीर खाने के फायदे (anjeer ke fayde) – अंजीर को इंग्लिश में Fig के नाम से जाना जाता है, अंजीर का नाम या अंजीर के बारे में लगभग सभी इंसान जानते है लेकिन कया आप अंजीर के फायदे या अंजीर खाने के फायदे के बारे में जानते है| अगर आपका जवाब नहीं है तो हमारा यह लेख आपके लिए फायदेमंद साबित होगा| आज हम अपने इस लेख में अंजीर से सम्बंधित जानकारी उपलब्ध करा रहे है, अंजीर में मौजूद औषधीय गुण और पोषक तत्व शरीर के लिए बहुत ज्यादा लाभकारी होने के साथ साथ कई सारी बीमारियो को दूर करने में सहायक होते है|

जिन इंसानो को अंजीर खाने के फायदे (Anjeer ke fayde) के बारे में जानकारी नहीं है वो इंटरनेट पर अंजीर के फायदे, अंजीर के फायदे कया है? अंजीर खाने के फायदे कौन कौन से है? Anjeer ke fayde, Anjeer khane ke fayde, benefits of fig in hindi इत्यादि लिखकर सर्च करते है, अंजीर के फायदे बताने से पहले हम आपको अंजीर के बारे में जानकारी उपलब्ध करा रहे है –

Table of Contents

अंजीर क्या है (What is Fig in Hindi)

यह तो हम सभी जानते है अंजीर एक सूखा फल होता है। अंजीर का सेवन आप फल की तरह और सूखे मेवे की तरह कर सकते है, अंजीर दोनों रूपों में मिलती है| अंजीर मुख्य रूप से दो तरह की होती है –

  • सूखे मेवे वाली अंजीर – इस प्रकार की अंजीर की खेती की जाती है और इस प्रकार की अंजीर के पत्ते और फल बड़े बड़े होते हैं। आमतौर पर बाजार में यह वाली अंजीर ही बिकती है|
  • जंगली अंजीर –  इस प्रकार की अंजीर आमतौर पर छोटी होती है और इस अंजीर के फल और पत्ते खेती वाली अंजीर से छोटे होते है|
  • Name of Fig in Hindi or  Name of Anjeer in Hindi (Anjeer meaning in Hindi) – अंजीर
  • Name of Anjeer in English –  फीग (Fig), ब्राउन टर्की फिग (Brown turkey fig)
  • Name of Fig in Sanskrit or Name of Anjeer in Sanskrit – फल्गुजम्,  अंजीरकम्
  • Name of Fig in Urdu or Name of Anjeer in Urdu – अंजीर (Anjeer)
  • Name of Fig in Oriya or Name of Anjeer in Oriya – पुष्पोषुन्यो (Pushposhunyo)
  • Name of Fig in Konkani or Name of Anjeer in Konkani – पन्गारा (Pangara)
  • Name of Fig in Kannada or Name of Anjeer in Kannada – अंजूरा (Anjura)
  • Name of Fig in Gujarati or Name of Anjeer in Gujarati – अंजीर (Anjeer)
  • Name of Fig in Tamil or Name of Anjeer in Tamil – सीमईयट्टी (Simaiyatti),  सिमाअली (Simaali)
  • Name of Fig in Telugu or Name of Anjeer in Telugu – अंजुरा (Anjura), अंजठ (Anjath)
  • Name of Fig in Bengali or Name of Anjeer in Bengali – अंजीर (Anjeer)
  • Name of Fig in Punjabi or Name of Anjeer in Punjabi – फेगेरी (Fegeri)
  • Name of Fig in Marathi or Name of Anjeer in Marathi – अंजीर (Anjeer)
  • Name of Fig in Malayalam or Name of Anjeer in Malayalam – सीमायट्टी (Simayatti)
  • Name of Fig in Nepali or Name of Anjeer in Nepali – फालेदो (Faledo)
  • Name of Fig in Arabic or Name of Anjeer in Arabic – तेन (Tain)
  • Name of Fig in Persian or Name of Anjeer in Persian – अंजीर (Anjir)

anjeer ke fayde

अंजीर के फायदे | anjeer ke fayde | Benefits of Fig in Hindi

अंजीर खाने के फायदे बहुत सारे होते है, अंजीर काफी सारी बीमारियो के लक्षण को कम करने में सहायक होती है| चलिए अब हम आपको अंजीर के फायदे के बारे में जानकारी उपलब्ध करा रहे है

पाचनतंत्र को बेहतर बनाने में अंजीर के फायदे (Benefits of Anjeer Fruit in Indigestion  Treatment in Hindi)

पाचन तंत्र से सम्बंधित परेशानी जैसे अपच, कब्ज इत्यादि का सामना अधिकतर इंसान कर रहे है, ऐसे में अंजीर आपके लिए लाभकारी साबित हो सकती है| अंजीर में मौजूद औषधीय गुण पाचन तंत्र को बेहतर बनाने में सहायक होते है| नियमित रूप से अंजीर का सेवन करने से जल्द पाचन तंत्र से सम्बंधित समस्याओ से आराम मिलता है|

पेट की जलन या एसिडिटी में अंजीर के फायदे (Acidity : Benefits of Fig in Hindi)

पेट में जलन की परेशानी किसी भी महिला या पुरुष को कभी हो सकती है हालाँकि आमतौर पर ज्यादा तीखा या मसालेदार आहार लेने के बाद पेट में जलन की समस्या ज्यादा देखने को मिलती है| पेट में जलन या एसिडिटी से छुटकारा पाने के लिए एक या दो सूखी अंजीर को गुड़ में मिलाकर खाने से जल्द जलन की समस्या से आराम मिलता है।

कब्ज में अंजीर के फायदे (Constipation : Benefits of Fig in Hindi)

कब्ज की परेशानी को दूर करने में भी अंजीर के फायदे देखने को मिलते है, कब्ज एक ऐसी बिमारी है जिसका सही समय पर इलाज ना किया जाएं तो कब्ज की वजह से कई गंभीर बीमारियां होने की प्रबल सम्भावना होती है| कब्ज का इलाज करने के लिए नियमित रूप से एक या दो ताज़ी अंजीर का सेवन करने से जल्द फायदा मिलता है।

सर दर्द में अंजीर के फायदे (Headache : Benefits of Fig in Hindi)

यह तो हम सभी जानते है की अंजीर बहुत लाभकारी होती है लेकिन कया आप जानते है की अंजीर के फल की तरह अंजीर के पेड़ की छल भी लाभकारी होती है| पेड़ की छल में मौजूद तत्व सर दर्द से आराम दिलाने में सहायक होते है, सबसे पहले अंजीर के पेड़ की छाल को पीस कर पेस्ट बना कर सिर पर लेप लगाने से जल्द सिर दर्द से राहत प्राप्त होती है।

खूनी बवासीर का इलाज में अंजीर के फायदे  (Piles : Benefits of Fig in Hindi)

बवासीर एक गंभीर बिमारी होती है, बवासीर की परेशानी से पीड़ित इंसान को काफी सारी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। लेकिन कया आप जानते है की बवासीर में अंजीर के फायदे या अंजीर से बवासीर का इलाज भी किया जा सकता है| अंजीर से खूनी बवासीर का इलाज करने के लिए दो से तीन सूखी अंजीर लेकर पानी में भिगो कर रात भर के लिए छोड़ दें, अगली सुबह भीगी हुई अंजीर का सेवन कर लें| नियमित रूप से इस उपाय को करने से जल्द खूनी बवासीर में लाभ मिलता है।

पेचिश रोग में अंजीर खाने के फायदे (Anjeer Benefits in Dysentery in Hindi)

अंजीर खाने के फायदे आपको पेचिश में भी देखने को मिलते है, अगर आप पेचिश की समस्या से पीड़ित है तो अंजीर आपके लिए लाभकारी साबित होती है| नियमित रूप से उचित मात्रा में अंजीर का सेवन करने से जल्द पेचिश की समस्या आराम मिलता है|

आंतों की सूजन दूर करने में अंजीर के फायदे  (Fig Reduces Inflammation of the Intestine in Hindi)

किसी भी इंसान की आंतो में सूजन की समस्या होने पर कई सारी परेशानियो का सामना करना पड़ता है| अंजीर में मौजूद औषधीय गुण और पोषक तत्व आंतो को स्वस्थ रखने में सहायक होते है और अगर आपकी आते स्वस्थ है तो आप कई रोगों से बचा सकते है। नियमित रूप से दो या तीन सूखी अंजीर का सेवन करने से जल्द आंत स्वस्थ होती है और आंत में अगर सूजन की समस्या है तो सूजन से भी आराम मिलता है|

शारीरिक कमजोरी दूर करने में अंजीर के फायदे (Anjeer Helps to Fight Weakness in Hindi)

आज के समय में काफी सारे पुरुष और महिला शारीरिक कमजोरी की परेशानी का सामना कर रहे है ऐसे में शारीरिक कमजोरी को दूर करने में अंजीर के फायदे देखे जा सकते है| अंजीर में मौजूद औषधीय गुण और पोषक तत्व शारीरिक कमजोरी को दूर करने के लिए बहुत ज्यादा असरदायक होते है, शारीरिक कमजोरी को दूर करने के लिए सबसे पहले दो या तीन सूखी अंजीर को पानी में भिगो कर रात भर के लिए रख दें, फिर अगली सुबह भीगी हुई अंजीर का सेवन कर लें| नियमित रूप से भीगी हुई अंजीर खाने से जल्द शारीरिक कमजोरी दूर हो जाती है|

मुंह के रोगों में अंजीर के फायदे (Oral Problems : Benefits of Fig in Hindi)

अंजीर खाने के फायदे बहुत सारे होते है, लेकिन कया आप जानते है की अंजीर मुंह से सम्बंधित समस्याओ को दूर करने में मददगार होती है| सबसे पहले एक गिलास पानी को गर्म होने के लिए रख दें उसके बाद अंजीर के सूखे फल (dried figs) को अच्छी तरह से पीस कर पानी में दाल दें, पानी को अच्छी तरह से उबाल लें, जब पानी अच्छी तरह से उबल जाएं तो गैस बंद कर दें| पानी ठंडा होने पर छान लें, फिर इस पानी से गरारे कर लें| नियमित रूप से इस काढ़े से गरारे करने से मुंह से सम्बंधित परेशानी जैसे मुंह के अंदर होने वाली फुन्सियां, मुंह आना इत्यादि जल्द दूर हो जाती है|

दमा में अंजीर के फायदे (Benefits of Anjeer in Asthma Treatment in Hindi)

दुनियाभर में दमा के मरीजों की संख्या दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है, भारत में भी दमा के मरीजों की संख्या काफी ज्यादा हो गई है| दमा की परेशानी एक गंभीर बिमारी होती है जिसका सही समय पर इलाज करना बहुत ज्यादा जरुरी है, लेकिन कया आपको पता है की अंजीर से भी दमा का इलाज किया जा सकता है| सबसे पहले सूखी अंजीर और गोरख इमली चूर्ण को बराबर बराबर मात्रा लेकर दोनों को अच्छी तरह से मिलाकर किसी जार में रख लें, फिर नियमित रूप से इस मिश्रण में से एक या दो ग्राम मिश्रण का सेवन सुबह करने से जल्द दमा की परेशानी में आराम मिलता है|

पुरानी खांसी का इलाज करने में अंजीर के फायदे (Anjeer Benefits in Chronic Cough in Hindi)

अगर आप खांसी की समस्या से पीड़ित है तो हम आपको बता दें की अंजीर से पुरानी से पुरानी खांसी का उपचार कर सकते है, अंजीर से खांसी का इलाज करने के लिए पकी हुई अंजीर और शहद को अच्छी तरह से मिलाकर सेवन करें| शहद के साथ अंजीर खाने से खांसी और बलगम की समस्या में भी आराम मिलता है| (और अधिक पढ़ें – पतंजलि खांसी की दवा का नाम )

टीबी रोग में अंजीर के फायदे (Anjeer Uses in Fights with T.B Disease in Hindi)

भारत में टीबी के मरीज काफी ज्यादा हो गए हालाँकि आज के समय में टीबी का इलाज उपलब्ध है, टीबी की रोकथाम करने और पब्लिक को जागरूक करने के लिए राज्य और केंद्र सरकार काफी सारे कार्यक्रम चला रही है| लेकिन कया आप जानते है की अंजीर में मौजूद गुण टीबी की रोकथाम करने में सहायक होते है, इसीलिए टीबी के मरीज को नियमित रूप से एक अंजीर फल का सेवन करना चाहिए, ऐसा करने से जल्द लाभ मिलता है|

सूजन की समस्या को दूर करने में अंजीर के फायदे (Anjeer Helps in Reducing Body Inflammation in Hindi)

शरीर के किसी भी अंग में सूजन की परेशानी आ सकती है हालाँकि सबसे पहले आपको सूजन आने के कारण के बारे में जानना चाहिए| अंजीर में मौजूद औषधीय गुण सूजन की समस्या से राहत दिलाने में सहायक होते है, सबसे पहले हरे सूखे अंजीर को लेकर अच्छी तरह से पीस लें, फिर एक कप पानी में पीसे हुए अंजीर को डालकर अच्छी तरह से उबाल लें| जब पानी उबल कर आधा रह जाएं तो गैस बंद कर दें और जब पानी गुनगुना रह जाएं तो इस पानी का लेप सूजन वाली जगह पर करने से जल्द आराम मिलता है|

एक्जिमा का इलाज करने में अंजीर के फायदे  (Anjeer Benefits for Eczema in Hindi)

त्वचा से सम्बंधित परेशानी को भी दूर करने में अंजीर के फायदे देखे जा सकते है, अगर आपके शरीर की त्वचा पर चकते और उन चकतों में खुजली की परेशानी हो रही है तो इस परेशानी को एक्जिमा कहा जाता है| एक्जिमा का इलाज करने में अंजीर के पत्ते काफी मददगार साबित होते है, सबसे अंजीर के पत्तो को लेकर अच्छी तरह से धोकर उन्हें पीस कर पेस्ट बना लें फिर इस पेस्ट को एक्जिमा वाली जगह पर अच्छी तरह से लगा लें| नियमित रूप से इस उपाय को करने से जल्द आराम मिलता है|

अंजीर से मस्से का इलाज कैसे करें (Benefits of Anjeer Fruit in Healing Warts in Hindi)

मस्से की समस्या का सामना भी काफी सारे पुरुष और महिला कर रहे है, अगर आप भी मस्से का इलाज करना चाहते है तो अंजीर आपके लिए फायदेमंद होती है| कच्ची अंजीर को तोड़ते समय निकलने वाले दूध को मस्से पर लगाने से जल्द मस्से की समस्या से आराम मिलता है|

महिलाओं के लिए अंजीर के फायदे (Anjeer Benefits for Female in hindi)

महिलाओं के लिए अंजीर के फायदे (Anjeer Benefits for Female in hindi) – यह तो हम सभी जानते है की पुरुषो के मुकाबले महिलाओ का शरीर अलग होता है, अधिकतर महिलाऐं अपनी परेशानी को छुपाती है और खुद ही घरेलू उपाय अपनाकर अपनी बिमारी का इलाज करती है| हालाँकि यह बिल्कुल गलत है अंजीर महिलाओ के लिए भी काफी फायदेमंद जाती है चलिए अब हम आपको महिलाओ के लिए अंजीर के फायदे के बारे में जानकारी उपलब्ध करा रहे है|

मेनोपॉज की समस्याओं को दूर करने में अंजीर के फायदे (benefits of fig in hindi)

मेनोपॉज में होने वाली परेशानी का सामना अधिकतर महिलाऐं करती है, अगर आप मेनोपॉज में होने वाले परेशानी या मेनोपॉज के बाद होने वाली समस्या का सामना कर रहे है तो आपके लिए अंजीर बहुत ज्यादा लाभकारी साबित हो सकती है| अंजीर में मौजूद औषधीय गुण और तत्व मेनोपॉज की परेशानी को दूर करने में सहायक होते है, नियमित रूप से अंजीर खाने से जल्द आराम मिलता है|

स्तन कैंसर में अंजीर के फायदे (benefits of fig in hindi)

आज के समय काफी सारी महिलाऐं स्तन कैंसर की समस्या का सामना कर रही है ऐसे में अंजीर आपके लिए लाभकारी हो सकती है| नियमित रूप से अंजीर का सेवन करने से आपको लाभ मिल सकता है क्योंकि अंजीर में मौजूद गुण और तत्व स्तन कैंसर को होने से रोकने में असरदायक होते है| लेकिन हम आपको सलाह देंगे की स्तन कैंसर के लक्षण दिखाई देने पर तुरंत डॉक्टर से परामर्श लें, उसके बाद अंजीर का सेवन करें|

प्रजनन क्षमता बढ़ाने में अंजीर के फायदे (benefits of fig in hindi)

अंजीर में मौजूद औषधीय गुण और जिंक, मैंगनीज, मैग्नीशियम और आयरन इत्यादि पोषक तत्व प्रजनन क्षमता बढ़ाने में सहायक होते है| इसीलिए अगर आप भी अपनी प्रजनन क्षमता को बेहतर बनाना चाहते है तो नियमित रूप से अंजीर का सेवन शुरू कर दें|

पीसीओडी में अंजीर के फायदे (PCOD : benefits of fig in hindi)

पीसीओडी की समस्या महिलाओ में ही देखने को मिलती है, आज के समय में काफी सारी इस समस्या से जूझ रही है| ऐसे में अगर आप भी pcod की समस्या से पीड़ित है और कोई घरेलू उपाय सर्च कर रहे है तो अंजीर आपके लिए बेहतरीन विकल्प साबित हो सकती है| अंजीर में मौजूद गुण और तत्व महिलाओं में पीसीओडी की परेशानी को दूर करने में सहायक होते है, नियमित रूप से अंजीर का सेवन करने से जल्द आराम मिलता है|

गर्भवती महिलाओं के लिए अंजीर के फायदे, गर्भावस्था में अंजीर खाने के फायदे | Anjeer Ke Fayde In Pregnancy

किसी भी महिला के लिए गर्भावस्था बहुत ही महत्पूर्ण होती है क्योंकि इस समय पर महिलाओ का ख्याल रखना बहुत ज्यादा जरुरी होता है| गर्भावस्था में खान पीन का विशेष ख्याल रखा जाता है क्योंकि महिला जो भी खाती है उसका असर उसके अंदर पल रहे शिशु पर भी पड़ता है| काफी सारी महिलाओ के मन में यह सवाल रहता है की गर्भावस्था में अंजीर खानी चाहिए या नहीं, गर्भावस्था में अंजीर फायदेमंद है या नहीं, प्रेग्नेंसी में अंजीर कैसे खानी चाहिए, प्रेग्नेंसी में कितनी अंजीर खा सकते है इत्यादि| तो हम आपको बता दें की प्रेग्नेंसी में आप अंजीर खा सकते है लेकिन उचित मात्रा में, अधिक मात्रा में अंजीर का सेवन करने से आपको नुक्सान हो सकते है, चलिए अब हम आपको प्रेग्नेंसी में अंजीर के फायदे के बारे में जानकारी उपलब्ध करा रहे है

भ्रूण के विकास में अंजीर के फायदे (benefits of fig in hindi)

अंजीर में मौजूद विटामिन सी महिला के अंदर पल रहे भूर्ण के विकास में लाभकारी साबित होता है| इसीलिए सिमित मात्रा में अंजीर का सेवन करने से लाभ मिलता है|

एनीमिया में अंजीर के फायदे (benefits of fig in hindi)

प्रेग्नेंसी में महिला के शरीर में खून की कमी होना आम बात है, खून की की कमी को एनीमिया कहा जाता है| शरीर में ब्लड की कमी को दूर करने में अंजीर काफी लाभकारी होती है क्योंकि अंजीर में आयरन प्रचुर मात्रा में मौजूद होता है| इसीलिए प्रेग्नेंट महिला को अंजीर का सेवन करना लाभकारी माना जाता है|

प्रेग्नेंट महिला और भ्रूण के लिए अंजीर के फायदे (benefits of fig in hindi)

यह तो हम सभी जानते है की भूर्ण के अंगो का विकास करने के लिए महिला को पौष्टिक चीजों का सेवन करना बहुत जरुरी है| महिला के अंडाल पल रहे शिशु की हड्डियों का विकास करने के लिए कैल्शियम बहुत जरुरी होता है, अंजीर में कैल्शियम प्रचुर मात्रा में होता इसीलिए रोजाना उचित मात्रा में अंजीर खाने से भ्रूण के हड्डियों का विकास होता है|

ऑस्टियोपोरोसिस में अंजीर के फायदे (benefits of fig in hindi)

ऑस्टोपोरोसिस हड्डी से सम्बंधित रोग होता है जो महिलाओ में भी काफी देखने को मिलता है, ऑस्टोपोरोसिस बिमारी से पीड़ित इंसान की हड्डियां कमजोर हो जाती है| प्रेग्नेंसी के दौरान और प्रसव के बाद महिलाओं में ऑस्टोपोरोसिस की समस्या हो सकती है, ऐसे में कैल्शियम से भरपूर अंजीर का सेवन करने से आप इस बीमारी के खतरे से बच सकते है|

गर्भवती महिलाएं एक दिन में कितने अंजीर खा सकती हैं?

प्रेग्नेंट महिला को एक दिन में कितनी अंजीर खानी चाहिए या एक ऐसा सवाल है जो बहुत सारी महिलाओ के मन में रहता है| प्रेग्नेंसी में खान पान का खास ख्याल रखा जाता है, अंजीर की तासीर गर्म होती है इसीलिए इसका सेवन सही मात्रा में करना जरुरी है| प्रेग्नेंट महिला को अंजीर का सेवन डॉक्टर से परामर्श के बाद करना चाहिए क्योंकि आपके लिए अंजीर की कितनी मात्रा सही है इसकी सटीक जानकारी केवल डॉक्टर ही दे सकता है।

पुरुषों के लिए अंजीर के फायदे –  Figs Benefits for Men in hindi

पुरुषो के लिए अंजीर के फायदे काफी सारे होते है, अंजीर में मौजूद पोषक तत्व पुरुषो के लिए बहुत ज्यादा लाभकारी होते है| चलिए अब हम आपको पुरुषो के लिए अंजीर के फायदे या लाभ के बारे में जानकारी उपलब्ध करा रहे है

मूत्र समस्या को दूर करने में अंजीर के फायदे (Figs Benefits for Men in hindi)

आज कल की भागदौड़ भरी जिंदगी और असंतुलित भोजन की वजह से काफी सारे पुरुषो को पेशाब से सम्बंधित समस्या का सामना करना पड़ रहा है| अंजीर में मौजूद औषधीय गुण और पोषक तत्व पुरुषो की मूत्र समस्या को दूर करने में फायदेमंद होते है। नियमित रूप से अंजीर का सेवन करने से पेशाब की समस्या समस्या दूर होने के साथ साथ शरीर से हानिकारक पदार्थ भी बाहर निकल जाते है|

यौन रोगो को दूर करने की दवा है अंजीर (Figs Benefits for Men in hindi)

पुरुषो में यौन रोग की समस्या काफी ज्यादा देखने को मिलती है, ऐसे में अंजीर आपके लिए बेहतरीन विकल्प साबित हो सकती है| अंजीर में मौजूद तत्व पुरुषो में बाँझपन की समस्या या कामेच्छा की कमी इत्यादि परेशानियो को दूर करने में सहायक होते है, नियमित रूप से अंजीर का सेवन करने से पुरुषो की शारीरिक कमजोरी भी दूर होते है|

पुरुषो की प्रजनन क्षमता बढ़ाने में अंजीर के फायदे (Figs Benefits for Men in hindi)

अंजीर में मौजूद औषधीय गुण और पोषक तत्व पुरुषो की कामोत्तेजना और प्रजनन क्षमता को बढ़ाने में मददगार साबित होते है| प्राचीन समय से अंजीर का उपयोग पुरुषो की काफी सारी परेशानियो को दूर करने के लिए किया जाता है, पुरुषो की प्रजनन क्षमता बढ़ाने में अंजीर काफी ज्यादा असरदायक होती है क्योंकि अंजीर में जस्ता,  मेगनीज,  मैग्नीशियम प्रचुर मात्रा में मौजूद होते है|

अल्जाइमर में अंजीर के फायदे (Figs Benefits for Men in hindi)

हालाँकि अल्जामइर की समस्या पुरुषो और महिलाओ दोनों में देखने को मिलती है लेकिन पुरुषो में अल्जाइमर की परेशानी ज्यादा देखने को मिलती है| अल्जाइमर के लक्षणों को कम करने में अंजीर बहुत ज्यादा फायदेमंद होती है, नियमित रूप से अंजीर का सेवन करने से जल्द आराम मिलता है लेकिन हम आपको सलाह देंगे की अल्जाइमर के लक्षण दिखाई देने पर सबसे पहले चिकित्सक से परामर्श लें, चिकित्सक या वैध से परामर्श के बाद ही अंजीर का सेवन करें|

सूखे अंजीर के फायदे | Benefits of Dried Figs

ताजे अंजीर के मुकाबले सूखे अंजीर खाने के फायदे ज्यादा होते है क्योंकि सूखी अंजीर में फाइबर और एंटीऑक्सीडेंट अधिक मात्रा में होते है| महिलाओं में सूखे अंजीर खाने के फायदे काफी सारे होते है जैसे हार्मोनल को संतुलित करना और मेनोपॉज के दौरान होने वाली समस्याओं से आराम दिलाने में सहायक| सूखे अंजीर खाने के फायदे अस्थमा की परेशानी को दूर करने में भी देखे जा सकते है|

सुबह खाली पेट अंजीर खाने के फायदे | Benefits of eating figs an empty stomach in the morning

यह तो हम सभी जानते है की अंजीर गुणों से भरपूर होती है, इसीलिए सुबह खाली पेट अंजीर खाने के फायदे काफी सारे होते है| कब्ज की परेशानी को दूर करने के लिए तीन या चार अंजीर रात में पानी में भिगोकर रख दें फिर अगली सुबह खाली पेट भीगी हुई अंजीर को चबाकर खा लें और बचे हुए पानी को ऊपर से पी लें, जल्द कब्ज की समस्या से आराम मिल जाएगा| सुबह खाली पेट अंजीर खाने के फायदे कई सारी परेशानियो को दूर करने में दिखता है|

दूध के साथ अंजीर खाने के फायदे – Benefits of Drinking Anjeer Milk in Hindi

दूध और अंजीर दोनों ही हमारे शरीर के लिए लाभकारी होने के साथ साथ कई सारी परेशानियो को भी दूर करने में सहायक होते है| चलिए अब हम आपको दूध और अंजीर खाने के फायदे के बारे में जानकारी उपलब्ध करा रहे है

  • त्वचा से संबंधित समस्याओ को दूर करने में|
  • पेट से सम्बंधित परेशानी जैसे डायरिया, अपच और एसिडिटी इत्यादि को दूर करने में सहायक|
  • शारीरिक कमजोरी को दूर करने में|

अंजीर और किशमिश खाने के फायदे – Benefits of Eating Anjeer and Raisins

अंजीर और किशमिश खाने के फायदे बहुत सारे है क्योंकि किशमिश और अंजीर दोनों ही पोषक तत्वों से भरपूर होने के साथ साथ शरीर के लिए भी लाभकारी होते है| अंजीर और किशमिश खाने के फायदे आप शरीर में स्फूर्ति लाने के लिए भी देख सकते है, रोजाना सुबह किशमिश और अंजीर का सेवन करने से शरीर फुर्तीला रहता है| वजन बढ़ाने के लिए किशमिश और अंजीर के फायदे देखे जा सकते है, अगर आप अपना वजन तेजी से बढ़ाने का घरेलू उपाय सर्च कर रहे है तो किशमिश और अंजीर का सेवन आज से ही शुरू कर दें, नियमित रूप से अंजीर और किशमिश खाने से जल्द आपका वजन बढ़ने लगेगा|

अंजीर को कैसे खाना चाहिए – How to Eat Anjeer in HIndi

काफी इंसानो के मन में यह सवाल होता है की अंजीर का सेवन कैसे करना चाहिए, अंजीर खाने का सबसे अच्छा समय कोण सा है या अंजीर कैसे खानी चाहिए तो हम आपको बता दें अंजीर आप किसी भी समय और कभी भी खा सकते है। अंजीर खाने का पूर्ण फायदा (benefits of Anjeer) लेने के लिए आप किसी आयुर्वेदिक डॉक्टर या वैध के परामर्श से सेवन करें| अगर आपको अंजीर खाने का सही तरीका नहीं पता है तो अब हम आपको अंजीर खाने का तरीका बता रहे है|

  • अंजीर का सेवन आप सीधेतौर पर भी कर सकते है|
  • अंजीर का कड़ा बनाकर भी इस्तेमाल कर सकते है|
  • सलाद के रूप में भी अंजीर का सेवन किया जा सकता है।

अंजीर की कीमत – Anjeer Price in Hindi

अंजीर के बारे में जानकारी प्राप्त करने के बाद आपके मन में भी यह सवाल आ रहा होगा की 1 किलो अंजीर की कीमत कितनी है या अंजीर का प्राइस कया है? तो हम आपको बता दें की अंजीर का प्राइस ऊपर नीचे हो सकते है, एक अनुमान की बात करें तो आपको एक किलो अंजीर लगभग 800 से 900 रुपये प्रति किलो मिल सकती है।

अंजीर की तासीर कैसी होती है – how does fig taste in hindi

काफी इंसान यह जानना चाहते है की अंजीर की तासीर गर्म होती है या ठंडी और अंजीर गर्म होता है कि ठंडा। तो हम आपको बता दें की अंजीर की तासीर गर्म होती है इसीलिए अंजीर का सेवन सिमित और उचित मात्रा में ही करना लाभकारी होता है| अंजीर की तासीर गर्म होने की वजह से गर्मी में इसका उपयोग कम और सर्दियों में ज्यादा किया जाता है|

अंजीर के नुकसान (Anjeer Side Effects)

हालाँकि अगर आप अंजीर का सेवन सिमित मात्रा में करेंगे तो आपको इसके नुक्सान देखने को नहीं मिलेंगे| दरसल अंजीर की तासीर गर्म होती है ऐसे में अंजीर का सेवन अधिक मात्रा में करने से आपको अंजीर के नुक्सान देखने को मिल सकते है| इसीलिए हम सलाह देंगे की अगर आप किसी भी बीमारी की दवा का सेवन कर रहे है तो अंजीर का सेवन करने से पहले वैध या डॉक्टर से परामर्श जरूर लें|

निष्कर्ष – हम आशा करते है की आपको हमारे लेख अंजीर के फायदे या पुरुष या महिलाओ के लिए अंजीर खाने के फायदे में दी गई जानकारी पसंद आई होगी लेकिन अगर आप हमारे द्वारा दी गई जानकारी से संतुष्ट नहीं है तो आप गूगल या बिंग पर अंजीर खाने के फायदे लिखकर सर्च कर सकते है|

error: Content is protected by DCMA !!
टाइफाइड के लक्षण (typhoid symptoms in hindi) jaldi mote hone ki 5 best homeopathic dawa